boltBREAKING NEWS
  •   दिन भर की वीडियो न्यूज़ देखने के लिए भीलवाड़ा हलचल यूट्यूब चैनल लाइक और सब्सक्राइब करें।
  •  भीलवाड़ा हलचल न्यूज़ पोर्टल डाउनलोड करें भीलवाड़ा हलचल न्यूज APP पर विज्ञापन के लिए सम्पर्क करे विजय गढवाल  6377364129 advt. [email protected] समाचार  प्रेम कुमार गढ़वाल  [email protected] व्हाट्सएप 7737741455 मेल [email protected]   8 लाख+ पाठक आज की हर खबर bhilwarahalchal.com  

लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर EC की टीम ने किया सिक्किम दौरा

लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर EC की टीम ने किया सिक्किम दौरा

लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर वरिष्ठ उप चुनाव आयुक्त के नेतृत्व में भारतीय चुनाव आयोग की टीम ने सिक्किम का दौरा किया। चुनाव आयोग की टीम ने राज्य में मुख्य सचिव, डीसीपी, राज्य पुलिस नोडल अफसर, विशेष डीसीपी, मुख्य निर्वाचन अधिकारी, गृह सचिव और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की।

इस बैठक में लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर विस्तार में चर्चा हुई। सोमवार को चुनाव आयोग ने तैयारियों की समीक्षा के लिए सभी जिला कलेक्टरों के साथ भी बैठक की। 

काजी नेमू को मिला राज्य फल का दर्जा

असम सरकार ने मंगलवार को काजी नेमु (खट्टे नींबू) को राज्य फल घोषित कर दिया है। काजी नेमु अपनी अनोखी सुगंध और स्वास्थ्य लाभों के लिए जाना जाता है। असम के कृषि मंत्री अतुल बोरा ने विधानसभा में इसकी घोषणा की।

उन्होंने कहा, 'कल कैबिनेट की बैठक में काजी नेमु को राज्य फल के तौर पर मंजूरी दे दी गई है। यह हमारी सरकार का सराहनीय निर्णय है।' अतुल बोरा ने बताया कि इस फल को 2016 में जीआई टैग मिला था। काजी नेमू का व्यावसायिक वृक्षारोपण किया जा रहा है। पिछले दो वर्षों में, इस फल को मध्य पूर्व सहित कई देशों में निर्यात किया गया है। 

इस बीच, मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि काजी नेमू को राज्य फल घोषित करने के निर्णय से इस फल को वैश्विक स्तर पर अधिक प्रमुखता आकर्षित करने में मदद मिलेगी।

बीजद के दो उम्मीदवारों ने राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन दाखिल किया

राज्यसभा के 27 फरवरी को होने वाले चुनाव के लिए ओडिशा में बीजू जनता दल (बीजद) के उम्मीदवार के रूप में देबाशीष सामंत्रे और शुभाषीश खूंटिया ने नामांकन पत्र दाखिल कर दिया है। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, राज्य सरकार के मंत्रियों और विधायकों की उपस्थिति में दोनों उम्मीदवारों ने उच्च सदन में चुनाव के लिए नामांकन दाखिल किया।

हालांकि राज्यसभा की तीसरी सीट को लेकर स्थिति अभी स्पष्ट नहीं है। पटनायक ने सोमवार को दो ही उम्मीदवारों के नाम घोषित किए थे। बता दें कि केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव और बीजद नेता प्रशांत नंदा तथा अमर पटनायक का राज्यसभा में कार्यकाल अप्रैल में समाप्त होने पर ये तीन सीट रिक्त होंगी। इस तरह की अटकलें भी चल रहीं हैं कि पटनायक तीसरे उम्मीदवार के रूप में रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव का नाम ले सकते हैं।

 

ईडी ने कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में तलाशी के दौरान जब्त किए 31 लाख रुपये नकद
प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कहा कि उसने धनशोधन के एक मामले में कर्नाटक और आंध्र प्रदेश के कई स्थानों पर छापेमारी की। इस दौरान 31 लाख रुपये की बेहिसाब नकदी जब्त की गई। सूर्य नारायण रेड्डी और भरत रेड्डी के खिलाफ धनशोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए), 2002 के प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया गया था। एजेंसी ने एक बयान में कहा कि यह राज्य के बेल्लारी में प्राथमिकी दर्ज की गई थी, जिससे यह मामला उपजा है। तलाशी 10 फरवरी को ली गई। 

जांच एजेंसी ने ने कहा कि उसे कुछ सबूत मिले हैं, जिससे संकेत मिलता है कि भरत रेड्डी ने विधानसभा चुनाव से ठीक पहले कुछ महीनों में कथित तौर पर करीब 42 करोड़ रुपये नकद जुटाए। भरत ने धन का इस्तेमाल गैरकानूनी लेनदेन के लिए किया। ईडी की टीम को तलाशी में आपत्तिजनक दस्तावेज, व्यावसायिक रिकॉर्ड और चल व अचल संपत्तियों के विवरण का एक नेटवर्क मिला।  

 

मुंबई: अवैध रूप से रह रहे दो बांग्लादेशी गिरफ्तार
पुलिस ने दक्षिण मुंबई में छापेमारी के दौरान दो बांग्लादेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया है। उन पर बिना वैध दस्तावेजों के देश में रहने का आरोप लगाया गया है। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पुलिस ने दो अन्य लोगों को भी पकड़ा है, जो इन दोनों को अवैध तरीके से देश में रहने में मदद कर रहे थे। 
 
अधिकारी ने बताया कि एक गोपनीय सूचना के आधार पर अपराध शाखा ने सोमवार को नागपाड़ा इलाके में छापेमारी की और बांग्लादेशी नागरिकों सुबाना अब्दुल अजीज मंडल (27 वर्षीय) और अखी अब्दुल मंडल (24 वर्षीय) को गिरफ्तार किया। जिनके पास देश में रहने के लिए वैध दस्तावेज नहीं थे। उन्होंने बताया कि अन्य आरोपी मुमताज शफी शेख (60 वर्षीय) और इकबाल इलाई शेख उर्फ फारुख (42 वर्षीय) कथित तौर पर उनकी मदद कर रहे थे। अधिकारी ने कहा कि इन लोगों को पासपोर्ट अधिनियम और विदेशी नागरिक अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत गिरफ्तार किया गया है।

 

बंगाल के मंत्री फिरहाद हकीम की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती 
पश्चिम बंगाल के मंत्री और कोलकाता के मेयर फिरहाद हकीम की तबीयत बिगड़ने के बाद मंगलवार को उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल के एक अधिकारी ने बताया कि 64 वर्षीय मंत्री हकीम को कमजोरी, थकान और डिहाइड्रेशन की शिकायत के बाद उन्हें अस्पात लाया गया है। जांच में उनमें हल्का इलेक्ट्रोलाइट असंतुलन पाया गया। बता दें, एक महीने के भीतर दूसरी बार हकीम अस्पताल में भर्ती हुए हैं।