boltBREAKING NEWS
  • भीलवाड़ा हलचल के नाम पर किसी को जबरन विज्ञापन नहीं दें और धमकाने पर सीधे पुलिस से संपर्क करें
  •  
  •  

हल्दी के धार्मिक फायदे, इससे निकलने वाली सकारात्मक ऊर्जा से करियर में मिलती है सफलता

 हल्दी के धार्मिक फायदे, इससे निकलने वाली सकारात्मक ऊर्जा से करियर में मिलती है सफलता

  हल्दी का हमारे जीवन में बहुत ही महत्वपूर्ण जगह है। हल्दी को हिंदू धर्म में बहुत ही शुभ और मंगलकारी माना गया है। हल्दी को भोजन के दौरान मसाले के रूप में तथा बीमारी के दौरान औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। वही पूजा में हल्दी को शुभ और महत्वपूर्ण स्थान दिया गया है। हल्दी सेहत के लिए जितना लाभदायक है, इसका धार्मिक कार्यों में भी उतना ही महत्वपूर्ण है। शादी के दौरान एक रस्म हल्दी का रस्म होता है जिसमें दूल्हे और दुल्हन को हल्दी लगाया जाता है। आज हम हल्दी के महत्व को जानेंगे। 

1. घर में पूजा के समय कलाई या गर्दन पर हल्दी का छोटा सा टीका लगाने से कुंडली में बृहस्पति मजबूत होता है। पूजा के बाद माथे पर हल्दी का तिलक लगाने से विवाह संबंधी कार्यों में सफलता मिलती है। इसके अलावा इससे वाणी भी मधुर हो जाती है।

2. हल्दी का दान करना शुभ माना जाता है। इससे कई स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का अंत होता है। घर की चारों तरफ के दीवार पर हल्दी की रेखा बनाने से घर में नकारात्मक शक्तियों का प्रवेश नहीं होता।

3. नहाने वाले पानी में एक चुटकी भर हल्दी डालकर नहाने से  शारीरिक और मानसिक शुद्धता मिलती है। इससे करियर में सफलता के उपाय के तौर पर भी किया जाता है।

4. गुरुवार के दिन भगवान गणेश को मात्र एक चुटकी हल्दी चढ़ाने से विवाह संबंधी रुकावटें दूर होती हैं। भगवान विष्णु और लक्ष्मी की प्रतिमा के पीछे हल्दी की पुड़िया रखने से अति शीघ्र विवाह के योग बनते हैं।

5. हल्दी के प्रयोग से जीवन में संपन्नता आती है और नकारात्मकता हमसे दूर रहती है। हल्दी की गांठ को तौली में लपेट कर सिरहाने रखने से बुरे सपने नहीं आते हैं।

 

6. जल में हल्दी मिलाकर सूर्य को अर्ध्य देने से कन्या को मनचाहे वर की प्राप्ति होती है। इसके अलावा हल्दी की माला से कोई भी मंत्र जप करने से जीवन में खुशहाली आती है। 

डिसक्लेमर

'इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।''