boltBREAKING NEWS

सुपर फास्ट वंदे भारत एक्सप्रेस के रूकने से मच गई अफरा तफरी , इंजन मे आई खराबी

सुपर फास्ट वंदे भारत एक्सप्रेस के रूकने से मच गई अफरा तफरी , इंजन मे  आई खराबी

इटावा

 जिले में दिल्ली हावड़ा रेलमार्ग पर भरथना रेलवे स्टेशन पर इंजन खराब होने से सुपर फास्ट वंदे भारत एक्सप्रेस के रूकने से अफरा तफरी मच गई। नई दिल्ली से वाराणसी जा रही वंदे भारत एक्सप्रेस के इंजन के खराब होने से रेलवे अधिकारी परेशान हो गए। इटावा जंक्शन स्टेशन अधीक्षक पूरनमल मीना ने बताया कि सुपर फास्ट वंदे भारत एक्सप्रेस इटावा रेलवे स्टेशन से पास होकर इकदिल होते हुए जब भरथना की ओर जा रही थी तभी वंदेभारत एक्सप्रेस अचानक रुक गई। सुपर फास्ट बंदे भारत रेलगाडी के रुकने के पीछे इंजन मे खराबी की बात सामने आई है।

 इटावा जंक्शन स्टेशन अधीक्षक पूरनमल मीना ने बताया कि सुपर फास्ट वंदे भारत एक्सप्रेस इटावा रेलवे स्टेशन से पास होकर इकदिल होते हुए जब भरथना की ओर जा रही थी, तभी वंदे भारत एक्सप्रेस अचानक रुक गई। सुपर फास्ट वंदे भारत रेलगाड़ी के रुकने के पीछे इंजन मे खराबी की बात सामने आई है ।लोको पायलट ने इंजन में खराबी के चलते ट्रेन को रोक दिया और तकनीकी स्टाफ ने कमी को दूर करके ट्रेन को रवाना कराया। इंजन में आई खराबी के कारण नई दिल्ली से वाराणसी जा रही वंदेभारत एक्सप्रेस ट्रेन को करीब 15 मिनट तक भर्थना रेलवे स्टेशन पर खड़ी रही। 

 भरथना रेलवे स्टेशन पर सुबह तेज रफ्तार वंदेभारत एक्सप्रेस अचानक रुक गई तो सवार यात्रियों में अफरा-तफरी मची। नई दिल्ली से वाराणसी जा रही सुपरफास्ट वंदे भारत एक्सप्रेस को भरथना रेलवे स्टेशन पर सुबह 9 बजे रोका गया। ट्रेन के इंजन में कोई खराबी आ गई थी,जिसके कारण ड्राइवर ने ट्रेन को रेलवे स्टेशन पर रोक दिया। ट्रेन के रुकते ही आरपीएफ व जीआरपी ने पूरी ट्रेन को अपने घेरे में ले लिया।

   अग्निपथ योजना को लेकर चल रहे संभावित विरोध की आशंका के चलते पूरे स्टेशन पर पुलिस बल तैनात था। ट्रेन को करीब 15 मिनट तक रोके जाने के बाद वंदे भारत एक्सप्रेस में चल रहे तकनीकी स्टाफ ने ही इंजन की कमी को दूर कर दिया और उसके बाद ट्रेन को रवाना कर दिया गया। वाराणसी जा रही गाड़ी संख्या 22436 सुपरफास्ट वंदे भारत एक्सप्रेस जैसे ही इकदिल रेलवे स्टेशन को पार किया तभी इंजन के अगले हिस्से में तकनीकी कमी आ गई चलाक ने सूझ बूझ का परिचय देते हुए ट्रेन को भरथना रेलवे स्टेशन के प्लाटफॉर्म नंबर दो पर रोक दिया तथा ट्रेन में तैनात टैक्नीशियन टीम ने इंजन में आई। तकनीकी कमी को दूर करने के बाद बंदेभारत को आगे के लिए रवाना कर दिया गया ।