boltBREAKING NEWS

सीआई पर युवक से मारपीट का आरोप, एएसपी ऑफिस पर लाखोला के बाशिंदों ने किया प्रदर्शन, डीएसपी करेंगे आरोपों की जांच

सीआई पर युवक से मारपीट का आरोप, एएसपी ऑफिस पर लाखोला के बाशिंदों ने किया प्रदर्शन, डीएसपी करेंगे आरोपों की जांच

 गंगापुर बीएचएन। गंगापुर थाना प्रभारी राजूराम पलासिया पर न्याय की गुहार लेकर थाने गये युवक के साथ पट्टे से मारपीट करने के आरोप लगे हैं। इन आरोपों को लेकर आज लाखोला के बाशिंदों ने एएसपी, सहाड़ा के कार्यालय पर प्रदर्शन कर सीआई के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। इसके चलते एएसपी गोवर्धनलाल ने मामले की जांच डीएसपी गंगापुर गोपीचंद मीणा को सौंपी है। 
 लाखोला निवासी मंजू देवी पत्नी मुकेश बहेडिय़ा की अगुवाई में ग्रामीण एएसपी, सहाड़ा कार्यालय पहुंचे, जहां उन्होंने सीआई गंगापुर राजूराम के खिलाफ नारेबाजी व प्रदर्शन किया। साथ ही एएसपी गोवर्धन लाल को ज्ञापन दिया।  ज्ञापन में बताया कि  रामपाल बहेडिय़ा व उनके परिवार के मध्य जमीन को लेकर काफी समय से विवाद चल रहा है। इसे लेकर 19 नवम्बर को गेहूं की पिलाई के दौरान रामपाल  अपने साथ नारायण को लेकर खेत पर आया और उसके साथ मारपीट की। इसकी रिपोर्ट उसके पति लेकर थाने गए , जहां पर थाना प्रभारी पलासिया  ने दोनों पक्षों को 21 नवम्बर को समझौते के लिए थाने बुलाया और खाली स्टाम्प पर जबरन हस्ताक्षर करवाने के लिए दबाव बनाया। परिवादिया के पति द्वारा आपत्ति जताने पर थाना प्रभारी पलासिया ने गाली गलौज करते हुए  नरेंद्र बहेडिय़ा के साथ पट्टे से मारपीट  शुरू कर दी। थाना प्रभारी द्वारा विरोधी पक्ष के दबाव में आकर उनके साथ अन्याय किया जा रहा है। इसे लेकर ग्रामीणों ने थाना प्रभारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। साथ ही पीडि़त पक्ष के साथ 19 नवंबर को खेत पर हुई घटना को लेकर कार्रवाई की मांग की। 
उधर, एएसपी गोवर्धन लाल ने बीएचएन को दूरभाष पर बताया कि दो भाइयों के बीच जमीन का विवाद था। इसे लेकर गंगापुर पुलिस ने 151 में दोनों पक्षों को बंद कर दिया। एक पक्ष का आरोप है कि सीआई पलासिया ने उसके साथ पट्टे से मारपीट की। इस संबंध में पीडि़त पक्ष ने लाखोला के बाशिंदों के साथ एएसपी कार्यालय आकर शिकायत दी। इसे लेकर जांच डीएसपी गंगापुर को दे दी गई है।