boltBREAKING NEWS

VIDEO सुभाषनगर स्कूल के बाहर छात्रों से मारपीट, क्रॉस केस दर्ज

VIDEO सुभाषनगर स्कूल के बाहर छात्रों से मारपीट, क्रॉस केस दर्ज

 भीलवाड़ा हलचल न्यूज. 
शहर के शास्त्रीनगर में मंगलवार रात एक युवक की चाकू मारकर हत्या के  विरोध में भीलवाड़ा बंद है। चारों तरफ पुलिस अलर्ट है। इसके बावजूद समुदाय विशेष के युवक ने साथियों के साथ मिलकर बुधवार दोपहर स्कूृल के चार छात्रों पर पत्थर, कड़े और डंडे से हमला कर दिया। घायल छात्रों को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। उधर, पुलिस का कहना है कि दो छात्रों के बीच कुछ दिनों से विवाद चल रहा था। इसी के चलते आज यह घटना घटी है। 
सुभाषनगर निवासी पीडि़त छात्र श्रवण सिंह 17 पुत्र ओमसिंह ने हलचल को बताया कि  वह सुभाषनगर स्कूल की 11 वीं कक्षा में पढ़ता है। उसके साथ ही चचेरा भाई पवन सिंह, युवराज सिंह व व श्रवण सिंह भी इसी स्कूल की 11 वीं कक्षा के छात्र हैं। स्कूल में 11 वीं क क्षा का आज आखिरी पेपर था। पेपर देने के बाद जब वह स्कूल से बाहर आया तो उसने देखा कि स्कूल में ही 11 वीं कक्षा में पढऩे वाला समुदाय विशेष के एक छात्र  व उसके साथियों ने पवन सिंह व युवराज को मार रहे थे। में व मेरा दोस्त विक्रम बचाव में गये, तो उन्होंने हमारे साथ भी मारपीट कर दी। इन लोगों ने पत्थर, डंडे व कडे से मारपीट की। पत्थर फैंके । मारपीट करने वाले युवकों में से एक के पास चाकू था। चाकू देखकर हम सभी स्कूल में चले गये। प्रिंसीपल को सूचना दी। बाद में मारपीट के चलते चोटें आने से चारों छात्रों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया। उधर, इस घटना के बाद अस्पताल में भीड़ जुट गई। पुलिस ने भी अस्पताल पहुंच कर छात्रों से अलग-अलग पूछताछ कर घटना की जानकारी जुटाई। 

 क्रॉस केस दर्ज
डीएसपी सदर रामचंद्र चौधरी ने कहा कि छात्रों से मारपीट को लेकर देर शाम दोनों पक्षों की ओर से परस्पर केस दर्ज कर लिये गये हैं। इनमें से एक पक्ष की ओर से छात्र के पिता ने, जबकि दूसरे पक्ष की ओर से स्वयं छात्र ने रिपोर्ट दी है। पुलिस इन मामलों की जांच कर रही है। 

इनका कहना है
तीन-चार लड़कों का पिछले 10-15 दिन से विवाद चल रहा था। प्रिंसीपल के पास भी ये लड़के गये थे। आज लास्ट पेपर था। स्कूल से बाहर निकलने के बाद इन छात्रों में आपस में धक्का-मुक्की हो गई थी। कुछ बच्चों को हॉस्पिटल लाया गया है। परिजनों के थाने पहुंचने के बाद एफआईआर देने पर मामला दर्ज कर विधिसम्मत कार्रवाई की जाएगी। मैं भीलवाड़ा के लोगों से अपील करता हूं कि इस घटना को अन्यथा न लें। यह केवल बच्चों का झगड़ा था।
रामचंद्र चौधरी, पुलिस उपाधीक्षक सदर, भीलवाड़ा