boltBREAKING NEWS
  •  
  • भीलवाड़ा हलचल app को अपडेट करें
  •  

लॉकडाउन के खुलते ही गड़बड़ाने वाला है घर का बजट

लॉकडाउन के खुलते ही गड़बड़ाने वाला है घर का बजट

भीलवाड़ा हलचल।कोरोना की चेन तोडऩे के लिए जन अनुशासन, रेड अलर्ड जन अनुशासन व सख्त लॉकडाउन के बाद अभी मॉडिफाइड लॉकडाउन चल रहा है। इसमें प्रतिष्ठान बंद होने से लोगों को पानी के बिल नहीं बांटे गए। बिजली के बिल भी बिना रीडिंग लिए ही औसत के अनुरूप भेज दिए गए। अब जुलाई लगते ही इन बिलों की राशि वसूली जाएगी। जो पहले से बंद की मार झेल रहे जिलेवासियों के घरों का बजट गड़बड़ाने वाली है। जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग की ओर से पाली शहर के 44 हजार घरों के मार्च से बिल नहीं बनाए गए है। उन सभी को जुलाई लगते ही मार्च व अप्रेल के बिल दिए जाएंगे। इसके अगले ही माह अगस्त में मई व जून का बिल थमाया जाएगा। इधर, डिस्कॉम की ओर से भी इसी माह सही रीडिंग का बिल भेजकर करंट दिया जाएगा।

आने वाले समय में किसी भी हालात से निपटने के लिए लोगों को घरेलू स्तर पर अपनी प्लानिंग में बदलाव करना होगा. फिर चाहे वह घर का बजट ही क्यों न हो.

जानकार बताते हैं कि महामारी खत्म होने के बाद सबसे बड़ी समस्या रोजगार की आ सकती है, क्योंकि लॉकडाउन में बहुत से उद्योग-धंधे बंद हो गए हैं और हजारों लोग सड़क पर आ गए हैं. जो बड़े उद्योग या कंपनियों में काम-काज चल भी रहा है वहां छटनी का संकट आ सकता है.

 

 

लोगों के मुनाफे कम हो जाएंगे. शेयर मार्केट (Share Market) हो या फिर म्यूचुअल फंड्स (Mutual Funds) सभी के रिटर्न कम आएंगे. रियल एस्टेट का उभरना तो लंबे समय तक दिखाई नहीं दे रहा है.

घर के बजट में करें बदलाव
इसलिए लोगों को अभी से संभल कर कदम उठाने की जरूरत है. और इस बदलाव से सबसे पहला असर घर के बजट (Household Budget) खासकर रसोई के बजट में देखने को मिलेगा.

सैर-सपाटे या फिर बाहर के खाने पर लगाम लगेगी. क्योंकि लॉकडाउन से पहले जो लोग गर्मियों की छुट्टियों में सैर-सपाटे का प्लान बनाए हुए थे, वे सभी चौपट हो चुके हैं. जानकारों का तो यहां तक कहना है कि लोग अब अगले कई सालों तक बाहर घूमन-फिरने का प्लान नहीं बनाएंगे.

सप्ताह में कम से कम एक बार हम बाहर खाने का प्लान जरूर बनाते हैं. अब चाट-पकौड़ी या किसी रेस्टोरेंट के खाने पर भी हमें कुछ समय तक के लिए रोक लगानी होगी.

घर में भी जरूरत की सामान पर फोकस दिया जाना चाहिए.

आपने कोई सामान जैसे- एलईडी, नई बाइक या फिर नई कार खरीदने का कुछ प्लान किया हुआ है तो उसे भी कुछ समय के लिए टाल दें. और उसके लिए बनाकर रखे बजट को संभाल कर रखें.

कुछ लोग अपने इन्वेस्टमेंट में कटौती करने का प्लान कर रहे हैं. मार्केट एक्सपर्ट सलाह देते हैं कि फिलहाल भले ही रिटर्न कम मिल रहा हो, लेकिन अपने म्यूचुअल फंड जैसे फंड्स में इन्वेस्टमेंट जारी रखें. भले ही घर के खर्चों में कटौती कर लें.