boltBREAKING NEWS

वायरल हो रहे शादी के इस कार्ड को हरियाणवी बोली में लिखा

वायरल हो रहे शादी के इस कार्ड को हरियाणवी बोली में लिखा

 

शादी को उत्सव की तरह ही माना जाता है। शादी से पहले काफी चीजों का ध्यान रखा जाता है, जैसे कि कौन कैसे कपड़े पहनेगा, खाने पीने का सामान क्या रहेगा और शादी में कौन सा बैंड बुलाया जाएगा। यहां तक की शादी में लोगों को आमंत्रित करने के लिए कार्ड भी काफी महत्वपूर्ण होता है। शादी में छपने वाला कार्ड एक ऐसी चीज है जिसे हर कोई देखता है। लोग कार्ड को काफी ध्यान से तैयार कराते हैं, जिसमें कार्ड की डिजाइन से लेकर भाषा तक को काफी अहमियत दी जाती है। 

आमतौर पर भारत में शादी के कार्ड को हिंदी इंग्लिश स्थानीय भाषा में छपवाया जाता है। कई लोग इसे प्रांतीय भाषा या क्षेत्रीय भाषा में भी छपवाते हैं। सोशल मीडिया पर आजकल एक कार्ड चर्चा का विषय बना हुआ है। जिसे सोशल मीडिया पर काफी शेयर किया जा रहा है। 

हरियाणवी बोली में लिखा है कार्ड

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे शादी के इस कार्ड को हरियाणवी बोली में लिखा  है। कार्ड में दूल्हा और दुल्हन की जगह छोरा और छोरी लिखा हुआ है। इस कार्ड में दूल्हे का नाम सुनील है और दुल्हन का नाम आरती। इस कार्ड में लिखा है “बड़े चाव ते न्यौंदा देरे, सब काम छोड के आणा होगा''। इसके अलावा ये भी लिखा गया है ''दूल्हा-दुल्हन का शुभ विवाह टेक दिया है। अर इस खुशी के मौके पे थारा सारे कुणबे का न्यौता सै अर म्हारा सारा कुणबा थारे आण की गाम हैबतपुर जिला जीन्द में कसृनी तै कसूती अर ऐडी ठा-ठा कै बाट देखेगा''।

 

इस कार्ड में शादी समारोह से जुड़े कार्यक्रमों की लिस्ट भी दी गई है जिसमें लिखा है- ''खाने पै टूट पड़न का टेम, छड़दम तारण का टेम….कार्ड ने नीचे लिखा है- “मेरे पै दौबारा आण का टेम कोनी, कदे मेरी बाट मैं रह ज्यो, मेरे भाई के ब्याह मैं थारि सारां का आणा घणा जरूरी सै- कोमल, आशु”।

ये शादी का कार्ड अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। कई लोग कार्ड को पसंद कर रहे हैं। इस कार्ड को पिनट्रेस्ट पर Shailendra Tokas नाम के शख्स ने शेयर किया है।