boltBREAKING NEWS

चूरू में पारा पहुंचा 6 डिग्री के नीचे, जानिए कैसा रहेगा आपके जिले का मौसम

  चूरू में पारा पहुंचा 6 डिग्री के नीचे, जानिए कैसा रहेगा आपके जिले का मौसम

राजस्थान में सर्दी का सितम बढ़ने लगा है. कई जिलो में पारा 10 डिग्री के नीचे चला गया है. मौसम विभाग ने बताया कि आने वाले दिनों में मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा. सुबह और शाम के समय तापमान में गिरावट दर्ज की जाएगी. इसके अलावा राजस्थान में इस सप्ताह मौसम बिल्कुल साफ रहेगा और उत्तरी हवाओं का असर पड़ेगा. इससे तापमान में 2-3 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट अगले 2-3 दिन में हो सकती है.
10 डिग्री के नीचे पहुंचा पारा
मौसम विभाग के अनुसार बुधवार को राजधानी जयपुर में न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 27 डिग्री रहेगा. रविवार को जयपुर का न्यूनतम तापमान 14 डिग्री था. वहीं हनुमानगढ़ जिले में बुधवार को न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस रहेगा. हनुमानगढ़ में न्यूनतम और अधिकतम तापमान में लगातार गिरावट दर्ज होने का अनुमान है. वहीं बुधवार को जोधपुर में न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम 28 डिग्री सेल्सियस रहेगा. चुरू में बुधवार को न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम 26 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है. उदयपुर में आज न्यूनतम तापमान 9 और अधिकतम 26 डिग्री सेल्सियस और कोटा में न्यूनतम तापमान 11 डिग्री और अधिकतम तापमान 29 डिग्री रहने का अनुमान है. मौसम विभाग ने मिली जानकारी के अनुसार राजस्थान के कई जिलों में तापमान मंगलवार के मुकाबले बुधवार को गिरेगा. वहीं कई जिलों में धूप और कई जिलों में धुंध छाए रहने का अनुमान जताया है.
तापमान में आ रही गिरावट
दरअसल, जम्मू कश्मीर, हिमाचल और उत्तराखंड में हो रही बर्फबारी के बाद से ही मैदानी इलाकों में पारा गिरने लगा है. दिन में धूप निकलने के कारण लोगों को ठंड से राहत मिल रही है, लेकिन सर्द हवाओं के कारण दिन में न्यूनतम तापमान में भी गिरावट दर्ज की जा रही है. मौसम विभाग ने बताया कि आने वाले दिनों में चूरू का तापमान 5 डिग्री सेल्सियस से नीचे जा सकता है. वहीं राजस्थान में अगले कुछ दिनों तक मौसम शुष्क रहने के आसार हैं. नवंबर के अंतिम सप्ताह और दिसंबर के शुरुआत में तेज हवाएं चलने की संभावना जताई गई है. इससे पहले भी मौसम विभाग ने बताया था कि राजस्थान में 15 दिसंबर के बाद कड़ाके की ठंड का सामना करना पड़ सकता है. 15-20 दिसंबर के बाद से राज्य में शीतलहर का भी अनुमान लगाया गया है.