boltBREAKING NEWS
  • भीलवाड़ा हलचल के नाम पर किसी को जबरन विज्ञापन नहीं दें और धमकाने पर सीधे पुलिस से संपर्क करें
  •  
  •  

VIDEO अधेड़ की सड़क किनारे मिली लाश, बेटे ने श्मसान के रास्ते को लेकर विवाद के चलते हत्या की जताई आशंका

VIDEO अधेड़ की सड़क किनारे मिली लाश, बेटे ने श्मसान के रास्ते को लेकर विवाद के चलते हत्या की जताई आशंका

 आसींद मंजूर। दांतड़ा पंचायत के गांव खोकला गांव के एक प्रौढ़ की लाश बीती रात उसके घर से 200 मीटर दूर सड़क किनारे पड़ी मिली। प्रौढ़ शौच जाने की कहकर घर से निकला था। मौके पर संघर्ष के निशान मिलने से परिजनों ने हत्या का आरोप लगाते हुये प्रदर्शन कर कार्रवाई की मांग की। पुलिस अधिकारियों के साथ ही एमओबी व एफएसएल टीमों ने मौके पर पहुंच कर साक्ष्य जुटाये हैं। 
आसींद पुलिस ने हलचल को बताया कि, खोखला निवासी  गोवर्धन (45) पुत्र बन्नालाल गुर्जर अपने बेटे नारायण के साथ बारात में कोलीखेड़ा गया था। गोवर्धन शाम 5 बजे गांव लौट आया। 
उसका बेटा रात दस बजे गांव पहुंचा। उसे पिता गोवर्धन घर पर नहीं मिले। नारायण को उसकी भाभी रुकमणी ने बताया कि पिता शौच जाने के लिए आठ बजे घर से निकले थे, जो वापस नहीं आये। इस पर नारायण ने पिता के मोबाइल पर कॉल किया, लेकिन फोन रिसीव नहीं हुआ। नारायण ने इस संबंध में पुलिस को दी रिपोर्ट में बताया कि उसे शंका होने पर वह, अपने भाई भगवती के साथ पिता की तलाश करते हुये मेफलियास रोड़ पर गये। जहां उसके पिता गोवर्धन की लाश गोबर की रोड़ी पर पड़ी मिली। मोबाइल भी वहीं पड़ा था। जूते खुले हुये थे। मौके पर संघर्ष के निशान थे। नारायण ने इसकी सूचना रिश्तेदारों, ग्रामीणों व पुलिस को दी। 
नारायण ने रिपोर्ट में पिता की हत्या की आशंका जताई है। साथ ही उसने रिपोर्ट में यह भी बताया कि इस हत्या में गांव के ही मेवा पुत्र बालू, श्रवण पुत्र नेनू, हरदेव पुत्र श्रवण, पारस पुत्र खमाण, भैंरू पुत्र जग्गु, मांगू पुत्र बरदा, देवकिशन पुत्र मांगू, जगदीश पुत्र मांगू, रणजीत पुत्र मांगू, नारायण पुत्र मेघा, देबी पुत्र भैंरू और श्रवण पुत्र छोगा आदि शामिल हैं। नारायण का आरोप है कि कुछ दिनों पहले उस पर भी इन लोगों ने हमला किया था। 15-20 दिन से श्मशान के रास्ते को लेकर हो रहे विवाद को लेकर उसके पिता गोवर्धन को जान से खत्म करने की खुली धमकियां भी दे रहे थे। नारायण ने आशंका जताई कि इन्हीं लोगों ने उसके पिता की हत्या की है। इसके अलावा परिवादी व उसके पिता पर पूर्व में हुये हमले को लेकर भी आसींद थाने में एफआईआर दर्ज है। 
उधर, लाश मिलने की सूचना पर डीएसपी रोहित मीणा, सीआई महेंद्र सिंह मय जाब्ता मौके पर पहुंचे और शव को आसींद मोर्चरी में लाकर सुरक्षित रखवाया। सुबह परिजनों ने पुलिस से  एम ओ बी, एफएसएल और डॉग स्क्वायड को टीम मौके पर बुलाने की मांग की। टीमों ने मौके पर पहुंच कर साक्ष्य जुटाये। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवा दिया है। मृतक के बेटे की ओर से दी गई रिपोर्ट के आधार पर जांच शुरू कर दी गई।