boltBREAKING NEWS

श्री राम कथा के पांचवे दिन हुआ श्री राम और सीता का स्वयम्वर

श्री राम कथा के पांचवे दिन हुआ श्री राम और सीता का स्वयम्वर

 

 

निम्बाहेड़ाBHILWARA HALCHAL। जे.के. सीमेंट की आवासीय कॉलोनी कैलाश नगर- 2 में आयोजित की जा रही 9 दिवसीय श्री राम कथा के पांचवे दिन प्रभु श्री राम एवं सीता माता के स्वयम्वर का सजीव चित्रण एवं वृतांत कथावाचक पं. राजेन्द्र प्रसाद तिवारी के द्वारा सुनाया गया।

इस अवसर पर कथावाचक पं. तिवारी ने कहा कि भगवान श्री राम और माता सीता इस समस्त चराचर जगत के कर्ताधर्ता भगवान श्री विष्णु और माता लक्ष्मी के स्वरूप थे, जिन्होंने धर्म की पुनर्स्थापना और मनुष्य जाति के लिये एक आदर्शवादी व मर्यादित जीवन की नियमावली एवं मिसाल कायम करने के लिये धरती पर मानव रूप में अवतार लिया था। कथावाचक पं तिवारी ने कहा कि गृहस्थ जीवन में जब भी आदर्श पति-पत्नी का जिक्र होता है, तो आज भी प्रभु श्री राम और माता सीता का ही उदाहरण दिया जाता है।

भगवान श्री राम और माता सीता के विवाह स्वयंवर प्रसंग प्रस्तुत करते हुए श्री राम कथा महोत्सव के पांचवे दिन कथावाचक पंडित राजेन्द्र प्रसाद तिवारी ने सुन्दर संगीतमय प्रस्तुति दी। इस अवसर कथा पांडाल उपस्थित  में सैंकड़ों स्त्री-पुरुषों ने नाचते झूमते श्री राम एवं माता सीता स्वयंवर में उत्साह से भाग लिया। कथा के दौरान प्रभु श्री राम को छप्पन भोग का प्रमाद चढाया व विभिन्न यजमानों द्वारा भगवान श्री राम एवं माता सीता का पग प्रक्षलन किया गया। शनिवार को प्रभु श्री राम की जंगल यात्रा व राम केवट मिलत के वृतांत का सजीव मंचन किया जाएगा।