boltBREAKING NEWS

रोम जल रहा था और नीरो बांसुरी बजा रहा था, राजस्थान में गहलोत सरकार भी यही कर रही ,जेपी नड्डा का गहलोत पर तंज

रोम जल रहा था और नीरो बांसुरी बजा रहा था, राजस्थान में गहलोत सरकार भी यही कर रही ,जेपी नड्डा का  गहलोत पर तंज

आज अखबार खोलो तो कभी करौली, कभी जोधपुर में हिंसा की घटनाओं के समाचार दिखते हैं। जिस दिन जोधपुर में लोग सड़कों पर थे, उस दिन गहलोत साहब जयपुर में अपना जन्मदिन मना रहे थे। जब रोम जल रहा था तब नीरो बांसुरी बजा रहा था। राजस्थान में भी यही स्थिति है। यह बातें भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहीं। 


  

जेपी नड्डा अपने दो दिवसीय राजस्थान दौरे पर हैं। पहले दिन उन्होंने श्री गंगानगर के सूरतगढ़ में बूथ अध्यक्ष संकल्प सम्मेलन के दौरान राजस्थान सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा, पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने मुझे बताया कि पिछली सरकार में और वर्तमान सरकार में क्या फर्क है? वसुंधरा सरकार जनता के हित में काम करती थीं,  लेकिन वर्तमान सरकार खुद के हित में काम कर रही है। 

नड्डा ने कहा कि राजस्थान संस्कारों के लिए, शांति के लिए, विकास के लिए, संस्कृति के लिए जाना जाता है, लेकिन कांग्रेस की गहलोत सरकार में भ्रष्टाचार, अनाचार, दलितों और महिलाओं पर उत्पीड़न हो रहे हैं।

अखबार खोलो तो कभी करौली, कभी जोधपुर में हुईं हिंसा की घटनाओं के समाचार दिखते हैं। जिस दिन जोधपुर में लोग सड़कों पर थे, उस दिन गहलोत साहब जयपुर में अपना जन्मदिन मना रहे थे। जब रोम जल रहा था, तब नीरो बांसुरी बजा रहा था। यह स्थिति आज के राजस्थान की है।

राजे ने कहा- दंगों में भी राजस्थान को नंबर वन बनाने का काम कर रहे हैं
नड्डा से पहले महासम्मेलन को संबोधित करते हुये पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी गहलोत सरकार पर जमकर निशाने साधे. राजे ने कहा कि प्रदेश की जनता त्रस्त है और सरकार मस्त है. आज प्रदेश में कांग्रेस तुष्टीकरण की राजनीति कर रही है. कांग्रेस हमारी योजनाओं के नाम बदलने का काम कर रही है. राजे ने कहा कि एक तरफ केंद्र में सबका विकास करने वाली सरकार है. वहीं दूसरी तरफ प्रदेश में भ्रष्ट सरकार है. आज प्रदेश में भ्रष्टाचार चरम पर है. महिला अत्याचार की तो पूछो ही मत. वहीं अब दंगो में भी प्रदेश को नम्बर-1 बनाने का काम कर रहे हैं.

 जल जीवन मिशन में पिछड़ा
केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि जल जीवन मिशन में राजस्थान पिछड़ा हुआ है. 33 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में राजस्थान 32 वें स्थान पर है. केंद्र ने जल जीवन मिशन के तहत 27 हजार करोड़ रुपये दिए, लेकिन राज्य सरकार इसमे से केवल 3 हज़ार करोड़ ही खर्च पाई. बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया भी गहलोत सरकार पर जमकर बरसे. उन्होंने अपना पूरा संबोधन राजस्थानी भाषा में दिया.

जेपी नड्डा ने ली संभाग स्तरीय बैठक 
इससे पहले जेपी नड्डा ने सूरतगढ़ में संभाग स्तरीय बैठक नेताओं को बैठक ली। इसमें पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल, केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी, प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया सहित अन्य मौजूद रहे। इस दौरान अगले साल होने वाले चुनाव की तैयारियों पर चर्चा की गई। साथ ही रणनीति भी बनाई गई।