boltBREAKING NEWS

 कब्ज और अनिद्रा की समस्या से राहत दिलाता है खसखस, ऐसे करें सेवन

  कब्ज और अनिद्रा की समस्या से राहत दिलाता है खसखस, ऐसे करें सेवन

भारतीय खानपान में खसखस का इस्तेमाल ब्रेड, कुकीज़, केक, पेस्ट्री, मिठाई, वॉफल और पैनकेक जैसी चीज़ों के स्वाद और गॉर्निशिंग को एक्जॉटिक बनाने के लिए किया जाता है। इसके अलावा ग्रेवी को गाढ़ा बनाने के लिए भी खसखस यूज किया जाता है। आयरन, ओमेगा-3 फैटी एसिड से भरपूर खसखस हेल्थ से जुड़ी कई समस्याएं भी दूर कर सकता है। तो और कितने गुणों का खजाना है खसखस और कैसे कर सकते हैं इसका इस्तेमाल, आइए जानते हैं यहां। 

- खसखस या पोस्तो के दाने डाइजेशन से जुड़ी परेशानी दूर करते हैं और आंतों को मजबूत बनाते हैं।

- कब्ज की समस्या भी दूर करने में कारगर है खसखस।

- इसके सेवन से दिल की बीमारियों के खतरे की संभावना काफी हद तक कम हो जाती है। 

- फाइबर की अच्छी-खासी मात्रा इसमें मौजूद होती है जिससे बैड कोलेस्ट्रॉल को आसानी से कम किया जा सकता है।

- खसखस में आयरन, कैल्शियम, पोटैशियम, मैंगनीज, कॉपर, थायमीन और जिंक जैसे न्यूट्रिशन शामिल होते हैं, जो शरीर में कोलेजन बनाने में मदद करते हैं।

- खसखस पेट की गरमी और जलन को भी शांत करने में फायदेमंद होता है। 

तो इन वजहों से आपको इसे अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए। आइए जानते हैं खसखस से बनने वाली ऐसी ही दो डिशेज़ बनाने की विधि।

1. आलू पोस्तो

सामग्री- 3-4 आलू लंबे आकार में कटे, 1 बड़ा चम्मच खसखस का पेस्ट, 1/4 छोटा चम्मच पंचफोरन, 1/2 छोटा चम्मच हल्दी पाउडर, 2-3 हरी मिर्च बारीक कटी, 1 प्याज बारीक कटा, स्वादानुसार नमक और 2 बड़े चम्मच सरसों का तेल

ऐसे बनाएं आलू पोस्तो

- कड़ाही में तेल गर्म करें।

- पंचफोरन के साथ साबुत लाल मिर्च का तड़का लगाएं।

- प्याज, पोस्तो, हल्दी और हरी मिर्च डालकर भूनें। फिर इसमें आलू मिक्स करें।

- जब ग्रेवी गाढ़ी हो जाए तो कुछ देर धीमी आंच पर पकाएं।

2. खसखस मिल्क

सामग्री- 1/2 छोटा चम्मच खसखस, 4 बादाम, चुटकीभर केसर व स्वादानुसार चीनी

ऐसे बनाएं खसखस मिल्क

- खसखस और बादाम का पेस्ट बनाएं। गरम दूध में मिलाएं।

- चीनी और केसर मिलाएं।

- खसखस मिल्क तैयार है। इसे पीने से अनिद्रा की समस्या दूर होती है।