boltBREAKING NEWS
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  •  

हिस्ट्रीशीटर का गला रेता, जान बचाने 300 मीटर तक भागा, गश खाकर गिरा, ठेले पर ले गये अस्पताल, हुई मौत 

हिस्ट्रीशीटर का गला रेता, जान बचाने 300 मीटर तक भागा, गश खाकर गिरा, ठेले पर ले गये अस्पताल, हुई मौत 

  भीलवाड़ा / मांडलगढ़ हलचल। कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर जिलेभर में कफ्र्यू लगा है। चप्पे-चप्पे पर पुलिस और चेकपोस्ट लगे हैं। इन सब के बावजूद अपराध और अपराधी बेलगाम हो रहे हैं। कफ्र्यू के दूसरे दिन मंगलवार रात मांडलगढ़ कस्बे में आपसी विवाद के बाद हिस्ट्रीशीटर दिलशाद खान की गला रेत कर हत्या कर दी गई। सरेआम कत्ल की इस वारदात से इलाके में सनसनी फैल गई।  बड़ी संख्या में लोग जमा हो गये। तीन से चार थानों की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर मांडलगढ़ अस्पताल की मोर्चरी में सुरक्षित रखवाया है, जिसका पोस्टमार्टम बुधवार सुबह किया जायेगा। फिल्हाल पुलिस ने कत्ल को लेकर एफआईआर ली है, जिसमें दो जनों को नामजद किया गया है।  

हिस्ट्रीशीटर का नाई के साथ हुआ विवाद
थाना प्रभारी नेमीचंद चौधरी ने हलचल को बताया कि नई आबादी निवासी दिलशाद (52) पुत्र दिलावर खान घरबदर है। वह मांडलगढ़ में ही बस स्टैंड रोड़ स्थित बिजौलियां क्रय-विक्रय सहकारी समिति के पास ठेले पर सोता था। इसके पास ही मांडलगढ़ के ही सोनू सैन हैयर कटिंग करता है। मंगलवार की रात मांडलगढ़ थाने के हिस्ट्रीशीटर दिलशाद खान का सोनू सैन व उसके साथी रतन रैगर से किसी बात को लेकर विवाद हो गया। 
पहले लट्ठ से किया वार, फिर रेत दिया गला
सोनू व दिलशाद के बीच विवाद बढ़ गया। सोनू व रतन ने दिलशाद पर पहले लट्ठ से वार किये। इसके बाद सोनू ने धारदार हथियार से दिलशाद का गला रेत दिया। इसके चलते दिलशाद लहूलुहान हो गया। 
चीखता हुआ 300 मीटर दौड़ा दिलशाद, फिर गिर पड़ा
गला रेते जाने के बाद लहूलुहान हालत में दिलशाद जान बचाने के लिए वारदात स्थल से दौड़ा। खून गिरता गया और वह चीखता हुआ दौड़ता रहा। करीब 300 मीटर दूर तक दौडऩे के बाद दिलशाद अचेत होकर एसबीआई एटीएम के सामने गिर पड़ा। 
चीख सुनकर लगा मजमा
दिलशाद की चीख सुनकर नजदीक ही स्थित नई आबादी से एक समुदाय के लोग मौके पर पहुंचे, जहां उन्होंने दिलशाद को लहूलुहान हालत में पड़ा देखा। मौके पर भीड़ जमा हो गई। लोगों ने अचेत दिलशाद को उठाया। 
ठेले पर लिटाकर ले गये अस्पताल
लोगों ने मौके पर मिले ठेले पर दिलशाद को लिटाया और इसी ठेले से उसे करीब 200 मीटर की दूरी पर स्थित मांडलगढ़ अस्पताल ले गये। डॉक्टर्स ने दिलशाद के स्वास्थ्य का परीक्षण कर उसे मृत घोषित कर दिया। हत्या की खबर आग की तरह कस्बे में फैल गई। 
तीन -चार थानों की पुलिस पहुंची मौके पर
मांडलगढ़ डीएसपी व थाना प्रभारी तुरंत ही मौके पर पहुंच गये।   स्थिति को भांपते हुये आस-पास के थानों की पुलिस को सूचना दी गई। इसके बाद नजदीकी तीन से चार थानों की पुलिस मांडलगढ़ पहुंच गई। 
प्लंबर और प्लास्टिक खरीद-फरोख्त का करता था काम
पुलिस ने बताया कि दिलशाद अपना गुजर बसर करने के लिए कचरा बिनने वालों से प्लास्टिक व अन्य सामान खरीद कर बैचता था। इसके अलावा व प्लंबर का काम भी करता था। इससे होने वाली कमाई से वह अपना पालन-पोषण कर रहा था। 
दोनों आरोपित हिरासत में!
सूत्रों के अनुसार, कत्ल के इस मामले में सोनू सैन व रतन रैगर को नामजद किया गया है। कत्ल के बाद तलाश में जुटी पुलिस टीम ने दोनों को ढूंढ निकाला। दोनों को डिटेन कर लिया गया है। लेकिन इस बात की पुलिस ने पुष्टि नहीं की है।