boltBREAKING NEWS
  •  
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  •  

तीन मंजिला फैक्ट्री गिरने से दबे तीन मजदूराें की माैत, 36 काे बाहर निकाला

 तीन मंजिला फैक्ट्री गिरने से दबे तीन मजदूराें की माैत, 36 काे बाहर निकाला

लुधियाना | डाबा रोड के मुकंद सिंह नगर इलाके में साेमवार सुबह हुए हादसे में लेबर के ऊपर लेंटर गिरने से दबे मजदूराें में से 36 काे निकाल लिया। हादसे में तीन मजदूराें की सिविल अस्पताल में माैत हाे गई, जबकि दाे की हालत गंभीर है। हादसा उस समय हुआ जब मजदूर यहां तीसरी मंजिल के नीचे काम कर रहे थे।

घटना सुबह 9:30 बजे की है। मुकुंद सिंह नगर इलाके में जसमेल सिंह एंड संस नाम की फैक्ट्री की तीसरी मंजिल का लेंटर उठाया जाना था। इसके लिए सुबह 4:00 बजे से ही ठेकेदार मजदूरों समेत पहुंच गया और काम शुरू कर दिया गया। बताया जा रहा है कि लेंटर को उठाने के लिए 40 जेक लगाए गए थे।

लुधियाना में बिल्डिंग का लेंटर गिरने से कई लोग दबे। 

हादसे से साथ वाली फैक्ट्री में भी नुकसान

 

लेंटर गिरने से टूटी दीवार पीछे वाली फैक्ट्री बालाजी इंटरप्राइजेज में जा गिरी, जिससे कुछ कमरों काे नुकसान पहुंचा है। साथ ही पीछे खड़े एक टेंपो और एक ऑटो रिक्शा भी चपेट में आ गए। टेंपू के अंदर बैठा ड्राइवर परमिंदर सिंह गंभीर रूप से घायल हो गया उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। एक अन्य फैक्ट्री जीके प्लेटिंग के सेट के ऊपर भी दीवार का मलबा गिरा। जिसके नीचे काम कर रहे फैक्ट्री के तीन मजदूर दब गए। उन्हें बाहर निकालकर अस्पताल पहुंचाया गया।

हादसे के बाद नाै घायलों को निकाल अस्पताल भेजा।  

नगर निगम से नहीं ली थी परमिशन

पुलिस कमिश्नर राकेश अग्रवाल और डीसी वरिंदर शर्मा घटनास्थल का जायजा लेने पहुंचे।  

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि लेंटर गिरते ही चार-पांच मजदूर बाहर की और गिर गए। चार-पांच मजदूरों ने भागकर अपनी जान बचाई जबकि अन्य लेंटर के नीचे दब गए। बताया जा रहा है कि लेंटर उठाने की परमिशन नगर निगम से नही ली थी।

लेंटर गिरने के बाद राहत व बचाव में जुटे लाेग। 

लाेगों ने निकाल पांच घायल निकाले

प्रशासन के आने से पहले स्थानीय लाेगों ने निकाल पांच घायल निकाल दिए थे। साथ की फैक्ट्री में काम कर रहे तीन मजदूर भी गंभीर रूप से घायल हाे गए हैं। बचाव कार्य के लिए प्रशासन की ओर से एनडीआरएफ को बुलाया गया है। टीम ने पहुंच कर काम शुरू कर दिया है।