boltBREAKING NEWS

बागूंदार में निकाली भव्य कलश एवं शोभा यात्रा

बागूंदार में निकाली भव्य कलश एवं शोभा यात्रा

 पारोली BABLU । बागूंदार गांव में रेगर समाज की ओर से  दो दिवसीय सामूहिक दोज उद्यापन कार्यक्रम का दो दिवसीय आयोजन कलश यात्रा के साथ शुरू हुआ । 

पहले दिन सामूहिक कलश यात्रा निकाली गई।  शुभ मुहूर्त में विधि-विधान के साथ  पूजा अर्चना कर 61 महिलाओं और युवती ने सिर पर कलश धारण कर आगे बढ़ती रही ।कलश यात्रा के दौरान सिर पर कलश धारण कर  महिलाओं ने कलश नृत्य किया।जगह-जगह पुष्प वर्षा से ग्रामीणों ने कलश यात्रा का स्वागत किया। बाबा रामदेव के जयकारों से समूचा क्षेत्र गुंजायमान हो उठा। पुरुष सफेद धोती और कुर्ते तथा सिर पर पगड़ी पहने एक ही परिधान में नजर आए।बाबा रामदेव के भजनो की स्वर लहरियां बिखेरते  बैंड बाजे की धुन पर  महिलाओं, युवतियों और नौजवान युवाओं ने जमकर नृत्य किया।शोभायात्रा में बाबा रामदेव की घोड़ी तथा धर्म ध्वज पताका हाथों में लिए लोग चल रहे थे। कलश यात्रा गांव के मुख्य मार्गो से  होकर निकाली गई जो बाबा रामदेव  मंदिर परिसर पहुंची। पंडितों ने पूजा अर्चना करवाकर कलश स्थापना करवाई, उसके बाद 56यजमान जोड़ों ने हवन में आहुतियां दी।

 

 भजन संध्या का आयोजन शुक्रवार शाम को

दो दिवसीय आयोजन के तहत भजन संध्या का आयोजन आज  शुक्रवार शाम को होगा शंकर लाल रेगर ने बताया कि भजन संध्या में भोजराज गुर्जर सहित कई ख्यातनामी कलाकार भजनों की प्रस्तुति देंगे।

सत्संग से ही व्यक्ति का संस्कार बदलता है।

 गुरुवार रात को विशाल धर्म सभा  का आयोजन हुआ जिसमें संत महात्माओं ने कहा है कि सत्संग से ही व्यक्ति का संस्कार बदलता है। जीवन ही जोड़ तोड़ है। इसी में व्यक्ति जीवन समाप्त कर देता है। जीवन में शांति परमात्मा की शरण में जाने से ही मिल सकता है।कार्यक्रम के अध्यक्षदुर्गाराम महाराज ने इस मौके पर कहा है कि  ईश्वर सभी को आनंद प्रदान करने के लिए प्रकट होते है। ज्ञान क्रिया व उपासना की भक्ति अर्जित करने पर ही ईश्वर की प्राप्ति होती है।इस मौके पर ऊंकार महाराज,रामधन , लालाराम, शंकरलाल , महावीर ,मदन, बैनाथ, सांवरा सहित बड़ी संख्या में रेगर समाज के महिला और पुरुष

मौजूद  थे।