boltBREAKING NEWS
  •  
  • भीलवाड़ा हलचल app को अपडेट करें
  •  

एक खास रिश्ता मां-बेटी का पर वेबीनार आयोजित

एक खास रिश्ता मां-बेटी का पर वेबीनार आयोजित

भीलवाड़ा (हलचल)। अखिल भारतीय महिला मंडल के निर्देशन में तेरापंथ महिला मंडल एवं कन्या मंडल भीलवाड़ा के संयुक्त तत्वावधान में मंगलवार को एक खास रिश्ता मां बेटी का विषय पर जूम ऐप पर वेबिनार आयोजित किया गया।
डू नोट ए लेडी बी ए लीजेंड कार्यशाला का शुभारंभ नवकार महामंत्र के उच्चारण से हुआ। इस वेबीनार की मुख्य वक्ता आरटीडी कॉलेज प्रिंसिपल इंदु बाफना ने कहा कि नारी स्वरूप प्रकृति, धरती माता सबसे पहले हमारे लिए प्रेरणादायक है। आज की नारी ने जीवन के हर क्षेत्र में अपनी सफलता का परचम फहराया है। आदर्श चरित्र हो, वीरता हो, भक्ति, साहस और बलिदानों की अमर कहानियां हो, घर परिवार समाज व देश के प्रति दायित्व निर्वहन हो, हर मुकाम पर सफलता अर्जित करती नारी स्वयं के लिए सम्मानीय है। उन्होंने कहा कि मां की ममता, वात्सल्य दुलार के साथ अपनी बेटी को जीवन के क्षेत्र में आए संघर्ष से उभरने की शिक्षा भी दें। सफलता के गुर के साथ असफलता के मायने भी सिखाएं। प्रेरक घटनाओं से  संस्कार सिखाएं ताकि उसका जीवन हर मुश्किल का सामना कर सके।
स्विफ्ट कॉलेज की डायरेक्टर अर्पणा सामसुखा ने कहा कि मां सबके लिए रोल मॉडल होती है, हम भी अपनी बेटी के लिए आज के युग में ऐसे बन सकें इसके लिए जरुरी है कि धैर्य के साथ अपने ईगो को जाने दें, कुछ बातें याद रखें, कुछ भूल जाएं और कुछ बातें  सीखें, मां बेटी के बीच बैलेंस सही होगा तो रिश्ता खूबसूरत बन जाएगा। अपनी बेटी पर अपनी महत्वाकांक्षा न थोपें, बदलते समय के साथ एडजस्ट करना होगा। नए जमाने का सामना करने के लिए तर्क के साथ बेटी को समझाया जाए। हर डिसीजन में उसे शामिल करके उसकी प्रोग्रेस कर सकते हैं।
अध्यक्षा विमला रांका ने वेबीनार में शामिल सभी का स्वागत करते हुए मां बेटी के पावन व पवित्र रिश्ते की महत्ता बताई, दुनिया के  हर रिश्ते से बढ़कर ये रिश्ता जहां सिर्फ  प्यार और प्यार होता है।
मंगलाचरण पुष्पा पामेचा ने किया। कन्या मंडल की ओर से मां बेटी रिश्ते पर भावुक प्रस्तुति दी गई। संचालन मंत्री रेणु चोरडिय़ा ने किया। आभार कन्या मंडल सह संयोजिका मनीषा हिरण ने किया। यह जानकारी मीडिया प्रभारी नीलम लोढ़ा ने दी।