boltBREAKING NEWS
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  •  

कोई नया टैक्स नहीं  910 करोड़ रुपए की छूट ,कोरोनाकाल में रोकी गई सरकारी कर्मचारियों की 1600 करोड़ की सैलरी देंगे

कोई नया टैक्स नहीं  910 करोड़ रुपए की छूट ,कोरोनाकाल में रोकी गई सरकारी कर्मचारियों की 1600 करोड़ की सैलरी देंगे

जयपुर ।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को राजस्थान का 2021-22 का बजट पेश किया। 2 घंटे 47 मिनट के बजट भाषण में गहलोत का पूरा फोकस कृषि, हैल्थ, एजूकेशन, यूथ और पर्यटन पर रहा। गहलोत ने राज्य की जनता पर कोई टैक्स नहीं लगाया। एग्रीकल्चर सैक्टर पर खास फोकस रखते हुए अगल वर्ष से कृषि का बजट अलग से पेश करने की घोषणा की। बजट में किसानों की बिजली के लिए अलग से बिजली कंपनी बनाने और सीधे फायदे के लिए मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना की घोषणा भी की। प्रतियोगी परीक्षा देने वाले युवाओं काे रोडवेज में फ्री यात्रा की घोषणा की। प्रदेश के सभी परिवारों के लिए यूनिवर्सल हैल्थ बीमा का प्रावधान भी किया गया। राज्य में 1200 इंग्लिश मीडियम स्कूल खोलने की घोषणा की गई। गहलोत के बजट में धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए नए सर्किट बनाने की घोषणा भी शामिल है।

इसके अलावा विधानसभा उपचुनाव को देखते हुए जिन 4 विधायकों (3 कांग्रेस और 1 भाजपा) की मौत हुई, उनके नाम पर उनके क्षेत्र में गर्ल्स कॉलेज खोलने की घोषणा भी की। इसमें राजसमंद में किरण माहेश्वरी कन्या कॉलेज, भींडर में गजेंद्र सिंह कन्या कॉलेज, सुजानगढ़ में मास्टर भंवरलाल कन्या कॉलेज, गंगापुर में कैलाश त्रिवेदी कन्या कॉलेज खोले जाने की घोषणा की।

बजट भाषण के दौरान गहलोत ने विपक्ष की चुटकी भी ली। उन्होंने कहा- मैं सात बार पानी पी चुका हूं। वसुंधरा राजे ने जब बजट पेश किया था उस वक्त एक बार भी पानी नहीं पीया था। यह बड़ी बात है। मैं पानी पी पीकर आपको कोस नहीं रहा हूं। मेरा दिल तो पक्ष-विपक्ष के लिए प्रेम से भरा है। राजे का बिना पानी पीए बोलना बड़ी बात थी। आप याद रखो या न रखो। मुझे अब तक याद है। गहलोत ने कहा- प्लीज दिल्ली को समझाओ, नफरत, गुस्से से देश नहीं चला करते।

 

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को वित्त वर्ष 2021-22 के लिए बजट पेश किया। प्रदेश में पहली बार पेपरलेस बजट पेश किया गया। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बजट भाषण पढ़ते हुए कहा कि कोरोना काल में हमारा एक वर्ष सबके लिए कठिन रहा है। यह मुश्किल दौर था। कोरोना की शुरुआत से ही निरंतर मॉनिटरिंग की गई। कुशल प्रबंधन किया गया। इसकी प्रशंसा पूरे देश में हुई है। गहलोत ने कहा कि कोरोना नियंत्रण में प्रदेश अव्वल रहा है। कोरोना ने देश प्रदेश की अर्थव्यवस्था को प्रभावित किया है। हमारी सोच बजट में सबको साथ लेकर चलने की है। गहलोत ने घोषणा करते हुए कहा कि अब मनरेगा में 200 दिन का रोजगार मिलेगा। शहरी गरीबों के लिए इंदिरा गांधी क्रेडिट कार्ड योजना शुरू होगी और 5 लाख लोगों को ब्याज मुक्त लोन दिया जाएगा। लघु उद्यमियों को 50 करोड़ रुपए की ब्याज सब्सिडी दी जाएगी। 5 लाख रुपए प्रति स्टार्टअप सहायता दी जाएगी। विद्यार्थियों को शिक्षण सामग्री सहित कई सुविधाओं की घोषणा। पाठ्यपुस्तक व स्कूल यूनिफॉर्म निशुल्क उपलब्ध कराई जाएगी।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य क्षेत्र में हमारे नवाचारों को और आगे बढ़ाएंगे। सभी को स्वास्थ्य का अधिकार प्रदान करने के लिए राज्य हेल्थ बिल भी लाया जाएगा। देश में अनूठा उदाहरण प्रस्तुत करेंगे। आगामी वर्ष से हम 3500 करोड़ रुपए की लागत से यूनिवर्सल हेल्थ योजना लागू करेंगे। राज्य के प्रत्येक परिवार को 5 लाख रुपए की चिकित्सा बीमा योजना का लाभ मिलेगा। इसके तहत कैशलेस इलाज के लिए यह सुविधा उपलब्ध होगी। राजस्थान के सभी जिलों में मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे। अजमेर में जेएलएन अस्पताल का विस्तार होगा। पब्लिक हेल्थ को देखते हुए सभी संभाग मुख्यालयों पर पब्लिक हेल्थ कॉलेज खोले जाएंगे। जांचों की संख्या पीएचसी में 15 से बढ़ाकर 61, जिला अस्पतालों में 133 जांचें मुफ्त होंगी। महात्मा गांधी अस्पताल व सीकर में नए चिकित्सालय खुलेंगे। पाली अस्पताल, चूरू, बाड़मेर में चिकित्सालय भवन बनेंगे। 5 जिलों में नए आईसीयू खोले जाएंगे। सांगानेर में नया सैटेलाइट अस्पताल बनेगा। जोधपुर में आयुर्वेद पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। बाड़मेर में 365 बेड वाला अस्पताल खुलेगा। 25 जिलों में नर्सिंग कॉलेज खुलेंगे। भरतपुर में सुपर स्पेशलिटी अस्पताल का निर्माण होगा। जयपुर में कॉर्डियोलॉजी के नए अस्पताल का ऐलान।

जोधपुर में नई डायग्नोस्टिक विंग बनेगी। जयपुर के गणगौरी अस्पताल में भी नई विंग बनेगी। प्रदेश में बाड़मेर, दातारामगढ़, सीकर, शिवाना-बाड़मेर, सपोटरा, कटोरी हिंडौन, करौली सहित 30 नए पीएचसी खोले जाएंगे। 50 अन्य प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को क्रमोन्नत किया जाएगा। कुछ सामूदायिक स्वास्थ्य केंद्र खोले जाएंगे। शाहपुरा जयपुर व फतेहपुर के उपजिला अस्पतालों को क्रमोन्नत किया जाएगा। अजमेर में राजस्थान आयुष अनुसंधान केंद्र खोला जाएागा। मेडिकल कॉलेज जोधपुर में गठिया रोग के लिए विभाग व बच्चों के लिए पीडियाट्रिक्स विभाग खोले जाएंगे। पावटा अस्पताल में बेड बढ़ाकर 300 किए जाएंगे। एसएमएस कॉलेज में पीडियाट्रिक सर्जरी विभाग, न्यूरोलॉजी विभाग, आंकोलॉजी विभाग खोले जाएंगे। हार्ट लंग व टर्मरिक सुविधाओं का विस्तार भी किया जाएगा। जोधपुर में रीजनल कैंसर सेंटर की स्थापना होगी।

राज्य के मेडिकल कॉलेज अस्पतालों में लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस, यूनानी व होम्योपैथी चैंबर स्थापित किए जाएंगे। जयपुर, बीकानेर, भरतपुर आदि में यूनानी व आयुर्वेद महाविद्यालय खोले जाएंगे। टैस्टिंग लैब की स्थापना की जाएगी। मेडिकल टूरिज्म सेंटर की स्थापना पीपीपी मोड पर। दूरस्त शिक्षा के लिए चिकित्सकों का विशेष पैनल बनाया जाएगा। प्रदेशवासियों को शुद्ध खाद्य सामग्री उपलब्ध कराने के लिए शुद्ध के लिए युद्ध अभियान निरंतर चलाने के लिए डायरेक्टरेट ऑफ फूड सेफ्टी बनाने की घोषणा। सड़क दुर्घटनाओं को बचाने के लिए जीवन रक्षक योजना के तहत जीवन बचाने वाले भले व्यक्ति को 5000 रुपए व प्रशस्ती पत्र दिए जाएंगे। राज्य के राजमार्ग व मुख्य सड़कों पर ओवरस्पीड व ओवरलोड वाहनों पर अंकुश लगाने के लिए योजना। 40 सीएचसी को प्राइमरी ट्रोमा सेंटर में क्रमोन्नत किया जाएगा। डिजिटल शिक्षा के लिए 82 करोड़ रुपए का ऐलान। सरकारी स्कूलों में स्मार्ट टीवी व सेटटॉप बॉक्स लगाए जाएंगे। आवासीय स्कूलों में इंटरनेट कनेक्टशन, फ्री वाईफाई। 5000 की आबादी वाले गांवों में 1200 महात्मा गांधी राजकीय स्कूल खुलेंगे। 600 स्कूलों में कृषि संकाय खुलेंगे। 3500 से अधिक क्लासरूम, लैब, लाइब्रेरी आदि बनाए जाएंगे। 37400 आंगनबाड़ी केंद्रों का विस्तार किया जाएगा। अंग्रेजी स्कूलों में फर्नीचर उपलब्ध कराए जाएंगे। 50 सरकारी स्कूल खुलेंगे व 100 स्कूल क्रमोन्नत होंगे। शांति अहिंसा प्रकोष्ठ को शांति व अहिंसा निदेशालय में बदला जाएगा।

मेजर ध्यानचंद स्टेडियम योजना का ऐलान। हर जिले में बनेगा ध्यानचंद स्टेडियम। नए ओपन और इंडोर स्टेडियम का ऐलान। सभी संभागों में विशेष योग्यजन आवासीय स्कूल खुलेंगे। जोधपुर व जयपुर में इसी तरह के 2 नए कॉलेज खोले जाएंगे। जोधपुर में 400 करोड़ रुपए में थिंक टैंक सेंटर खोले जाएंगे। राज्य में पीपाड़ जोधपुर, खंडेला सीकर, कुचेरा नागौर, उदयपुरवाटी, मणिया, चीखली डूंगरपुर में नए कॉलेज खुलेंगे। कई जगह कन्या कॉलेज खोले जाएंगे। नए पॉलिटैक्नीक कॉलेज भी खोले जाएंगे। भरतपुर में संस्कृत महाविद्यालय बनाया जाएगा। इंक्यूबेशन सेंटर बनाए जाएंगे। प्रदेश में युवाओं के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, लेबोरेट्री व अन्य केंद्रों की स्थापना के लिए राजीवी गांधी सेंटर के लिए 200 करोड़ की घोषणा। साइंस एंड स्पेस क्लब खोले जाएंगे। पात्र बेरोजगार युवाओं को 4 माह का प्रशिक्षण देकर विभिन्न विभागों में राजीव गांधी युवा वालिंटियर बनाए जाएंगे। कॉमन एलिजिबिलिटी टैस्ट कराए जाएंगे। वन टाइम वेरिफिकेशन सिस्टम बनाया जाएगा। 50 हजार से अधिक पदों पर भर्ती की जाएगी।

सीएम गहलोत ने कहा कि आगामी वर्ष से कृषि बजट अलग से प्रस्तुत किया जाएगा। किसानों को ब्याज मुक्त फसली ऋण उपलब्ध कराए जाएंगे। 16000 करोड़ के ब्याज मुक्त फसली ऋण उपलब्ध कराए जाएंगे। इस योजना में 300000 नए किसानों को जोड़ा जाएगा। मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना लागू करने की घोषणा की। सीएम गहलोत ने दिवंगत नेताओं को मेमोरी को चिर स्थायी बनाने के लिए उनके नाम पर कन्या महाविद्यालय की घोषणा की। राजसमंद में किरण माहेश्वरी राजकीय कन्या महाविद्यालय बनेगा। भींडर गजेंद्र सिंह शक्तावत राजकीय कन्या महाविद्यालय, सुजानगढ़ में भंवरलाल मेघवाल राजकीय कन्या महाविद्यालय, गंगापुर में दिनेश त्रिवेदी राजकीय कन्या महाविद्यालय की घोषणा की।

दिल्ली हाट की तर्ज पर जयपुर हाट का ऐलान। 4 जिलों में नए पशु अस्पताल खुलेंगे। नंदीशाला के लिए 1.50 करोड़ रुपए का ऐलान। पुश अस्पताल में पशुओं के लिए चारे की सुविधा। पशुपालकों के लिए अलग से एंबुलेंस सेवा का ऐलान। 102 नंबर डायल कर पशुपालकों को मिलेगी सुविधा। बुनकरों के लिए 1 लाख तक के लोन का ऐलान। नई कृषि विद्युत वितरण कंपनी बनाने का ऐलान। गहलोत ने किसानों के लिए खोला खजाना। किसानों के लिए अगले साल से कृषि बजट अलग से पेश होगा। 50 हजार किसानों को सोलर पंप उपलब्ध कराने का ऐलान किया। कृषि मंडियों का आधुनिकीकरण करने का ऐलान किया। जोधपुर में किसान कॉम्पलेक्स बनाया जाएगा। किसानों के लिए ऋण माफी के संबंध में वन टाइम सेटल योजना से ऋण माफ कराए जाएंगे। किसानों को 16 हजार करोड़ रुपए के ब्याज मुक्त ऋण वितरित किए जाएंगे। 1000 किसान सेवा केंद्रों का निर्माण होगा। कृषि पर्यवेक्षकों के 1000 नए पद सृजित होंगे। कृषि उपभोक्ताओं को बिल 2 माह में भेजे जाएंगे। 50000 किसानों को नए विद्युत कनेक्शन दिए जाएंगे।

जोधपुर के मथानिया में मेगा फूड पार्क खोलने का ऐलान। इसके अलावा पाली और नागौर सहित 5 जगहों पर मिनी फूड पार्क खोलने का ऐलान। प्रदेश में नए औद्योगिक क्षेत्र खोलने की घोषणा की। पहले चरण में 64 उपखण्डों में औद्योगिक क्षेत्र बनाए जाएंगे। प्रदेश के कुल 147 उपखण्डों में औद्योगिक क्षेत्र नहीं है। 8 नए एकलव्य मॉडल स्कूल खोले जाएंगे। देवनारायण योजना के लिए 200 करोड़ का ऐलान। 2000 विद्यार्थियों को दी जाएगी स्कूटी। 25 हजार आंगनबाड़ियों को नंदघर में शामिल करने का ऐलान। सरकार लड़कियों की तर्ज पर अब सभी महिलाओं को भी मुफ्त सैनेट्री नेपकिन देगी। इस पर कुल 200 करोड़ खर्च होंगे। 150 वनधन केंद्र स्थापित किए जाएंगे। राजस्थान में एसटी-एसटी एक्ट बनेगा। 3800 करोड़ की लागत से राजमार्गों का विकास किया जाएगा। अगले साल 1000 मिसिंग लिंक सड़कों के काम कराए जाएंगे। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में सड़कों के लिए 5 करोड़ रुपए का प्रावधान। अनाथ और उपक्षित बच्चों के लिए पन्नाधाय योजना शुरू। जयपुर के लिए मास्टर ड्रेनेज सिस्टम का ऐलान। जयपुर में कॉन्सटिट्यूशन क्लब का ऐलान।

जयपुर में 700 करोड़ के विकास कार्य होंगे। राजधानी के प्रमुख 7 चौराहों को ट्रैफिक सिग्नल मुक्त किया जाएगा। पाक विस्थापितों के लिए आवास सुविधा की घोषणा। जोधपुर में पाक विस्थापितों को सस्ती दर पर आवास मिलेंगे। जोधपुर में नई सीवर लाइन डाली जाएगी। 309 करोड़ की लागत से पुरानी सीवर लाइन की मरम्मत होगी। ग्रामीण बस सेवा फिर बहाल होगी। 6000 ग्राम पंचायतों को परिवहन सेवा से जोड़ा जाएगा। सीएम गहलोत ने घोषणा की है कि नागौर, बीकानेर और लाडनूं सहित 5 जगहों पर आधुनिक बस स्टैंड बनाए जाएंगे। वहीं प्रतापगढ़ सहित 5 परिवहन कार्यालयों में ऑटोमोटेड ड्राइविंग ट्रैक तैयार कराए जाएंगे। 5 जिलों में ऑटोमेटेड फिटनेस सेंटरों की घोषणा। जल जीवन मिशन के तहत 20 लाख लोगों को जोड़ने का प्रस्ताव। जनता को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए आगामी वर्ष में 476 करोड़ रुपए के कार्य कराए जाएंगे। नगरीय निकायों में सड़क कार्यों के लिए 1000 करोड़ का ऐलान। कई शहरों-कस्बों में आरओबी की घोषणा। नई ऊर्जा नीति घोषित की जाएगी और यह आगामी 30 वर्षों को ध्यान में रखकर बनाई जाएगी। प्रदेश में होगी निर्बाध बिजली आपूर्ति। विभिन्न स्थानों पर 33 केवी जीएसएस लगाए जाएंगे।

पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को धरातल पर लाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। केंद्र सरकार ने वित्तीय संसाधन उपलब्ध नहीं कराए हैं, इसके बावजूद राज्य सरकार अपने स्तर पर काम करेगी। इसके लिए अगले वर्ष होंगे 320 करोड़ के काम। 70 करोड़ की लागत से 18 और बांधों का होगा जिर्णोंद्धार। राजस्थान को फिल्म डेस्टिनेशन के तौर पर विकसित करने की योजना। राजस्थानी फिल्मों के निर्माण को बढ़ावा देने के लिए फिल्म पर्यटन प्रोत्साहन नीति लाई जाएगी। राजस्थानी फिल्मों के निर्माण के लिए 25 लाख रुपए तक इंसेंटिव। फिल्म बनाने के लिए बायबिलिटी गैप फंडिंग दी जाएगी। पर्यटन विकास कोष में 500 करोड़ का ऐलान। शेखावाटी पर्यटन सर्किट विकसित होगा। जैसलमेर में बनेगा ढोला मारू ट्यूरिस्ट कॉम्प्लैक्स। 25 नई पुलिस चौकियां स्थापित की जाएगी। जयपुर एयरपोर्ट, एसएमएस अस्पताल की सुरक्षा के लिए 3 नए थाने बनेंगे। जेलों में बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए 240 आवासों का निर्माण किया जाएगा। सभी तरह के क्लियरेंस के लिए सिंगल विंडो सिस्टम लागू होगा। 10 मिड-वे स्थलों पर 10 करोड़ की लागत से जिर्णोद्धार होगा। प्रदेश में नए कोर्ट खोलने का ऐलान। गहलोत ने झालाना में भामाशाह डाटा सेंटर खोलने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को बधाई दी। गहलोत ने कोरोना काल में रोका गया सरकारी कर्मचारियों का वेतन रिलीज करने का ऐलान किया। इसके तहत 1600 करोड़ रुपए जारी होंगे। डीएलसी की दरों में 10 फीसदी की कमी की घोषणा। 50 लाख तक फ्लैट पर स्टांप ड्यूटी 6 से घटाकर 4 फीसदी की गई।

बजट अपडेट्स

भीलवाड़ा जिले में पेयजल पर करोड़ों रुपए खर्च किए जाएंगे चंबल परियोजना सहाड़ा में पेयजल तथा ग्रामीण क्षेत्रों में हर घर  में नल कनेक्शन पर बजट में करोड़ों की घोषणा

मुख्यमंत्री ने भीलवाड़ा में वाणिज्य न्यायालय खोलने की घोषणा की

 

 

 

गहलोत ने कोई नया टैक्स नहीं लगाया है। बल्कि टैक्स की अलग-अलग मद में 910 करोड़ रुपए की छूट दी है।

  • कोरोना काल में रोका गया सरकारी कर्मचारियों का वेतन रिलीज करने की घोषणा। 1600 करोड़ रुपए जारी होंगे
  • डीएलसी की दरों में 10 फीसदी की कमी की घोषणा। 50 लाख तक फ्लैट पर स्टांप ड्यूटी 6 से घटाकर 4 फीसदी की गई।
  • सरकार लड़कियों की तर्ज पर अब सभी महिलाओं को भी मुफ्त सैनेट्री नेपकिन देगी। इस पर कुल 200 करोड़ खर्च होंगे।
  • नए वाहनों के साथ फिर से ग्रामीण बस सेवा शुरू होगी। इस बस सेवा को भाजपा शासन में बंद कर दिया गया था।
  • ईस्टर्न राजस्थान कैनाल प्रोजेक्ट पर गहलोत ने कहा कि ईआरसीपी आपके वक्त की योजना है। इसे हमने आगे बढ़ाने का फैसला किया। प्रधानमंत्री ने जयपुर- अजमेर में वादा किया था। नीति आयोग की बैठक में मैंने पीएम से रिक्वेस्ट की है। भाजपा के 25 सांसद हैं। हमें सबको मिलकर 13 जिलों की योजना को आगे बढ़ाना है।
  • 30 मार्च काे सभी जिलों में राजस्थान उत्सव। राजस्थान की युवा शक्ति को अन्य राज्यों की संस्कृति से रूबरू कराने के लिए 10 हजार युवाओं को भेजा जाएगा।
  • फिल्म प्रोत्साहन नीति लाएंगे। राजस्थानी फिल्मों को 25 लाख रुपए की सहयोगी राशि और जीएसटी पर 100% छूट दी जाएगी
  • पूर्वी राजस्थान की पीआरसीपी योजना पिछली सरकार ने बनाई थी। पीने के पानी के लिए 37 हजार करोड़ लागत की इस परियोजना को धरातल पर लाने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं। रिफायनरी के बाद सबसे बड़ी परियोजना है। पीएम ने अभी तक पीआरसीपी को राष्ट्रीय योजना घोषित नहीं की। इस प्रकार की 16 अन्य परियोजनाओं को घोषित किया हुआ है। प्रदेश के साथ यह भेदभााव की श्रेणी में आता है। हम अपने संसाधनों से काम जारी रखेंगे।
  • खेती की बिजली के लिए नई कृषि वितरण कंपनी बनाई जाएगी। इसमें एक की बजाए दो महीनों में बिल भेजे जाएंगे। 50 हजार किसानों को नए कनेक्शन दिए जाएंगे।
  • सरकार लड़कियों की तर्ज पर अब सभी महिलाओं को भी मुफ्त सैनेट्री नेपकिन देगी। इस पर कुल 200 करोड़ खर्च होंगे।
  • नए वाहनों के साथ फिर से ग्रामीण बस सेवा शुरू होगी। इस बस सेवा को भाजपा शासन में बंद कर दिया गया था।
  • पूर्वी राजस्थान की पीआरसीपी योजना पिछली सरकार ने बनाई थी। पीने के पानी के लिए 37 हजार करोड़ लागत की इस परियोजना को धरातल पर लाने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं। रिफायनरी के बाद सबसे बड़ी परियोजना है। पीएम ने अभी तक पीआरसीपी को राष्ट्रीय योजना घोषित नहीं की। इस प्रकार की 16 अन्य परियोजनाओं को घोषित किया हुआ है। प्रदेश के साथ यह भेदभााव की श्रेणी में आता है। हम अपने संसाधनों से काम जारी रखेंगे।
  • खेती की बिजली के लिए नई कृषि वितरण कंपनी बनाई जाएगी। इसमें एक की बजाए दो महीनों में बिल भेजे जाएंगे। 50 हजार किसानों को नए कनेक्शन दिए जाएंगे।
  • किसानों के लिए अगले साल से कृषि बजट अलग से पेश होगा। किसानों के लिए ऋण माफी के संबंध में वन टाइम सेटल योजना से ऋण माफ कराए जाएंगे। किसानों को 16 हजार करोड़ रुपए के ब्याज मुक्त ऋण वितरित किए जाएंगे। इस योजना में 21-22 में 3 लाख किसानों को जोड़ा जाएगा। इसमें कृषि पालकों व पशु पालकों को भी शामिल किया जाएगा।
  • इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड की घोषणा- पांच लाख रुपए तक का ब्याज मुक्त लोन दिया जाएगा।
  • छोटे कारोबारियों को 50 करोड़ रुपए की ब्याज सब्सिडी दी जाएगी। पांच लाख रुपए प्रति स्टार्टअप सहायता दी जाएगी।
  • छात्रों को शिक्षण सामग्री सहित कई सुविधाएं दी जाएंगी। पाठ्यपुस्तक व स्कूल यूनिफॉर्म फ्री में दी जाएगी।
  • राज्य हेल्थ बिल लाया जाएगा। अगले साल हम 3500 करोड़ की लागत से यूनिवर्सल हेल्थ योजना लागू करेंगे।
  • राज्य के प्रत्येक परिवार को 5 लाख की चिकित्सा बीमा योजना का लाभ मिलेगा। इसके तहत कैशलेस इलाज की सुविधा उपलब्ध होगी। राजस्थान के प्रत्येक जिलों यानी शेष 25 जिलों में नर्सिंग महाविद्यालय खोले जाएंगे। पब्लिक हेल्थ को देखते हुए सभी संभाग मुख्यालयों पर पब्लिक हेल्थ कॉलेज खोले जाएंगे।
  • पीएचसी में 15 से बढ़ाकर 61, जिला अस्पतालों में 133 जांचें मुफ्त होंगी। महात्मा गांधी अस्पताल व सीकर में नए चिकित्सालय खुलेंगे। पाली अस्पताल, चूरू, बाड़मेर में चिकित्सालय भवन बनेंगे।
  • जोधपुर में नई डायग्नोस्टिक विंग बनेगी। जयपुर के गणगौरी अस्पताल में भी नई विंग बनेगी। प्रदेश में बाड़मेर, दातारामगढ़, सीकर, शिवाना-बाड़मेर, सपोटरा, कटोरी हिंडौन, करौली सहित 30 नए पीएचसी खोले जाएंगे।
  • शाहपुरा जयपुर व फतेहपुर के उपजिला अस्पतालों को बेहतर किया जाएगा। अजमेर में राजस्थान आयुष अनुसंधान केंद्र खोला जाएगा। मेडिकल कॉलेज जोधपुर में गठिया रोग के लिए विभाग व बच्चों के लिए पीडियाट्रिक्स विभाग खोले जाएंगे। पावटा अस्पताल में बेड बढ़ाकर 300 किए जाएंगे।
  • एसएमएस कॉलेज में पीडियाट्रिक सर्जरी विभाग, न्यूरोलॉजी विभाग, आंकोलॉजी विभाग खोले जाएंगे। हार्ट, लंग सुविधाओं का विस्तार किया जाएगा। जोधपुर में रीजनल कैंसर सेंटर की स्थापना होगी।
  • जयपुर, बीकानेर, भरतपुर में यूनानी व आयुर्वेद महाविद्यालय खोले जाएंगे। टेस्टिंग लैब की स्थापना की जाएगी।
  • मेडिकल टूरिज्म सेंटर की स्थापना पीपीपी मोड पर। प्रदेशवासियों को शुद्ध खाद्य सामग्री उपलब्ध कराने के लिए शुद्ध के लिए युद्ध अभियान निरंतर चलाने के लिए डायरेक्टरेट ऑफ फूड सेफ्टी बनाने की घोषणा।
  • सड़क दुर्घटनाओं को बचाने के लिए जीवन रक्षक योजना के तहत जीवन बचाने वाले भले व्यक्ति को 5000 रुपए व प्रशस्ति पत्र दिए जाएंगे। राज्य के राजमार्ग व मुख्य सड़कों पर ओवरस्पीड व ओवरलोड वाहनों पर अंकुश लगाने के लिए योजना।
  • 40 सीएचसी को प्राइमरी ट्रॉमा सेंटर बनाया जाएगा। कोविड- 19 में डिजिटल शिक्षा- समस्त सरकारी स्कूलों में स्मार्ट टीवी व सेटटॉप बॉक्स की सुविधा दी जाएगी। आवासीय स्कूलों में इंटरनेट कनेक्टश, फ्री वाईफाई देंगे।
  • 5000 की आबादी वाले गांवों में 1200 महात्मा गांधी राजकीय स्कूल खुलेंगे। 600 स्कूलों में कृषि संकाय खुलेंगे। 3500 से अधिक क्लासरूम, लैब, लाइब्रेरी बनाए जाएंगे।
  • 37400 आंगनवाड़ी केंद्रों, अंग्रेजी स्कूलों में फर्नीचर उपलब्ध कराए जाएंगे। 50 सरकारी स्कूल खुलेंगे व 100 स्कूल क्रमोन्नत होंगे।
  • शांति अहिंसा प्रकोष्ठ को शांति व अहिंसा निदेशालय में बदला जाएगा। सभी संभागों में विशेष योग्यजन आवासीय स्कूल खुलेंगे। जोधपुर व जयपुर में इसी तरह के दो नए महाविद्यालय खोले जाएंगे।
  • जोधपुर में 400 करोड़ रुपए में थिंक टैंक सेंटर खोले जाएंगे। राज्य में नए कॉलेज- पीपाड़ जोधपुर, खंडेला सीकर, कुचेरा नागौर, उदयपुरवाटी, मणिया, चीखली डूंगरपुर में खुलेंगे। कई जगह कन्या कॉलेज खोले जाएंगे। नए पॉलिटेक्निक कॉलेज खोले जाएंगे।
  • भरतपुर में संस्कृत महाविद्यालय बनाया जाएगा। इंक्यूबेशन सेंटर बनााए जाएंगे। प्रदेश में युवाओं के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, लेबोरेट्री व अन्य केंद्रों की स्थापना के लिए राजीवी गांधी सेंटर के लिए 200 करोड़ की घोषणा। साइंस एंड स्पेस क्लब खोले जाएंगे।
  • पात्र बेरोजगार युवाओं को चार माह का प्रशिक्षण देकर विभिन्न विभागों को राजीव गांधी युवा वालंटियर बनाए जाएंगे। कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट कराए जाएंगे। वन टाइम वेरिफिकेशन सिस्टम बनाया जाएगा। 50 हजार से अधिक पदों पर भर्ती की जाएगी।
  • प्रदेश के युवाओं व बच्चों के लिए शारीरिक विकास के लिए मेजर ध्यानचंद स्टेडियम की घोषणा, प्रत्येक ब्लॉक में खेल स्टेडियम। विधायक, सांसद निधि व जनता से राशि उपलब्ध कराई जाएगी। राजसमंद व प्रतापगढ़ में इंडोर स्टेडियम बनाए जाएंगे।
  • मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना की घोषणा। 1 लाख 20 हजार किसानों को स्प्रिंकल दिए जाएंगे।
कोई नया टैक्स नहीं  910 करोड़ रुपए की छूट ,कोरोनाकाल में रोकी गई सरकारी कर्मचारियों की 1600 करोड़ की सैलरी देंगे
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम

cu