boltBREAKING NEWS
  •  
  • भीलवाड़ा हलचल app के नाम पर किसी को जबरन विज्ञापन नहीं दें और धमकाने पर सीधे पुलिस से संपर्क करे या 7737741455 पर जानकारी दे, तथाकथित लोगो से सावधान रहें । 
  •  
  •  
  •  

कोरोनाकाल में 26वीं काव्यसंध्या दीवाली स्नेहमिलन के रूप में संपन्न

कोरोनाकाल में 26वीं काव्यसंध्या दीवाली स्नेहमिलन के रूप में संपन्न

भीलवाड़ा (हलचल)। नवमानव सृजनशील चेतना समिति की ओर से कोरोनाकाल की 26वीं एवं 2021 की 11वीं काव्यसंध्या दीवाली,गुरुनानक व झांसी की रानी लक्ष्मीबाई जयंती के अवसर पर भदादा बाग के पीछे स्थित ओशो सुरधाम ध्यान केंद्र में आयोजित की गई। काव्यसंध्या की अध्यक्षता व संचालन डॉ एसके लोहानी खालिस ने किये,मुख्य अतिथि राधेश्याम गर्ग अभिनव थे,विशिष्ट अतिथि महेंद्र शर्मा व डॉ महावीरप्रसाद जोशी थे एवं मधुर सरस्वती वंदना राही कबीर(विष्णु सांगावत) ने प्रस्तुत की। महासचिव कविता लोहानी ने बताया कि काव्यसंध्या का शुभारंभ डॉ एसके लोहानी खालिस ने 'आओ हम मनाएं मिलके दीवाली,नाचें गाएं सजाएं दिल से दीवाली' व सड़क सुरक्षा पर गीत 'ओ रे मनवा,घर से सड़क पर आने से पहले,देखले अपनों के मुखड़े उजले' से कर उत्साहपूर्ण वातावरण बनाया। फिर डॉ महावीर प्रसाद जोशी ने 'पिता और पुत्री का एक ही ग्रुप का था लहू,पिता को ना मिला दामाद पुत्र को बहू', नरेन्द्र वर्मा ने 'जब हर घर में सफाई हो,उत्सव की रंगाई हो,भीतर बाहर पुताई हो,तब दीप एक जला देना', लाजवंती शर्मा ने 'क्या कीजै ऐसे लोगों का जिनको अपना मोल नहीं है,प्रेम-नेह का सारे जग में कोई भी तौल नहीं है', डॉ अवधेश जौहरी ने 'कुर्सी के लिए देश के नेता हैं लहूलुहान,कैसे कहूँ कि फिर भी मेरा देश है महान', राही कबीर ने 'तू मेरा मैं तेरा जिन्दोपा,बिन तेरे जिंदगी है कहां,तू मेरी रात का चंद्रमा,बिन तेरे चांदनी है कहाँ', महेंद्र शर्मा ने 'ये कैसा बेचैन सफ़र ये कैसी अनबुझी प्यास है,सब कुछ है आसपास फिर भी पता नहीं किसकी तलाश है,तुझको चैन कहाँ मिलता है,बता जिंदगी बोल जिंदगी' एवं राधेश्याम गर्ग अभिनव ने 'तुम मेरे शहर में आओ तो सही,गीत उल्फत का कोई गाओ तो सही' सरीखी एक से बढ़कर एक नायाब रचनाएँ सुनाकर मावठ के मौसम में आनंद का विस्तार कर दिया। काव्यसंध्या के श्रेष्ठ रचनाकार के रूप में इस बार विष्णु सांगावत 'राही कबीर' को संस्था की ओर से उपरणा,मोतीमाला पहनाकर एवं प्रशस्ति-पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर कविता लोहानी,रूपाली शर्मा व जूही लोहानी ने भी सशक्त उपस्थिति दर्ज कराई।

संबंधित खबरें