boltBREAKING NEWS
  • भीलवाड़ा हलचल app के नाम पर किसी को जबरन विज्ञापन नहीं दें और धमकाने पर सीधे पुलिस से संपर्क करे या 7737741455 पर जानकारी दे, तथाकथित लोगो से सावधान रहें । 
  •  
  •  
  •  

प्रवासी पक्षी शारीरिक परिवर्तन से नाप लेते हैं दूरी-माथुर

प्रवासी पक्षी शारीरिक परिवर्तन से नाप लेते हैं दूरी-माथुर

 अजमेर,(हलचल ) महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय के पर्यावरण विज्ञान विभाग में शनिवार को  विश्व प्रवासी पक्षी दिवस मनाया गया। उद्घाटन सत्र में विभागाध्यक्ष प्रो. प्रवीण माथुर ने कहा कि प्रवासी पक्षियों को प्रवास के दौरान दिशा ज्ञान होने तथा उनके समाधान के उपाय बताए। उन्होंने बताया कि किस प्रकार वे अपने शारीरिक परिवर्तनों द्वारा प्रवास की इस दूरी को तय करने के लिए कार्य करते हैं। प्रोण् सुभाष चंद्र ने बताया कि  साइबेरियन क्रेन जो कि पहले भारतीय उपमहाद्वीप में प्रवास के लिए साइबेरिया से उड़कर आते थेए अब उन्होंने आना बंद कर दिया है, उन्होंने इसके कारणों के बारे में  अवगत कराया। उन्होंने बताया कि किस प्रकार व्यक्तिगत स्तर पर वन्य जीव संरक्षण किया जा सकता है।कुलसचिव गजेंद्र सिंह ने क्षेत्रीय लोगों द्वारा किए जा रहे संरक्षण कार्यों के बारे में जानकारी साझा करते हुए अपने अनुभव साझा किए। उन्होंने बताया कि भीलवाड़ा जिले में चांवंडिया तथा गुरला तालाबों पर  उन्होंने पक्षी मेलों का आयोजन भी करवाया।
 डॉ मनोज माथुर ने बताया कि राज्य पक्षी गोडावण की वर्तमान जनसं या तेजी से कम होती जा रही हैए साथ ही उन्होंने सम राष्ट्रीय उद्यान में अपने कार्यकाल के दौरान आने वाले मरे हुए पक्षियों में गोडावण की सं या पर चिंता व्यक्त की। अपने अनुभव साझा करते हुए बताया कि किस प्रकार पक्षियों के संरक्षण को किया जा सकता है। तकनीकी सत्र के क्रम में कंदालिका सारस्वत, साक्षी, एकता शेखावत, मांगीलाल, अतिका बाकलीवाल, सोनाली खियानी तथा पवन सिंह ने अपने शोध कार्यों के विषय में जानकारी प्रदान की। इस मोके पर  एक प्रश्नोत्तरी भी आयोजित की गई इसमें पवन सिंह प्रथम,  तथा तृतीय स्थान पर कोमल गर्ग, मांगीलाल माली तथा एकता शेखावत रहे। कार्यक्रम में डा.मदन मीणा, डॉ. फिरोज खान, डॉ.शुभ्रा सिंह, डॉ.आरती शर्मा, डॉ. अपर्णा सतपति, डॉ.विवेक शर्मा, रौनक चौधरी तथा निकिता कुंड उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन यतेंद्र सिंह द्वारा किया गया।