boltBREAKING NEWS

डेढ़ लाख रुपये की रिश्वत का मामला- पार्षदा व पति न्यायाधीश के सामने पेश, जेेल भेजा

डेढ़ लाख रुपये की रिश्वत का मामला- पार्षदा व पति न्यायाधीश के सामने पेश, जेेल भेजा

 भीलवाड़ा बीएचएन। ठेकेदार से एक लाख 50 हजार (एक लाख 20 हजार का चेक और 30 हजार नकद) की रिश्वत लेने के आरोप में पकड़ी गई नगर परिषद के वार्ड 29 की पार्षद लक्ष्मीदेवी सेन व उसके पति मुकेश सेन को एसीबी ने गुरुवार को न्यायाधीश के सामने पेश किया, जहां से दोनों को जेल भेज दिया गया।  
एसीबी प्रथम के एएसआई रामपाल ने बीएचएन को बताया कि  एसीबी भीलवाड़ा इकाई को परिवादी गुढा का खेड़ा बरसनी निवासी और महालक्ष्मी कंस्ट्रक्शन कंपनी के प्रोपराइटर व नगर परिषद के ठेकेदार सुवालाल पुत्र मांगीलाल कुमावत से  उसके द्वारा करवाए जा रहे निर्माण कार्यों को निर्बाध चलने देने की एवज में पार्षद लक्ष्मीदेवी सेन द्वारा अपने पति मुकेश सेन के माध्यम से एक लाख 50 हजार रुपए की रिश्वत की मांग कर परेशान किया जा रहा था। सुवालाल ने एसीबी में शिकायत दी। सत्यापन के बाद बुधवार को एसीबी ने  वार्ड 29 की पार्षद लक्ष्मीदेवी सेन के कहने पर उसके पति मुकेश सेन को परिवादी से एक लाख 50 हजार रुपए (एक लाख 20 हजार का चेक और 30 हजार नकद) रिश्वत राशि लेते रंगे हाथ, जबकि बाद में  पार्षद लक्ष्मी देवी को भी एसीबी ने गिरफ्तार कर लिया था। एसीबी ने गुरुवार शाम पार्षद लक्ष्मी देवी व उसके पति मुकेश को न्यायाधीश के सामने पेश किया, जहां से पार्षद व उसके पति को जेल भिजवाने के आदेश दिये गये।