boltBREAKING NEWS
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  •  

ऑक्सीजन व वैक्सीन पर राजनीति, भाजपा और कांग्रेस आमने-सामने

 ऑक्सीजन व वैक्सीन पर राजनीति, भाजपा और कांग्रेस आमने-सामने

जयपुर।कोरोना महामारी के बढ़ते खतरे के बीच राजस्थान में वैक्सीन और ऑक्सीजन को लेकर राजनीति तेज हो गई है। इस मामले में सत्तरूढ़ दल कांग्रेस और भाजपा आमने-सामने है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोेत ने ट्वीट करते हुए कहा कि प्रदेश के सभी सांसदों को दिल्ली में ऑक्सीजन और दवाइयों के मामले में राजस्थान की बात गंभीरता से रखें। दवाइयां, ऑक्सीजन और वैक्सीन के मामले में केंद्र व राज्यों के बीच समन्वय अच्छा बना रहे, इसके लिए सांसदों को भी आने आना चाहिए। विशेषज्ञों की राय में 30 अप्रैल तक का समय बेहद मुश्किल है।

पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने वैक्सीन, रेमडेसिविर इंजेक्शन और ऑक्सीजन को लेकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि देश में रोजाना तीन लाख से ज्यादा संक्रमित मिलने लगे हैं। प्रमुख रूप से जीवन बचाने पर ध्यान देना होगा। चुनाव तो आते-जाते रहेंगे, लेकिन समय पर जनता को वैक्सीन नहीं लगी तो पीढ़ियां हमें माफ नहीं करेंगी। पायलट ने कहा कि सभी दलों की राज्य सरकारें कोविड़ संकट के कारण अपने संसाधनों से पहले से जूझ रही हैं। ऐसे में वैक्सीन का खर्च केंद्र सरकार को ही वहन करना होगा। उन्होंने ऑक्सीजन के विफल प्रबंधन पर चिंता जताते हुए कहा कि इसके लिए आवश्यक हो तो हवाई मार्ग का उपयोग किया जाए। उन्होंने कहा कि 11 लाख रेमडेसिविर इंजेक्शन के निर्यात को अनुमति देना आज देश के गंभीर मरीजों के लिए भारी पड़ रहा है ।उधर, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा कि कोविड के समय राजनीति नहीं, राज्य नीति पर चलना होगा। ऐसी स्थिति में डरने की नहीं सावधानी बरतने की जरूरत है। भाजपा विधायक दल के उप नेता राजेंद्र राठौड़ और प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि राज्य सरकार 18 साल तक के लोगों के लिए निशुल्क वैक्सीन लगाने का फैसला शीघ्र करे। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ सरकारों ने 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को निशुल्क कोरोना वैक्सीन लगाने का निर्णय लिया है। अब राज्य सरकार को भी शीघ्र ऐसा ही निर्णय लेना चाहिए।