boltBREAKING NEWS
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  •  

एक सिलेंडर से पांच रोगियों को ऑक्सीजन सप्लाई

एक सिलेंडर से पांच रोगियों को ऑक्सीजन सप्लाई

चित्तौड़गढ़।  बेगू  चिकित्सालय में वर्षों से एक बेड पर रोगी को ऑक्सीजन लगाने की सुविधा थी। अन्य गंभीर रोगी आने पर उसे रेफर किया जाता था। इन दिनों करोना मरीजों की भीड़ को देखते हुए बेगू मुस्लिम समाज की ओर से 5 बेड चिकित्सालय में एवं पांच पेड़ कोविड सेंटर पर ऑक्सीजन युक्त लगाने की पेशकश की।

जिसका सारा खर्चा मुस्लिम समाज की ओर से उठाया जाना है। उपखंड अधिकारी की स्वीकृति के पश्चात समाज की ओर से पांच बेड बेगू चिकित्सालय एवं पांच बेड कोविड सेंटर पर बनाए गए। दोनो स्थानो पर जुगाड़ करके एक ऑक्सीजन सिलेंडर से 5 बेड पर रोगियों को ऑक्सीजन आपूर्ति करने का जुगाड़ बनाया।

बेगू चिकित्सालय में कार्यरत लैब टेक्नीशियन आबिद हुसैन ने बताया कि 5 बेड लगाए जाने पर 5 सिलेंडर लगाना सुविधाजनक नही था। आक्सीजन के सिलेंडर उपलब्ध है लेकिन इन पर रेगुलेटर नही मिल रहे। ऐसे में बेगू के ऐसी मिस्त्री को बुलाकर एक ही सिलेंडर से पांचों बेड पर एक साथ आक्सीजन पहुचाने का जुगाड़ बनाने का विचार आया। ऐसी के मिस्त्री नूरमोहम्मद को चिकित्सालय में बुलाकर एक सिलेंडर से पांचो बेड पर ऑक्सीजन की आपूर्ति करनी का विचार बताया।

मिस्त्री नूर मोहम्मद एवं अंसारी ने मिलकर एक पाइप लाइन बिछाई ऐसी की पाइप लाइन को सिलेंडर से जोड़कर उसमें छोटी पाइप लाइन डालकर डालते हुए पांचों बेड पर आक्सीजन की आपूर्ति कर डाली। जुगाड़ में गैस की भट्टी के वाल लगा ऑक्सीजन की मात्रा को कम ज्यादा करने का सिस्टम भी बना दिया। 5 बेड पर एक साथ आपूर्ति करने वाले नूर मोहम्मद ने बताया कि बाल के माध्यम से रोगी को आवश्यकतानुसार ऑक्सीजन की पूर्ति की जा सकती है।

किसी भी रोगी को कम या अधिक मात्रा में ऑक्सीजन देना चिकित्सा कर्मी के लिए आसान कार्य है। सिलेंडर के रेगुलेटर पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध नहीं होने से एक सिलेंडर से 5 बेड पर चिकित्सालय में एवं एक सिलेंडर से 5 बेड पर कोविड सेंटर पर दोनों जगह लाइन बनाकर ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा रही है। आबिद हुसैन ने ने बताया कि चित्तौड़गढ़ एवं भीलवाड़ा से भी रोगी बेगू आकर ऑक्सीजन की सेवाएं ले रहे हैं।