boltBREAKING NEWS
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ

सर्दियों में नहीं होगी विटामिन-डी की कमी, अगर आज़माएंगे ये 5 फूड रेसीपीज़

सर्दियों में नहीं होगी विटामिन-डी की कमी, अगर आज़माएंगे ये 5 फूड रेसीपीज़

 लाइफस्टाइल डेस्क। एक सेहतमंद शरीर और दिमाग़ के लिए पर्याप्त मात्रा में विटामिन और मिनर्ल्स बेहद ज़रूरी होते हैं। फलों और सब्ज़ियों के सेवन से शरीर को ये पोषक तत्व मिल जाते हैं। आप जो भी खाते ही उससे आपके शरीर में पर्याप्त मात्रा लगभग सभी विटामिन और मिनर्ल्स पहुंच जाते हैं। हालांकि, कई बार खाने से मिलने वाले इन सभी पोषक तत्वों के बावजूद सर्दियों में शरीर में विटामिन-डी की कमी हो जाती है। सर्दी के इस मौसम में अक्सर लोगों में विटामिन-डी की सबसे ज़्यादा कमी हो जाती है। ऐसा इसलिए क्योंकि हमें सबसे ज़्यादा विटामिन-डी सूरज से मिलता है और सर्दियों में सूरज कम ही निकलता है। 

हाल ही में जारी एक रिपोर्ट के अनुसार, भारत में 70 फीसदी लोग विटामिन-डी की कमी से ग्रस्त हैं। इनमें पुरुषों की तुलना महिलाएं ज़्यादा हैं। विटामिन-डी की कमी का पता लगाने के लिए टेस्ट कराने होते हैं। अगर आप भी सर्दियों में विटामिन-डी की कमी से जूझते हैं तो हम आपको बता रहे हैं कि किन चीज़ों की मदद से इस कमी को पूरा किया जा सकता है।

1. चिकन, मशरूम, अंडों, हरी सरसों और तिल में भी विटामिन-डी पाया जाता है। आप सभी चीज़ों को मिलाकर सलाद बना सकते हैं। इसे खाने से भी विटामिन-डी की कमी पूरी हो सकती है। इसके लिए आप उबले हुए चिकन और अंडों में मशरूम, हरी सरसों और तिल के बीज मिलाकर सलाद बना सकते हैं।

2. टूना मच्छली में काफी अच्छी मात्रा में विटामिन-डी मौजूद होता है। इसके लिए आप टूना का सैंडविच बनाकर खा सकते हैं। यह सैंडविच शरीर में विटामिन-डी की कमी को आसानी से पूरा कर देगा। इसे बनाने के लिए आटे की ब्रेड में प्याज़, खीरा, अंकुरित दाल और का इस्तेमाल किया जाता है।

3. शरीर में विटामिन-डी की कमी को पूरा करने के लिए एवोकाडो भी काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। एवोकाडो में मौजूद हेल्दी फैट शरीर के लिए लाभदायक होते हैं। आप इसे रोज़ाना सुबह के नाश्ते में ब्रेड पर स्प्रेड कर खा सकते हैं। 

4. कई लोग उबले हुए अंडे के सफेद और पीले हिस्से को अलग करके खाते हैं। अंडे का पीला हिस्सा यानी यॉक में हेल्दी फैट और कार्ब्स मौजूद होते हैं। विटामिन-डी की कमी को पूरा करने के लिए काली और हरी बीन्स के साथ इसे खाया जा सकता है। 

Disclaimer: लेख में दिए गए सुझाव और टिप्स सिर्फ सामान्य जानकारी के उद्देश्य के लिए हैं और इसे पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। इसके बारे में ज़्यादा जानकारी या नई चीज़ों को अपनी डाइट में शामिल करने से पहले अपने डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ से ज़रूर सलाह लें।  

 

  

ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम

cu