boltBREAKING NEWS

कांस्टेबल पवन जाट की हत्या के मुख्य आरोपित राजू फौजी सहित आठ के खिलाफ चार्जशीट पेश

 कांस्टेबल पवन जाट की हत्या के मुख्य आरोपित राजू फौजी सहित आठ के खिलाफ चार्जशीट पेश

 भीलवाड़ा बीएचएन। रायला थाने के कांस्टेबल पवन जाट की गोली मारकर हत्या करने के मामले में मुख्य आरोपित राजू फौजी सहित आठ आरोपितों के खिलाफ जांच अधिकारी श्रीमती चंचल मिश्रा ने बुधवार को संबंधित न्यायालय में चार्जशीट पेश कर दी। अभी इस मामले में तफ्तीश जारी होने के साथ ही कुछ और लोगों की पुलिस को तलाश है। 
जांच अधिकारी श्रीमती चंचल मिश्रा ने बीएचएन को बताया कि 10 अप्रैल 21 को तस्कर राजू फौजी व सुनील डूडी दो गैंग  अलग-अलग वाहनों में मादक पदार्थ की तस्करी कर जौधपुर की ओर ले जा रही थी। इस बीच, कोटड़ी पुलिस को इस तस्करी की सूचना मिली तो पुलिस टीम ने कस्बे में ही नाकाबंदी लगाई। इस दौरान स्कॉर्पियो, बोलेरो कैंपर आदि वाहनों से आये तस्करों ने गोली चलाई, जो कोटड़ी थाने के एक कांस्टेबल औंकार रायका को लगी थी। इससे उसकी मौत हो गई। यहां से भागे इन तस्करों का रायला पुलिस से सामना हुआ तो वहां भी इन्होंने फायरिंग की और एक जवान पवन जाट की गोली मारकर हत्या कर दी थी। कांस्टेबल पवन जाट की हत्या और डोडा-चूरा तस्करी के रायला थाने में दर्ज मामले में बुघवार को मुख्य आरोपित राजू फौजी, डोडा-चूरा सप्लायर आशाराम व बलवंत धाकड़, मुख्य आरोपित को वारदात के बाद फरारी काटने के दौरान शरण देने वाले लूणाराम विश्नौई के साथ ही रायला थाने में जो डोडा-चूरा जब्त किया गया, उस डोडा-चूरा के परिवहन  में संलिप्तता पाये जाने से सुनील डूडी व  इसकी गैंग के नेताराम, रामदेव व प्रकाश के खिलाफ जांच पूरी कर जांच अधिकारी ने आज चार्जशीट संबंधित न्यायालय में पेश कर दी।  सूत्रों का कहना है कि मामले में अनुसंधान अभी जारी है। कुछ और लोगों की गिरफ्तारी भी अभी होनी है। 
उल्लेखनीय है कि पुलिस पूर्व में रायला थाने के कांस्टेबल औकार रायका की गोली मारकर हत्या करने के मामले में आरोपितों के खिलाफ कोटड़ी के एसीजेएम कोर्ट में चार्जशीट पेश कर चुकी है।