boltBREAKING NEWS
  • भीलवाड़ा हलचल app के नाम पर किसी को जबरन विज्ञापन नहीं दें और धमकाने पर सीधे पुलिस से संपर्क करे या 7737741455 पर जानकारी दे, तथाकथित लोगो से सावधान रहें । 
  •  
  •  
  •  

मिलावटी शराब बैचने का मामला- तीन सेल्समैन गिरफ्तार, जेल भेजा, फरार दो आरोपितों की तलाश में दबिशें

मिलावटी शराब बैचने का मामला- तीन सेल्समैन गिरफ्तार, जेल भेजा, फरार दो आरोपितों की तलाश में दबिशें

 भीलवाड़ा हलचल। सरकार द्वारा ठेकों को दी जा रही रेट से भी 20 से 25 प्रतिशत कम राशि में शराब बैचकर शंका के दायरे में आये दो शराब ठेकों को आबकारी विभाग ने बेनकाब कर दिया।  पीएनटी चौराहा व सुखाडिय़ा सर्किल स्थित शराब के इन दोनों ठेकों के तीन सेल्समैनों को आबकारी विभाग की टीम ने गिरफ्तार कर न्यायाधीश के सामने पेश किया, जहां से तीनों को जेल भेज दिया गया। उधर, मामले में मुख्य आरोपित माने जा रहे दो फरार आरोपितों की तलाश में आबकारी टीम ने संभावित स्थानों पर छापा मारी की, लेकिन अभी वे हाथ नहीं लग पाये।  
आबकारी डीईओ लोकेश जोशी ने हलचल को बताया कि शहर में कुछ स्थानों पर बहुत ही कम रेट यानि 20 से 25 प्रतिशत कम रेट में अंग्रेजी शराब (इम्पीरियल ब्लू और मेकडावेल नंबर वन) की बिक्री की सूचना के बाद आबकारी विभाग ने शहरी क्षेत्र की सभी 48 वाइन शॉप पर निगाह रखकर वहां से इन दो खास ब्रांड की शराब खरीद करवाई। ऐसे में वार्ड नंबर 12 पीएनटी चौराहा व वार्ड नंबर 61 से 65 सुखाडिय़ा सर्किल की इन दुकानों पर यह सस्ता माल बैचा जा रहा था। मोके से आबकारी टीम ने शराब भी जब्त की। प्रथमदृष्टया शराब मिलावटी होना बताई जा रही है। 
डीइ्रओ जोशी ने बताया कि ठेकों पर यह मिलावटी शराब बैचने वाले तीन सेल्समैन को गिरफ्तार कर लिया गया। इनमें सेशन कोर्ट के पास रहने वाला ललित पुत्र शंकरलाल सुवालका, संजय कॉलोनी निवासी हेमंत उर्फ राजेश टांक व सत्यनारायण पुत्र भंवर सुवालका निवासी जवाहर नगर शामिल हैं। 

लेखराज व रघुवीर का नहीं लगा सुराग
डीईओ जोशी ने बताया कि शराब की दुकान से भागे लेखराज व रघुवीर का दूसरे दिन भी आबकारी विभाग को कोई सुराग हाथ नहीं लगा है। दोनों की तलाश के लिए आबकारी टीमों को अलर्ट कर दिया गया है। संभावित स्थानों पर छापेमारी की जा रही है।जोशी का कहना है कि इन दोनों के पकड़े जाने के बाद इस शराब मामले से पर्दा उठेगा।
 
लाइसेंस सस्पेंड, नोटिस जारी
जोशी का कहना है कि इस शराब मामले को लेकर दोनोंदुकानों के लाइसेंस सस्पेंड कर दिये गये हैं। साथ ही संबंधित को नोटिस भी जारी कर दिये गये। अब सुनवाई करने के बाद लाइसेंस निरस्त किये जायेंगे।  

शहर की 48 दुकानों को चेक किया तब...
कम रेट में शराब की बिक्री की शिकायतें मिलने के साथ ही आबकारी महकमा अलर्ट मोड पर आ गया था। इसके चलते टीम बनाई गई। यह टीम सस्ती शराब की सच्चाई जानने के लिए प्रयास में जुट गई। टीम ने शहरी क्षेत्र की सभी 48 दुकानों पर सर्च की। यहां तक की खास दोनों ब्रांडों की शराब की भी खरीद की। इसके चलते दोनों दुकानों की गड़बड़ सामने आई। 

 

संबंधित खबरें