boltBREAKING NEWS

 कोटा एसीबी का जयपुर में धमाका, सहायक प्रशासनिक अधिकारी को किया रिश्वत लेते गिरफ्तार

 कोटा एसीबी का जयपुर में धमाका, सहायक प्रशासनिक अधिकारी को किया रिश्वत लेते गिरफ्तार

 भीलवाड़ा / जयपुर बीएचएन । भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो कोटा की टीम ने बुधवार को कार्यालय विद्युत विद्युत निरीक्षणालय,नंदपुरी जयपुर के सहायक प्रशासनिक अधिकारी खातेड़ी मोहल्ला, शाहपुरा जयपुर हाल इंद्रा वर्मा कॉलोनी शास्त्रीनगर जयपुर निवासी तरुण पुत्र रामगोपाल गुर्जर को 20 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। बता दें कि आरोपित ने एक फर्म के लाइसेंस की अवधि बढ़ाने के लिए 48 हजार रुपये रिश्वत की डिमांड की थी। आरोपित ने यह राशि अपने कार्यालय में ली। 
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एसीबी कोटा विजय स्वर्णकार ने बीएचएन को बताया कि एक परिवादी (नाम गोपनीय) ने एसीबी में शिकायत दर्ज करवाई थी कि उसकी फर्म के लाइसेंस की कार्य अवधि पूर्ण होने पर लाइसेंस के नवीनीकरण के लिए कार्यालय विद्युत निरीक्षणालय जयपुर में जुलाई 2021 में आवेदन किया था। इसके संबंध में कार्यालय में तरुण गुर्जर से मिला। गुर्जर ने लाइसेंस की अवधि बढ़ाने के लिए इसकी फीस 48 हजार रुपये बताई, जबकि लाइसेंस नवीनीकरण के लिए 4500 रुपये की चालान राशि लगती थी। आरोपित तरुण गुर्जर ने परिवादी से पूर्व में 10 हजार रुपये प्राप्त किये। परिवादी ने इस संबंध में एक सितंबर 21 को एसीबी कार्यालय कोटा में शिकायत दी। इसका गोपनीय सत्यापन 6 सितंबर को करवाया गया। सत्यापन के दौरान तरुण गुर्जर से परिवादी की वार्ता हुई, जिसमें आरोपित ने 30 हजार रुपये की मांग की। परिवादी द्वारा 25 हजार रुपये देने के लिए कहा तो अंत में 27 हजार रुपये लेने पर सहमति बनी। गोपनीय सत्यापन के बाद आज ट्रेप का आयोजन किया गया। आरोपित तरुण गुर्जर ने कार्यालय विद्युत निरीक्षणालय जयपुर में अपने कक्ष में परिवादी से 20 हजार रुपये रिश्वत लेकर अपनी टेबल के नीचे रखी फाइल के बस्ते में रखी, जिसे बरामद कर लिया गया। इस कार्रवाई को अंजाम देने वाली टीम में सीआई नरेश चौहान, अजीत बगड़ोलिया, देवेंद्र सिंह, दिलीप सिंह, नरेंद्र सिंह, मुकेश सैनी शामिल थे।