boltBREAKING NEWS
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  •  

9 वी तक स्कूल, जिम, सिनेमाघर, स्विमिंग पूल  बंद, ओर क्या गाइड लाइन में जाने आप

9 वी तक स्कूल, जिम, सिनेमाघर, स्विमिंग पूल  बंद, ओर क्या गाइड लाइन में जाने आप

जयपुर। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए राज्य सरकार ने नई गाइडलाइन जारी की है जो आपको जानना जरूरी है।
1. 5 से 19 अप्रैल तक अन्तरराज्यीय एवं अंतर जिला यात्राएं (जहां पर कोविड पॉजीटिव मरीज अधिक है) नहीं करें।
2. राज्य के बाहर से आने वाले यात्रियों को राजस्थान में आगमन से पूर्व यात्रा प्रारम्भ करने के 72 घण्टे के अन्दर करवाई गई एनटीपीसीआर नेगेटिव जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा। यदि कोई यात्री रिपोर्ट प्रस्तुत करने में असमर्थ रहता है, तो गंतव्य पर पहुंचने पर 15 दिन के लिए क्वारंटाइन किया जाएगा।
3. राज्य में बाहर से आने वाले सभी लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग अनिवार्य होगी एवं संबंधित प्राधिकारी द्वारा आगंतुक यात्रियों की रेण्डम जांच की जाएगी। 
4. सभी जिला कलक्टर्स राज्य के बाहर से सड़क मार्ग से आने वाले लोगों की एनटीपीसीआर नेगेटिव जांच रिपोर्ट की जांच के लिए पहले की तरह प्रवेश द्वार पर चेकपोस्ट स्थापित करेंगे।
5. महाप्रबंधक, उत्तर-पश्चिम रेलवे, जयपुर, राजस्थान की ओर से राज्य के बाहर से रेल से यात्रा करने वाले यात्रियों की एनटीपीसीआर नेगेटिव जांच रिपोर्ट के संबंध में जारी आदेशों की पालना सुनिश्चित कराई जाएगी।
6. एयरपोर्ट डायरेक्टर, एयरपोर्ट ऑथोरिटी ऑफ इण्डिया, सांगानेर, जयपुर द्वारा राज्य के बाहर से हवाई माध्यम से यात्रा करने वाले यात्रियों की एनटीपीसीआर नेगेटिव जांच रिपोर्ट के संबंध में जारी आदेशों की पालना सुनिश्चित कराई जाएगी। 
7. किसी एरिया/अपार्टमेन्ट जहां 5 से अधिक संक्रमित व्यक्तियों का समूह चिन्हित किया गया है, उसे जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट द्वारा माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित किया जाकर जांच सुविधा उपलब्ध 
कराई जाए। संक्रमित पाए जाने पर आइसोलेशन।
8. संक्रमित व्यक्तियों की संबंधित थानाधिकारी द्वारा बीट कांस्टेबल के साथ दैनिक निगरानी एवं फोन द्वारा स्वास्थ्य संबंधी सूचना प्राप्त की जाएगी। संक्रमित व्यक्ति को होम आइसोलेशन से संबंधित गाइडलाइंस की प्रति उपलब्ध कराई जाएगी।
9. होम आइसोलेशन से संबंधित गाइडलाइंस के उल्लंघन पर उन्हें तुरन्त संस्थागत क्वारंटाइन किया जाएगा। 
10. कोविड संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए कम से कम 30 व्यक्तियों को 72 घंटों के अंदर ट्रेस किया जाएगा। कलक्टर अपने क्षेत्राधिकार में रात्रिकालीन कफ्र्यू के समय के संबंध में निर्णय ले सकेंगे, परन्तु रात्रि 8 बजे से पूर्व एवं सुबह 6 बजे के बाद कफ्र्यू के लिए राज्य सरकार की पूर्वानुमति लिया जाना अनिवार्य होगा। सभी संस्थाओं/संगठनों जिनकों रात्रि कालीन छूट प्रदान की गई है उनके द्वारा कोविड-19 सुरक्षा प्रोटोकॉल की सख्ती से पालना की जाएगी। संयुक्त प्रवर्तन दल द्वारा इस सम्बन्ध में सख्त निगरानी एवं पर्यवेक्षण किया जाएगा और यदि कोई संस्था/संगठन उल्लंघन करता पाया जाता है, तो संस्था/संगठन को सील किया जाएगा। विशेष प्रयास कर टीकाकरण की संख्या को प्रतिदिन बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा। इस हेतु व्यापक प्रचार प्रसार किया जाएं। जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट स्वयं के आंकलन के आधार पर राज्य सरकार की पूर्व अनुमति के बाद कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए स्थानीय प्रतिबंध लगा सकते हैं। 
11. वर्क फ्रोम होम को प्रोत्साहित किया जाएगा। राजकीय कार्यालयों में कार्यालय अध्यक्ष द्वारा आवश्यकतानुसार 75 प्रतिशत कार्मिकों को कार्य हेतु बुलाया जाएगा। शेष कार्मिक वर्क फ्रोम होम की स्थिति में रहेंगे।
12. शहरी सीमा क्षेत्र में कक्षा 1 से 9 तक नियमित कक्षा गतिविधियां इस अवधि के दौरान बंद रहेगी। कॉलेज के अन्तिम वर्ष की कक्षा के अलावा शेष सभी यूजी/पीजी की नियमित कक्षाएं बंद रहेगी किन्तु प्रायोगिक कक्षा हेतु विद्यार्थी लिखित अनुमति के बाद जा सकेंगे।
शिक्षण संस्थान प्रधान/ जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा किसी विद्यालय/कॉलेज को कोविड केस पाए जाने पर बंद किया जा सकेगा। नर्सिंग, पैरामेडिकल एवं मेडिकल कॉलेज पूर्व की भांति खुले रहेंगे। 
13. सिनेमा हॉल्स/थियेटर/मल्टीप्लेक्स, मनोरंजन पार्क एवं समान स्थान बंद रखे जाएंगे। स्विमिंग पूल्स/जिम को खोलने की अनुमति नहीं होगी।
14. सामाजिक, राजनैतिक, खेल, मनोरंजन, शैक्षणिक, सांस्कृतिक, धार्मिक सार्वजनिक/जन कार्यक्रमों में आयोजनकर्ता सुनिश्चित करेंगे कि हॉल क्षमता की 50 प्रतिशत क्षमता तक, अधिकतम 100 
व्यक्तियों की सीलिंग रखते हुए ही व्यक्ति अनुमत किए जाएं।
खुले स्थानों में, मैदान/जगह के आकार को ध्यान में रखते हुए प्रत्येक व्यक्ति 2 गज की दूरी संधारित करेगा। 1 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में 100 व्यक्तियों की सीलिंग रखी जाए। धार्मिक स्थलों पर भी इन निर्देशों का पालन किया जाएगा।
15. रेस्टोरेन्ट में रात्रिकालीन कफ्र्यू की पालना सुनिश्चित की जाएगी, परन्तु रेस्टोरेन्ट से टेक अवे एवं डिलीवरी पर यह लागू नहीं होगा। 16. विवाह संबंधी आयोजनों में यह सुनिश्चित किया जाएगा कि आमंत्रित मेहमानों की संख्या 100 से अधिक नहीं होगी। विवाह आयोजनकर्ता द्वारा समारोह की वीडियोग्राफी करवाई जायेगी एवं संबंधित उपखंड अधिकारी द्वारा मांगने पर उपलब्ध करवाई जायेगी। 17. यदि कोई मैरिज गार्डन/स्थान कोविड-19 प्रोटोकॉल के प्रावधानों का उल्लंघन करता पाया जाता है, तो उसको सील कर दिया जाएगा।