boltBREAKING NEWS
  •   दिन भर की वीडियो न्यूज़ देखने के लिए भीलवाड़ा हलचल यूट्यूब चैनल लाइक और सब्सक्राइब करें।
  •  भीलवाड़ा हलचल न्यूज़ पोर्टल डाउनलोड करें भीलवाड़ा हलचल न्यूज APP पर विज्ञापन के लिए सम्पर्क करे विजय गढवाल  6377364129 advt. [email protected] समाचार  प्रेम कुमार गढ़वाल  [email protected] व्हाट्सएप 7737741455 मेल [email protected]   8 लाख+ पाठक आज की हर खबर bhilwarahalchal.com  

नवगठित ज़िले शाहपुरा की प्रथम आशान्वित ब्लॉक स्तरीय बैठक का कोटड़ी में हुआ आयोजन

 नवगठित ज़िले शाहपुरा की प्रथम आशान्वित ब्लॉक स्तरीय बैठक का कोटड़ी में हुआ आयोजन

शाहपुरा   पेसवानी | प्रत्येक नागरिक के जीवन स्तर को बेहतर बनाने तथा सभी के लिये समावेशी विकास सुनिश्चित करने के उद्देश्य से नवगठित ज़िले शाहपुरा के आशान्वित ब्लॉक कोटड़ी की प्रथम ब्लॉक स्तरीय बैठक शनिवार को कोटड़ीं के पंचायत समिति सभागार में ज़िला कलेक्टर टीकम चन्द बोहरा की अध्यक्षता में आयोजित हुई |


बैठक में ज़िला कलेक्टर  बोहरा ने ब्लॉक के विकास की असीम संभावनाओं पर विस्तार में चर्चा की साथ ही बताया की आशान्वित ब्लॉक के प्रमुख घटक स्वास्थ्य एवं पोषण , महिला एवं बाल विकास , शिक्षा , कृषि तथा आधारभूत संरचना एवं सामाजिक सुरक्षा है | बैठक में संबंधित विभागों के ज़िला स्तरीय एवं ब्लॉक स्तरीय अधिकारियो को ज़िला कलेक्टर ने नीति आयोग द्वारा निर्धारित लक्ष्यों को निर्धारित समय में प्राप्त करने के लिए प्रभावी दिशा निर्देश प्रदान किए |  इस अवसर पर ज़िला कलेक्टर   बोहरा ने कहा कि 15 दिन बाद  इनकी पुनः समीक्षा की जावेगी।


बैठक के अन्तर्गत ब्लॉक में उपलब्ध संसाधनों पर बेहतर कार्य करने, ब्लॉक का सर्वांगीण विकास, नीति आयोग द्वारा निर्धारित स्वास्थ्य, पोषण, शिक्षा, कृषि, आधारभूत संरचना, पेयजल, स्वच्छता, वित्तीय समावेशन तथा सामाजिक विकास के इंडिकेटर को लेकर चर्चा की गई | ज़िला कलेक्टर बोहरा ने कहा की सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाले ब्लॉक से तुलना कर सुधार के हर संभव प्रयास करें तथा आशान्वित ब्लॉक कोटड़ीं की विभिन्न सामाजिक-आर्थिक विषयों यथा शिक्षा, कृषि एवं जल संसाधन, वित्तीय समावेशन एवं कौशल विकास और अवसंरचना आदि पर वर्तमान स्थिति की बिंदुवार समीक्षा कर आगामी लक्ष्य, चुनौतियों, प्रस्तावित कार्य योजना के बारे में चर्चा की गई |


अनेक विषयों पर हुई चर्चा 


 बैठक में आशान्वित ब्लॉक कोटड़ी की विभिन्न सामाजिक-आर्थिक विषयों यथा शिक्षा, कृषि एवं जल संसाधन, वित्तीय समावेशन एवं कौशल विकास और अवसंरचना आदि पर वर्तमान स्थिति की बिंदुवार समीक्षा कर आगामी लक्ष्य, चुनौतियों, प्रस्तावित कार्य योजना के बारे में चर्चा की गई | चर्चा के दौरान शिक्षा विभाग को कोटड़ी ब्लॉक में प्राथमिक से उच्च प्राथमिक और उच्च प्राथमिक से माध्यमिक कक्षाओं मे इस सत्र में प्रवेश नहीं लेने वाले बालक - बालिकाओं का चिन्हीकारण विद्याल्यवार कर उन्हें पीटीएम/एसडीएमसी/एसएमसी समाज सेवी संस्थाओं एनजीओ का सहयोग लेकर ड्राप आउट बच्चो का शत प्रतिशत नामांकन सुनिश्चित करवाने के निर्देश दिये गये तथा सत्र 2022-23 में अनुत्तीर्ण छात्र छात्राओं का सत्र 2023-24 में दसवी व बारहवीं बोर्ड का परिणाम शत प्रतिशित सुनिश्चित करने के लिए प्रयास करने के निर्देश दिये गये |
इसी तरह समाज कल्याण विभाग द्वारा जानकारी दी गई की ब्लॉक कोटड़ी में सामाजिक सुरक्षा पेंशनर्स के कुल 37007 पेंशनर में से  33593पेंशनर्स ने ही वार्षिक भौतिक सत्यापन करवाया है इस अनुसार विभाग को शेष रहे 3414 पेंशनर के वार्षिक सत्यापन जल्द करवाने के निर्देश दिये गये जिस से  उन्हें नियमित रूप से पेंशन मिल सके |
ब्लॉक कोटडी में कुल 2016 बच्चे पालनहार योजना से लाभान्वित हो रहे हैं जिसमें से 1803 बच्चों ने ही अपने अध्यननरत होने का वार्षिक सत्यापन करवाया है जानकारी के अनुसार विभाग को शेष रहे 213 बच्चे जो पालनहार योजना से जुड़े हुए हैं उनके अध्यनरत प्रमाण पत्र  का वार्षिक सत्यापन करवाने के निर्देश दिये गये ताकि है ताकि नियमित रूप से भुगतान किया जा सके | बैठक में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के 12 सप्ताह में एएनसी पंजीकरण , 4 एएनसी चैक -अप, 180 आईएफ़ए वितरण, संस्थागत प्रसव
तथा पूर्ण टीकाकरण सहित कुल पांच इंडिकेटर की समीक्षा की गई |


विभिन्न पोर्टल पर रिपोर्टिंग के दिये निर्देश 


ज़िला कलेक्टर  बोहरा ने कहा की संबंधित अधिकारी स्वयं प्रगति का अवलोकन करे और कमियां पहचान कर उन्हें दूर करें, आशान्वित ब्लॉक कोटड़ीं में किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी | जिला कलक्टर ने स्थानीय आवश्यकतानुसार कार्य कर विभिन्न पोर्टल पर रिपोर्टिंग को उचित तरीके से विहित समय पर किये जाने के दिशा निर्देश भी दिए |


बेहतर प्रदर्शन के दिए दिशा-निर्देश


जिला कलक्टर ने   बोहरा ने संबंधित अधिकारियों से ब्लॉक में एनीमिया, पोषण, बाल स्वास्थ्य, आंगनवाड़ी केंद्र, जल कनेक्शन, शौचालय की कार्यात्मक स्थिति, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, कुल विद्यालय, ड्रॉप आउट की स्थिति, डोर टू डोर वेस्ट कलेक्शन, पौधारोपण, कृषि एवं संबंधित गतिविधियों की जानकारी ली और सभी मानकों पर बेहतर प्रदर्शन के दिशा-निर्देश दिए |

बैठक के दौरान अतिरिक्त ज़िला कलेक्टर  मुकेश कुमार मीणा तथा उपखण्ड अधिकारी  मोहकम सिंह ने भी बैठक में आशान्वित ब्लॉक की प्रगति के संबंध में अपने विचार रखे |