boltBREAKING NEWS
  •  
  • भीलवाड़ा हलचल app को अपडेट करें
  •  

भीलवाड़ा की बेटी की संदिग्ध मौत, पिता बोले-ससुराल वालों ने चाय में जहर पिलाकर मारा

भीलवाड़ा की बेटी की संदिग्ध मौत, पिता बोले-ससुराल वालों ने चाय में जहर पिलाकर मारा

 भीलवाड़़ा संपत माली। भीलवाड़ा की नवविवाहिता बेटी की चित्तौडग़ढ़ जिले के सोनियाणा स्थित ससुराल में संदिग्ध परिस्थितियों में हालत बिगडऩे के बाद यहां जिला अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई। पिता ने मृतका के पति, सास व ससुर पर दहेज में एक लाख रुपये की मांग कर प्रताडि़त और मारपीट करने के बाद चाय में जहर पिलाकर मारने का आरोप लगाया है। गंगरार थाना पुलिस ने शव का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराने के बाद शव पिता के सुपुर्द कर दिया। 
सदर थाने के रूपाहेली गांव निवासी तेजु बलाई ने गंगरार पुलिस को यहां जिला अस्पताल में एक रिपोर्ट पेश की। तेजू ने रिपोर्ट में बताया कि उसने अपनी बेटी लक्ष्मी (20) का विवाह दो साल पहले चित्तौडग़ढ़ जिले के सोनियाणा निवासी शिवरतन बलाई के साथ किया था। 
शादी के वक्त हैसियत के अनुसार दहेज दिया। लेकिन पति शिवरतन, ससुर हेमराज बलाई व सास जमनी दहेज की मांग को लेकर लक्ष्मी को प्रताडि़त करने लगे। वे, कम दहेज लाने की बात कहकर मारपीट करते। यह बात परिवादी को उसकी बेटी लक्ष्मी ने बताई। इसके बाद परिवादी ने अपने दामाद व सास-ससुर को समझाया, लेकिन वे नहीं माने। 
तेजू का आरोप है कि एक माह पहले दहेज व एक लाख रुपये की मांग करते हुये लक्ष्मी के साथ मारपीट की ओर उसे घर से निकाल दिया। करीब 15 दिन पहले दामाद, रूपाहेली आया और लक्ष्मी को साथ ले गया। कल सुबह करीब दस बजे लक्ष्मी का फोन आया कि दहेजव एक लाख रुपये की मांग को लेकर ससुराल वाले उसके साथ मारपीट कर रहे हैं। वे, कह रहे हैं कि सुबह तुम्हारी चाय में जहर मिलाकर पिला दिया है। तेजू ने बताया कि बाद में दुबारा फोन आया कि  भीलवाड़ा के महात्मा गांधी अस्पताल आ जाओ। इसके बाद वह अस्पताल गया। वह बेहौश हालत में थी।  उपचार के दौरान रात एक बजे लक्ष्मी ने दम तोड़ दिया। तेजू का आरोप है कि उसकी बेटी को ससुराल वालों ने जहर देकर मार दिया। तेजू ने रिपोर्ट में मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की मांग की है। 

पापा, मुझे ले जाओ, मार देंगे
तेजू ने बिलखते हुये बताया कि उसकी बेटी का कल उसकी मां के पास फोन आया। उसने, मां से कहा कि पापा से बात कराओ। जब, मैने उससे बात की तो वह रोती हुई बोली कि पापा, मुझे ले जाओ, ये मार देंगे।

पहले साइड पर बैठे रहे, फिर पति व ससुर छोड़कर चले गये
तेजू का आरोप है कि जिला अस्पताल में लक्ष्मी को भर्ती कराने के बाद उसका ससुर साइड पर बैठा रहा, जो बाद में उठकर चला गया। इसके बाद लक्ष्मी का पति भी अस्पताल में लक्ष्मी को छोड़कर चला गया।