boltBREAKING NEWS

खबर का असर: दबंगों द्वारा बंद किए गए आम रास्ते को प्रशासन ने 14 दिन बाद खुलवाया 

खबर का असर: दबंगों द्वारा बंद किए गए आम रास्ते को प्रशासन ने 14 दिन बाद खुलवाया 

शक्करगढ़ सांवरिया सालवी
क्षेत्र के बाकरा पंचायत के राजस्व गाव उरणा के समेलिया बांध के निकट बसे 8 परिवारों को 20 जुलाई से राशन सहित अन्य कार्यों के लिए व बच्चों को स्कूल जाने के लिए बांध के पानी में से होकर गुजरना पड़ रहा था क्योंकि आम रास्ते को दबंगों ने बंद कर दिया था। भीलवाड़ा हलचल न्यूज एप में एक अगस्त को खबर प्रसारित होने के बाद प्रशासन हरकत में आया और आम रास्ते को बुधवार को खुलवा दिया जिससे पीड़ित परिवारों को राहत मिली।
इससे पूर्व ग्रामीणों सहित परिजन बुधवार को उपखण्ड कार्यालय पहुंचे व कार्यवाही की मांग की। इस पर उपखण्ड अधिकारी दामोदर सिंह खटाना ने नायब तहसीलदार बलवीर सिंह राठौड़ के नेतृत्व में टीम भेज 14 दिन से बंद आम रास्ते को खुलवाया।
गौरतलब है कि पीड़ितों ने शक्करगढ़ पुलिस से लेकर जिला कलेक्टर तक को रिपोर्ट देकर बताया था कि कई वर्षों से बाकरा और किशनगढ़ पंचायत की सीमा से सटाकर दोनों पंचायतों के परिवार निवास कर रहे हैं। वहां दोनों पंचायतों ने बिजली कनेक्शन, ग्रेवल सड़क से लेकर प्रधानमंत्री आवास तक दे दिए। साथ ही निकलने के लिए ग्राम पंचायत बाकरा ने ग्रेवल सड़क भी बनवा दी जिसको तीन माह बाद  सुजानपुरा के ग्रामीणों ने जेसीबी से रास्ता काटकर खाई खोदकर बंद कर दिया।
कार्यवाही के दौरान नायब तहसीलदार बलवीर सिंह राठौड़, गिरदावर मोतीलाल, पटवारी किशनगढ़, नरेंद्र भंवर सिंह मीणा, ग्राम विकास अधिकारी, हेडकांस्टेबल सुरेश पारीक, कांस्टेबल मनोज कुमार मौजूद थे।