boltBREAKING NEWS
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  •  

कोरोना से एक हफ्ते में उजड़ा हंसता-खेलता परिवार, सास-जेठ और पति की मौत से सदमे में आकर बहू ने लगाई फांसी

कोरोना से एक हफ्ते में उजड़ा हंसता-खेलता परिवार, सास-जेठ और पति की मौत से सदमे में आकर बहू ने लगाई फांसी

इंदौर । कोरोना वायरस ने कई लोगों को अपनों से हमेशा के लिए जुदा कर दिया है। निश्चित ही यह असहनीय दुख है लेकिन कई लोगों के लिए अपनों का चले जाना इतना बड़ा सदमा बन रहा है कि वे खुद का जीवन खत्म कर रहे हैं। ऐसा ही हिला देने वाला एक मामला मध्य प्रदेश के देवास जिले से आया है। यहां महज हफ्ते भर में हंसता-खेलता परिवार खत्म हो गया। यहां कोरोना की वजह से सास, जेठ और पति को खोने वाली परिवार की छोटी बहू ने भी फांसी लगाकर जान दे दी। यह दुखद घटना देवास के अग्रवाल समाज के अध्यक्ष और व्यापारी बाल किशन अग्रवाल के घर की है। बाल किशन की पत्नी का लगभग आठ दिन पहले कोरोना की वजह से निजी अस्पताल में निधन हो गया था। इसके बाद कोरोना ने ही उनके बड़े बटे संजय गर्ग की जान ले ली और फिर छोटे बेटे स्वपनेश ने भी कोविड के आगे दम तोड़ दिया। एक हफ्ते के अंदर पति, जेठ और सास को खोने वाली परिवार की छोटी बहू यह सदमा बर्दाश्त न कर सकी और आखिरकार उसने भी फांसी लगाकर जान दे दी।अब परिवार में सिर्फ व्यापारी बालकिशन गर्ग, उनकी बड़ी बहू और दोनों बेटों  के बच्चे बचे हैं। यह परिवार सिविल लाइन थाना क्षेत्र के मैना श्री कॉलोनी में रहता है।