boltBREAKING NEWS
  •  
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  •  

लापता तीन बहनों की लाशें बांध में तैरती हुई मिली

लापता तीन बहनों की लाशें बांध में तैरती हुई मिली

डूंगरपुर।उदयपुर जिले की सीमा क्षेत्र में बने जिले के सबसे बड़े बांध सोमकमला-आंबा में चार दिन से लापता तीन बहनों के शव तैरते मिले। तीनों के हाथ-पैर उनकी चुन्नी से बंधे थे। पुलिस का मानना है कि तीनों बहनों ने सामूहिक आत्महत्या की है। तीनों बहनें डूंगरपुर जिले के आसपुर स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय की छात्राएं थीं। सबसे पहले लोगों ने डूंगरपुर तथा उदयपुर जिले के सबसे बड़े बांध सोमकमला-आंबा के गेट नंबर एक पर एक साथ दो युवतियों के शव उतराते मिले। उनके हाथ-पैर आपस में चुन्नियों से बंधे दिखे। इस संबंझ में सूचना मिलते ही आसपुर थाना पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन घटनास्थल के उदयपुर जिले में होने पर संबंधित झल्लारा थाना पुलिस को सूचित किया गया।

झल्लारा थाने से प्रभारी मनीष चारण व पुलिस टीम मौके पर पहुंची। इसी बीच, आसपुर थाने से पता चला कि चार दिन पहले रायकी गांव की तुलसी पत्नी खातु पारगी ने अपनी तीन बेटियों के लापता होने की प्राथमिकी दर्ज कराई थी। पुलिस तुलसी को लेकर घटनास्थल पर आई। तुलसी ने अपनी दोनों बेटियों को पहचान लिया। उनकी पहचान शिल्पा और उसकी छोटी बहन शिवानी के रूप में हुई। उसने अपनी बीच वाली बेटी रवीना के बारे में पूछा। इस पर पुलिस रवीना की तलाश में जुट गई। दो घंटे की पड़ताल के बाद रवीना का शव भी बांध के गेट नंबर छह से बरामद हुआ। तीनों बहनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए सलुम्बर स्थित राजकीय अस्पताल लाया गया। यहां पोस्टमार्टम से पता चला कि तीनों की मौत चार दिन पहले ही हो चुकी थी। पुलिस का कहना है कि तीनों बहनों ने सामूहिक आत्महत्या की है। बांध में कूदने से पहले तीनों ने अपने हाथ-पैर चुन्नी से बांधे तथा आत्महत्या कर ली।