boltBREAKING NEWS
  •  
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  •  

कोरोना की रोकथाम के लिए सख्ती करें, अधिक से अधिक लोगों का हो टीकाकरण: जिला कलक्टर

कोरोना की रोकथाम के लिए सख्ती करें, अधिक से अधिक लोगों का हो टीकाकरण: जिला कलक्टर

चित्तौडग़ढ़ (हलचल)। जिला कलक्टर केके शर्मा की अध्यक्षता में वीसी कक्ष में कोरोना समीक्षा बैठक एवं जिला सतर्कता समिति बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से ली गई। बैठक में एडीएम प्रशासन रतन कुमार, एडीएम भूमि अवाप्ति अंबालाल मीणा, जिला परिषद सीईओ ज्ञानमल खटीक सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे। वीसी में जिले के उपखंड अधिकारी, तहसीलदार, ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी, विकास अधिकारी आदि जुड़े रहे। बैठक में जिला कलक्टर ने कोरोना के बढ़ते मामलों पर चिंता जाहिर करते हुए सभी अधिकारियों को कहा कि अगर हम इन्वोल्वमेंट, प्लानिंग और लीडरशिप के माध्यम से कार्य करेंगे तो हम निश्चित रूप से सफलता प्राप्त करेंगे।
जिला कलक्टर ने कहा कि हमें मन से लग कर कोरोना वायरस रोकथाम के कार्य में लगना होगा। जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि सड़कों पर निकल कर सख्ती करते हुए चालान काटें, ज्यादा लापरवाही करने वाले प्रतिष्ठानों को सीज करें एवं गाइडलाइंस की पालना सुनिश्चित करवाएं, तभी हम कोरोना महामारी को रोक पाएंगे। जिला कलक्टर ने बैठक में स्पष्ट रूप से निर्देशित करते हुए कहा कि हर उपखंड से प्रतिदिन कम से कम 100 व्यक्तियों के कोरोना सैंपल होने चाहिए, हर पॉजिटिव व्यक्ति के पीछे प्रभावी कांटेक्ट रेसिंग करते हुए कम से कम 30 लोगों के सैंपल लिए जाने चाहिए, इसी के साथ डिटेल में कांटेक्ट ट्रेसिंग होनी चाहिए।
जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि महाराष्ट्र से आने वाले लोगों की अनिवार्य रूप से सैम्पलिंग की जाए, माइक्रो कंटेनमेंट जोन पर फोकस किया जाए एवं टीकाकरण हेतु लोगों को अच्छे से प्रेरित किया जाए। जिला कलक्टर ने टीकाकरण हेतु जनप्रतिनिधियों को साथ लेकर कार्य करने हेतु निर्देशित किया। नगर परिषद आयुक्त से कहा कि समस्त पार्षदों का सहयोग लेकर अधिक से अधिक लोगों को टीकाकरण सेंटर तक लेकर आएं।
जिला कलक्टर ने कहा कि इंटरस्टेट सीमा पर बनाई गई चेक पोस्ट पर अधिकारी नियमबद्ध तरीके से कार्य करें, बाहर से आने वाले यात्रियों का रिकॉर्ड मेंटेन किया जाए, अंडरटेकिंग अनिवार्य रूप से भरवाई जाएं, जिन व्यक्तियों के सर्दी, खांसी, बुखार आदि के लक्षण हैं, उनका रिकॉर्ड अलग से दर्ज किया जाए और जो व्यक्ति क्वारंटाइन है उनकी भी प्रभावी मॉनिटरिंग कर सुनिश्चित किया जाए कि वह बाहर नहीं निकल रहा है। जिला कलक्टर ने निर्देश देते हुए कहा कि नई गाइडलाइन के अनुसार समस्त शहरी क्षेत्र में कक्षा 1 से 9 तक के स्कूल बंद कर दिए गए हैं, जिसकी अनुपालन सुनिश्चित की जाए। कलक्टर ने विवाह समारोह में अधिकतम 100 आमंत्रित मेहमानों की सीमा सुनिश्चित करने हेतु समस्त एसडीएम को निर्देशित किया। जिला कलक्टर ने हर चेक पोस्ट पर दो-दो पल्स ऑक्सीमीटर उपलब्ध कराने हेतु निर्देश दिए।
एडीएम भूमि अवाप्ति अंबा लाल मीणा ने कहा कि टोल फ्री नंबर 181 को एक्टिवेट रखें, सभी एसडीएम नियमित रूप से बाजार में निरीक्षण कर चालान काटने और आवश्यक होने पर दुकानों को सील करने जैसी कार्रवाई भी करें और कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर की पालना सुनिश्चित करवाएं। एडीएम ने उपखंड अधिकारियों को सामाजिक संगठनों को साथ लेकर कार्य करने हेतु भी कहा। बैठक में सभी उपखंड अधिकारियों ने अपने-अपने उपखंडों में कोरोना रोकथाम हेतु जारी प्रयासों की जानकारी दी। बैठक के अंत में जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि 14 अप्रैल तक नियमित रूप से सख्ती दिखाएं एवं नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ चालान काटने की कार्रवाई करें ताकि कोरोना संक्रमण को रोका जा सके। बैठक में सतर्कता समिति में दर्ज प्रकरणों की सुनवाई एवं समीक्षा करते हुए जिला कलक्टर ने संबंधित अधिकारियों से चर्चा कर समय से निस्तारण करने हेतु निर्देश देकर परिवादियों को राहत प्रदान करने के लिए कहा।
बैठक में एडीएम प्रशासन रतन कुमार, एडीएम भूमि अवाप्ति अंबालाल मीणा, जिला परिषद सीईओ ज्ञानमल खटीक, यूआईटी सचिव एवं आरएए सी डी चारण, पुलिस उपाधीक्षक शाहना खानम, जिला रसद अधिकारी विनय कुमार शर्मा, तहसीलदार शिव सिंह, नगर परिषद आयुक्त रिंकल गुप्ता, सीएमएचओ डॉ रामकेश गुर्जर, पीएमओ दिनेश वैष्णव सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।