boltBREAKING NEWS
  •  
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  •  

कार पलटने से दंपती की मौत, तीन साल की बेटी को खरोच तक नहीं आई

कार पलटने से दंपती की मौत, तीन साल की बेटी को खरोच तक नहीं आई

राजसमंद । जिले में रविवार को हाईवे पर बेकाबू कार के पलटने से एक दंपती की मौत हो गई, जबकि कार में बैठी तीन साल की उनकी बेटी को खरोच तक नहीं आई। हादसे में उनका तेरह साल का बेटा भी बच गया, उसका हाथ फ्रेक्चर हो गया। हादसा राजसमंद जिले के भीम थाना क्षेत्र में टोगी गांव के समीप हुआ। हादसा इतना भयंकर था कि कार में फंसे व्यक्ति के शव को निकालने में एक घंटे की मशक्कत लगी। भीम थाना पुलिस ने बताया कि मृतकों में नौवा हनुमानगढ़ निवासी सिद्धार्थ (35) पुत्र नेकीराम बेनीवाल व उनकी पत्नी सुमन बेनीवाल (32) शामिल है, जबकि उनका बेटा सात्विक (13)के हाथ में चोट आई और फ्रेक्चर आया है।

हादसे में उनकी तीन साल की बेटी सानवी भाग्यशाली रही, जिसे खरोच तक नहीं आई। परिवार सूरत से हनुमानगढ़ लौट रहा था कि भीम थाना क्षेत्र में उनकी कार बेकाबू हो गई और पलट गई थी। कार में फंसा सिद्धार्थ का शव क्रेन की मदद से एक घंटे की मशक्कत के बाद निकाला जा सका। इससे पहले ग्रामीणों ने उसकी पत्नी, बेटा तथा बेटी को निकाल लिया था। सिद्धार्थ तथा उसकी पत्नी सुमन की मौके पर ही मौत हो चुकी थी। थानाधिकारी बालूराम का कहना है कि सिद्धार्थ कपड़े का कारोबारी था और सूरत में उसकी थोक की दुकान है।

 

बच्चों को नहीं पता, माता-पिता नहीं रहे

सात्विक सातवीं का विद्यार्थी है। सात्विक के हाथ में फ्रेक्चर होने पर उसे जिला अस्पताल ले जाया गया। इस बीच पुलिस ने सिद्धार्थ के परिजनों को सूचना दी जो हनुमानगढ़ से रवाना हो चुके हैं। फिलहाल दोनों बच्चों की देखभाल ग्रामीण कर रहे हैं। उन्हें अभी तक नहीं बताया गया कि उनके माता-पिता दुनिया में नहीं रहे। गौरतलब है कि इससे पहले भी प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर हुए सड़क हादसों में कई लोगों की मौत हो चुकी है।