boltBREAKING NEWS

9वें बर्ड फेस्टिवल का समापन समारोह सम्पन्न

9वें बर्ड फेस्टिवल का समापन समारोह सम्पन्न

 उदयपुर। तीन दिवसीय बर्ड फेस्टिवल का समापन समारोह ओ.टी.सी. के कॉन्फ्रेंस हॉल में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि रवि सिंह सी.ई.ओ. डब्लूडब्लूएफ इंड़िया, अध्यक्ष राजपाल सिंह प्रख्यात वन्यजीव विशेषज्ञ एवं लेखक, विशिष्ट अतिथि आर.के.सिंह संभागीय मुख्य वन संरक्षक, आर.के.खैरवा मुख्य वन संरक्षक वन्यजीव, राहुल भटनागर अध्यक्ष ग्रीन पीपल सोसायटी रहे।

पर्यावरण संरक्षण सबसे अधिक महत्वपूर्ण :सिंह

सी.ई.ओ. डब्लूडब्लूएफ इंड़िया रवि सिंह ने अपने उद्बोधन में इस प्रकार के आयोजन की महत्ता तथा इससे विधार्थियों के जुड़ाव को भविष्य में वन एवं पक्षी सरंक्षण के लिए अत्यन्त महत्वपूर्ण बताया। उन्होने डब्लू.डब्लू.एफ. के इस तरह के सरंक्षण कार्यक्रम व वन्यजीव अनुसंधान के क्षेत्र में युवाओं की भागीदारी पर विशेष जोर दिया तथा ऐसे युवाओं के लिए स्कॉलरशिप भी प्रायोजित करने का उल्लेख किया।

बर्ड फेस्टिवल में उत्साहवर्धक रही आमजन की भागीदारी :चित्तौडा

राजपाल सिंह ने अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में उदयपुर बर्ड फेस्टिवल को भारत में आयोजित होने वाला श्रेष्ठ बर्ड फेस्टिवल बताया तथा इसके सफल आयोजन पर वन विभाग उदयपुर को शुभकामना प्रेषित की। कार्यक्रम के आरम्भ में अजय चित्तौड़ा उप वन संरक्षक वन्यजीव ने गत तीन दिवस में आयोजित होने वाली विभिन्न गतिविधियों पर प्रकाश डालकर उल्लेख किया कि इस वर्ष विधार्थियों विशेष रूप से युवाओं की भागीदारी अत्यन्त उत्साह वर्धक रही है एवं स्कूली विधार्थियों ने रेप्टर प्रदर्शनी, पेंटिग व क्विज प्रतियोगिताओं और पक्षी पहचान की फील्ड विजिट में हिस्सा लिया है।

प्रतियोगिताओं के विजेताओं को किया सम्मानित

कार्यक्रम में पेंटिग प्रतियोगिता के 10 विजेताओं व क्विज प्रतियोगिता के 12 विजेताओं को जूनियर व सीनियर वर्ग में पुरस्कृत किया गया। यंगेस्ट बर्डर का विजेता निरमय उपाध्याय को घोषित किया गया, जिन्हें एक बायनाकुलर दिया गया। कार्यक्रम में आर.के. सिंह ने अपने उद्बोधन में पक्षियों के संरक्षण हेतु स्थानीय जलाशयों के स्थानीय ग्रामीण जनता के सहयोग से संरक्षण पर महत्व दिया तथा वन विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को भी इस दिशा में पक्षी विशेषज्ञों के सक्रिय सहयोग से आवश्यक उपाय करने हेतु निर्देशित किया।

विशेषज्ञों ने साझा किए अनुभव

कार्यक्रम में प्रख्यात पक्षी विशेषज्ञ असद आर रहमानी ने अपने अनुभव साझा करते हुए वन्यजीव फोटोग्राफी के वक्त विशेष सावधानी बरतने को कहा ताकि वन्यजीव को एवं उसके आवास को किसी तरह का डिस्टर्बेंस नहीं हो। रजत भार्गव पक्षी विशेषज्ञ ने गुलाबबाग बर्ड पार्क में ग्रीन मुनिया के सफल प्रजनन की सफलता की कहानी को प्रेजेंटेशन के माध्यम से प्रदर्शित किया। राहुल भटनागर ने गत 9 वर्षो में बर्ड फेस्टिवल के आयोजन में उत्तरोतर आगे विस्तार को रेखांकित कर प्रसन्नता व्यक्त की।

प्रख्यात पर्यावरण विद् डॉ सतीश शर्मा ने कार्यक्रम का संचालन किया एवं वन्य एवं वन्यजीव संरक्षणक के सबंध में रोचक जानकारी उपलब्ध कराई। कार्यक्रम के दौरान गत दिवस को विभिन्न पाँच रूट पर गए पक्षी प्रेमियों के टीम प्रभारियों अनिल रोजर्स, कनिष्ठ कोठारी, विनय दवे, देवेन्द्र मिस्त्री तथा उज्जवल दाधीच ने प्रस्तुत कर देखे गये पक्षियों के बार में जानकारी दी। कार्यक्रम के अंत में अरूण सोनी अध्यक्ष उदयपुर चेप्टर डबल्यूडबल्यूएफ़ इंडिया ने इस सफल आयोजन के लिए समस्त सहयोग कर्ताओं का धन्यवाद ज्ञापित किया। इस कार्यक्रम में वन विभाग के अधिकारी, कर्मचारी, विद्यार्थी व प्रकृति प्रेमी उपस्थित रहे।