boltBREAKING NEWS

महंगे हो सकते हैं टीवी-फ्रिज, जानिए कब तक बढ़ेगी कीमतें

महंगे हो सकते हैं टीवी-फ्रिज, जानिए कब तक बढ़ेगी कीमतें

लागत बढ़ने के चलते टीवी,वाशिंग मशीन और रेफ्रिजेरेटर्स समेत कई होम अप्लायंसेज और कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स के भाव 3-5 फीसदी तक बढ़ सकते हैं. इंडस्ट्री प्लेयर्स के मुताबिक कीमतों में यह बढ़ोतरी मई के आखिरी या जून के पहले हफ्ते तक हो सकती है. इनपुट कॉस्ट में बढ़ोतरी का असर कंपनियों खरीदारों पर डालेगी जिसके चलते इनके भाव में बढ़ोतरी होगी. इसके अलावा अमेरिकी डॉलर की तुलना में रुपये की कमजोरी के चलते भी आयातित सामान महंगा हो चुका है. बता दें कि प्रमुख कंपोनेंट्स के लिए इंडस्ट्री आयात पर ही निर्भर है.

 

 

कोरोना के चलते पार्ट्स की भी बढ़ी दिक्कत

चीन के शंघाई शहर में कोरोना महामारी के चलते सख्त लॉकडाउन लगा हुआ है. ऐसे में शंघाई पोर्ट पर कंटेनर जमा हो रहे हैं यानी वे आगे नहीं बढ़ रहे हैं तो पार्ट्स की किल्लत होने लगी है. इसके चलते मैन्यूफैक्चरर्स के इंवेंटरी पर दबाव बढ़ रहा है. कुछ टॉप लाइन प्रोडक्ट जो बड़े तौर पर आयात पर निर्भर हैं, वे बाजार में उपलब्ध नहीं हैं.

 

कमजोर रुपया और बढ़ा रही मुश्किलें

कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स एंड अप्लायंसेज मैन्यूफैक्चरर्स एसोसिएशन (CEAMA) के मुताबिक डॉलर की तुलना में रुपये की कमजोरी से इंडस्ट्री की दिक्कतें और बढ़ी हैं. सीईएएमए के प्रेसिडेंट एरिक ब्रेगांजा के मुताबिक कच्चे माल के भाव पहले ही ऊपर जा रहे हैं और अब डॉलर की तुलना में रुपये में गिरावट हो रही है. ऐसे में अब कंपनियां मुनाफे के लिए जून से 3-5 फीसदी कीमतें बढ़ा सकती हैं. हालांकि एरिक के मुताबिक अगर अगले दो हफ्ते में डॉलर के मुकाबले रुपया 75 रुपये पर पहुंच जाता है तो कीमतों में बढ़ोतरी थम सकती है. गुरुवार को रुपया 15 पैसे कमजोर होकर एक डॉलर की तुलना में 77.40 रुपये के भाव तक फिसल गया.