boltBREAKING NEWS
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  •  

आरटीपीसीआर में पकड़ नहीं आ रहा कोरोना वायरस, सीटी स्कैन में पॉजीटिव मिल रहे

आरटीपीसीआर में पकड़ नहीं आ रहा कोरोना वायरस, सीटी स्कैन में पॉजीटिव मिल रहे

जयपुर। राजस्थान में 10 दिन में कोरोना संक्रमण के केस तीन गुना बढ़ गए हैं। इस साल 1 अप्रैल को 24 घंटे में सबसे ज्यादा 1350 संक्रमित लोग सामने आए। प्रदेश में सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव केस जयपुर, जोधपुर, कोटा, अलवर, उदयपुर और डूंगरपुर में सामने आ रहे है। जिस भीलवाड़ा मॉडल की बात करके सरकार वाहवाही लूट रही थी वहां भी एक अप्रैल को इस साल के सर्वाधिक 51 संक्रमित मिले।
पिछले वर्ष नवंबर में पहली लहर में कोरोना पीक पर था। तब 3000 से ज्यादा केस 24 घंटे में सामने आए थे। इसके बाद दिसंबर से केस कम होने लगे। एक्सपट्र्स की मानें तो इसी स्पीड से कोरोना संक्रमण बढ़ा तो जुलाई तक या इससे पहले पॉजिटिव रेट 10 प्रतिशत को पार कर जाएगी।
आरटीपीसीआर भी नहीं पकड़ पा रहा कोरोना वायरस, सीटी स्कैन में पता चल रहा है संक्रमण
कोरोना महामारी में दूसरी लहर में प्रदेश के लिए सबसे ज्यादा चिंताजनक बात यह है कि यहां आरटीपीसीआर में कोरोना वायरस पकड़ नहीं आ रहा है। लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आ रही है। लेकिन सीटी स्कैन में लंग्स में इंफेक्शन सामने आ रहा है यानी कोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव आ रही है। यहां करीब 80 प्रतिशत केस ए सिम्पटोमैटिक है, यानी कई लोगों में सामान्य जुकाम, खांसी, गले में खराश, हाथ पैर और बदन में दर्द के लक्षण नजर आ रहे हैं लेकिन कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आ रही है। ऐसा व्यक्ति कोरोना संक्रमण बढ़ाने में सबसे ज्यादा घातक है।