boltBREAKING NEWS
  • जयपुर : मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने की प्रदेश के लोगों से शांति बनाए रखने की अपील, कहा- दोषियों को बख्शेंगे नहीं
  • भीलवाड़ा : जिला कलेक्टर आशीष मोदी ने लोगों से की शांति की अपील, बोले- अफवाहों पर न दें ध्यान  
  • भीलवाड़ा : एसपी आदर्श सिधू ने की लोगों से शांति बनाए रखने की अपील, कहा- पुलिस का सहयोग करें और कानून व्यवस्था बनाए रखें 
  •  

कारोई में पैंथर की दस्तक!: ग्रामीणों में दहशत, टीमें जुटी तलाश में

कारोई में पैंथर की दस्तक!: ग्रामीणों में दहशत, टीमें जुटी तलाश में

भीलवाड़ा Vijay Gadhwal
कारोई में एक महिला ने बुधवार को खेत पर कोई जंगली जानवर देख लिया और पैंथर समझकर डर गई। उसने दूसरे दिन यानि गुरुवार को ग्रामीणों व सरपंच को इस बात की जानकारी दी। सरपंच की सूचना पर पुलिस और वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची। वन विभाग की टीम ने प्रथम दृष्टया जंगली जानवर के पैंथर होने से इनकार किया है।
कारोई एसएचओ हंसपाल ने बताया कि कारोई में बुधवार को एक महिला अपने खेत पर गई थी। इसी दौरान उसे खेत पर कोई जंगली जानवर दिखाई दिया। महिला डर गई। वह उस समय तो घर लौट आई लेकिन डर के मारे किसी को कुछ नहीं बताया। आज उसने ग्रामीणों व सरपंच को सूचना दी। महिला ने बताया कि जंगली जानवर पैंथर था। सरपंच और अन्य ग्रामीण मौके पर पहुंचे और पुलिस व वन विभाग को जानकारी दी। इस पर एसएचओ हंसपाल व सहायक वनपाल चंद्रपाल सिंह मौके पर पहुंचे। वन विभाग की टीम ने प्रथम दृष्टया जांच कर बताया कि क्षेत्र में पैंथर का कोई मूवमेंट नहीं मिला है और न ही ताजा पगमार्क, जिससे कि जंगली जानवर के पैंथर होने की पुष्टि हो सके। हालांकि अभी जांच व जंगली जानवर की तलाश जारी है। पैंथर आने की खबर सुनकर ग्रामीणों की भारी भीड़ जमा हो गई और लोग दहशत में दिखे।
फोटो देख महिला ने बताया टाइगर
सहायक वनपाल चंद्रपाल सिंह ने बीएचएन को बताया कि जंगली जानवर देखने वाली महिला को टाइगर, जरख और पैंथर की फोटो बताकर पहचान करने के लिए कहा गया तो महिला ने टाइगर की फोटो पर हाथ रख जंगली जानवर वैसा होने को बताया जबकि पूरे भीलवाड़ा में टाइगर कहीं है ही नहीं। ऐसे में माना जा रहा है कि महिला से जंगली जानवर की पहचान में कोई भ्रम हुआ है। फिर भी वन विभाग की टीम जंगली जानवर को ढूूंढ़ने में लगी है।