boltBREAKING NEWS

पिता खेत पर फसल  रखवाली में तो किसान पुत्र स्कूल छोड़ यूरिया खाद लेने की करते दिखे मशक्कत

पिता खेत पर फसल  रखवाली में तो किसान पुत्र स्कूल छोड़ यूरिया खाद लेने की करते दिखे मशक्कत

 पारोली BABLU   इन दिनों काश्तकारों को एक तरफ फसल रखवाली की चिंता सता रही है तो दूसरी और समय पर यूरिया खाद लेने की मस्कत।

ऐसा ही रोचक नजाराकस्बे में लड्डा कृषि सेवा केंद्र  पर गुरुवार को यूरिया खाद वितरण के दौरान देखने को मिला।कस्बे में जैसे ही यूरिया खाद आने की सूचना किसानों को मिली तो खाद लेने के लिए महिला-पुरुष किसानों की भीड़ उमड़ पड़ी। भरी ठंड में 4 बजे ही काश्तकार महिला और पुरुषों की खाद लेने हेतु कतार लगना शुरू हो गई।

भीड़ को काबू में करने के लिए कृषि पर्यवेक्षक खेमराज मीणा ने कृषि पर्यवेक्षक कार्यालय पर पर्चियां वितरित की तो उधर लड्डा कृषि सेवा केंद्र पर किसानों की लाइनों में तादाद बढ़ने लग गई थी अधिक भीड़ होने के चलते खाद लेने आए काश्तकारों को खेतों की फसल रखवाली की चिंता सताने लगी ऐसे में सुबह 10 बजे स्कूल पढ़ने जाने वाले  कई किसान पुत्र पिता के निर्देश पर यूरिया खाद लेने हेतु कतार में लगे हुए देखे गए। पुलिसकर्मियों ने कड़ी मशक्कत कर किसानों को लाइनों में लगवाकर खाद वितरण शुरू करवाया।खाद विक्रेता सत्यनारायण लड्ढा ने  बताया कि  690 यूरिया के बैग आए थे जो दोपहर होते-होते  खत्म हो गए।