boltBREAKING NEWS
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  •  

योग, व्यायाम, ग्रंथ व साहित्य अध्ययन में समय बिताएं: राठौड़

योग, व्यायाम, ग्रंथ व साहित्य अध्ययन में समय बिताएं: राठौड़

भीलवाड़ा (हलचल)।  भारत विकास परिषद राजस्थान मध्य प्रांत के पदाधिकारियों की मौजूदगी में भीलवाड़ा जिले की प्रथम ऑनलाइन संपर्क बैठक राष्ट्रीय मंत्री मुकुंद सिंह राठौड़ की अध्यक्षता में आहूत की गई। बैठक में प्रांतीय अध्यक्ष पारसमल बोहरा एवं प्रांतीय महासचिव संदीप बाल्दी का मार्गदर्शन प्राप्त हुआ। बैठक में प्रांतीय संयोजक, शाखा प्रभारी एवं भीलवाड़ा जिले की सभी शाखाओं के दायित्वधारी उपस्थित थे।
बैठक की शुरुआत राष्ट्रीय मंत्री मुकन सिंह राठौड़ ने दीप प्रज्ज्वलन कर की। सुभाष शाखा सचिव शारदा चेचानी ने वंदेमातरम् गायन किया। भीलवाड़ा जिले के शाखा सचिवों ने अपनी शाखा की रिपोर्ट में शाखा का इस वर्ष का सदस्यता लक्ष्य, प्रांत को प्रेषित शुल्क, शाखा की एओपी व पैन कार्ड की स्थिति, बैलेंस शीट, बैंक में हस्ताक्षर चेंज आदि सभी की जानकारी प्रदान की। प्रांतीय महासचिव ने अपने उद्बोधन में सदस्यता एवं संगठन विस्तार की बात रखते हुए कहा कि सर्वप्रथम शाखा वर्ष 2019 की सदस्यता के आधार पर सदस्यता नवीनीकरण कर कम से कम वर्ष 2019 की सदस्यता में 15 प्रतिशत वृद्धि को लक्ष्य बनाकर संपर्क करें। उन्होंने वित्तीय प्रबंध के संदर्भ में बताया कि शाखाएं अपना बिटको फॉर्म व समय पर ऑडिटेड बैलेंस शीट प्रांत को 31 मई तक अनिवार्य रूप से प्रेषित करें व सभी शाखाएं बैंक में अपना अकाउंट खोलें और शाखा बैंक अकाउंट में अपना सदस्यता शुल्क ही जमा करें और कोई राशि जमा नहीं कराए। महासचिव ने बताया कि इस वर्ष भीलवाड़ा जिले में 16 शाखाओं से 20 शाखाएं करने का लक्ष्य है, जिसके लिए जिला सचिव व जिला अध्यक्ष प्रयासरत हैं और संगठन मंत्री के मार्गदर्शन में इस लक्ष्य को पूरा करें। प्रांतीय अध्यक्ष पारसमल बोहरा ने सभी शाखाओं को अपनी सदस्यता वृद्धि व नवीन सदस्यता तथा इस विकट परिस्थितियों में सभी सदस्यों से कैसे संपर्क बताएं बनाए रखें जिस पर विशेष जोर दिया। साथ ही जिले में प्रताप शाखा, सुभाष शाखा, आजाद, भीलवाड़ा व गंगापुर शाखा द्वारा चलाए जा रहे भोजन पैकेट वितरण की सराहना की और वर्तमान परिप्रेक्ष्य में सेवा के कार्यों के लिए सदैव तैयार रहने को कहा। खुला सत्र में प्रांतीय प्रभारी सुमित जागेटिया ने प्रस्ताव रखा कि इस समय जो शाखाएं आर्थिक रूप से समृद्ध हैं, उन्हें अपने सेवा प्रकल्प के तहत ऑक्सीजन कॉन्संट्रेटर व सिलेंडर की व्यवस्था कर सेवा का अच्छा उदाहरण देना चाहिए। इस संदर्भ में प्रांतीय अध्यक्ष ने सभी सक्षम शाखाओं से ऑक्सीजन कॉन्संट्रेटर व सिलेंडर की व्यवस्था करने तथा ऑक्सीमीटर रियायती दर पर उपलब्ध कराने का आग्रह किया। राष्ट्रीय मंत्री मुकन सिंह राठौड़ ने कहा कि प्रांत द्वारा चलाए जा रहे सदस्यता अभियान में गति प्रदान करें। उन्होंने कहा कि संगठन मंत्री शाखा विस्तार के कार्य को जिला अध्यक्ष जिला सचिव के साथ समन्वय बिठाकर लक्ष्य प्राप्ति में सहयोग करें।
उन्होंने कहा कि अभी की परिस्थितियों में पांच सूत्रों का पालन करें- रात को जल्दी सोना व सवेरे जल्दी उठना, नियमित योग व व्यायाम, घर के रचनात्मक कार्य करना, सात्विक आहार लेना और ग्रंथ अथवा पुस्तकें पढऩा। सभी को अपने जीवन शैली में इसे अपनाना चाहिए। बैठक का संचालन जिला सचिव मुकेश लाठी ने किया।

राजस्थान मध्य प्रांत की प्रथम महिला संपर्क बैठक राष्ट्रीय मंत्री मुकुंद सिंह राठौड़ अध्यक्षता में ऑनलाइन हुई। बैठक में सभी प्रांतीय महिला संयोजिका व शाखाओं की महिला प्रमुखों समेत 31 सदस्याओं की सहभागिता रहीं। बैठक में रीजनल मंत्री महिला एवं बाल विकास गुणमाला अग्रवाल, प्रान्तीय अध्यक्ष पारसमल बोहरा और प्रांतीय महासचिव संदीप बाल्दी का भी मार्गदर्शन मिला।
प्रांतीय महिला प्रमुख पूर्णा पारीक ने सभी प्रांतीय महिला सदस्यों एवं शाखा महिला प्रमुख का परिचय दिया। प्रांतीय संयोजिका भारती मोदानी ने अभिरुचि शिविर को मई माह में नवाचार के साथ तीन प्रकार से ऑनलाइन आयोजित करने की जानकारी दी। प्रांतीय संयोजिका पार्वती कुमावत की ओर से बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम को इस विषम परिस्थिति में आयोजन को इस संदर्भ में कुछ महत्वपूर्ण नवाचार सदन के पटल पर रखे। प्रांतीय संयोजिका रेखा जैन की ओर से महिलाओं को आत्मनिर्भरता के स्वरूप में किए जाने वाले विभिन्न कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए बताया कि महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के साथ उन्हें आत्म सम्मान से जीने के लिए प्रेरित करे। रीजनल मंत्री महिला एवं बाल विकास गुणमाला अग्रवाल ने शाखा में महिला प्रमुख की अहम भूमिका की जानकारी दी। प्रांतीय महासचिव संदीप बाल्दी ने खुले सत्र में महिलाओं द्वारा अपनी शंका और समस्याओं का समाधान एवं सुझाव का आदान-प्रदान हुआ। उन्होंने अपने उद्बोधन में शाखा महिला प्रमुख से शाखाओं की महिलाओं के साथ संपर्क बैठक आयोजित करने और प्रत्येक तीन माह में प्रांतीय महिला बैठक आयोजित कर नवाचार के साथ वर्चुअल माध्यम से कार्यक्रम आयोजित करने का मार्गदर्शन दिया। प्रांतीय अध्यक्ष पारसमल बोहरा ने शाखा महिला प्रमुखों को सक्रिय रहने का आह्वान किया। अध्यक्षीय उद्बोधन में राष्ट्रीय मंत्री मुकन सिंह राठौड़ ने राजस्थान मध्य प्रांत की महिलाओं द्वारा किए जाने वाले कार्यों की सराहना करते हुए अपने सारगर्भित उद्बोधन में महिलाओं को परिषद् की रीति नीति के अनुसार कार्य करने, आपसी प्रेम व संपर्क बढ़ाने और सभी को साथ लेकर आगे बढऩे की सीख दी। उन्होंने महाभारत के प्रसंग को आधार बनाते हुए बच्चों में संस्कार निर्माण की बात रखी।प्रांतीय प्रभारी कमलेश जी बंट ने सभी का आभार व्यक्त किया व राष्ट्रगान के साथ बैठक संपन्न हुई। बैठक का संचालन प्रांतीय महिला प्रमुख पूर्णा पारीक द्वारा किया गया।