boltBREAKING NEWS
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  •  

कौन बनेगा ढाई साल का विधायक, फैसला आज: कांग्रेस व भाजपा कर रहे अपने प्रत्याशियों की जीत का दावा, आरएलपी प्रत्याशी भी कतार में

कौन बनेगा ढाई साल का विधायक, फैसला आज: कांग्रेस व भाजपा कर रहे अपने प्रत्याशियों की जीत का दावा, आरएलपी प्रत्याशी भी कतार में

भीलवाड़ा (हलचल)। सहाड़ा विधानसभा उपचुनाव की सारी जद्दोजहद का रविवार को परिणाम आने के साथ खुलासा हो जाएगा। कांग्रेस व भाजपा ने अपने प्रत्याशियों की जीत का दावा किया है वहीं आरएलपी प्रत्याशी भी अपनी जीत की बात कह रहे हैं। सहाड़ा विधानसभा उपचुनाव की मतगणना रविवार सुबह 8 बजे पोलीटेक्नीक कॉलेज में शुरू होगी। इसके साथ ही ढाई साल के लिए चुने जाने वाले सहाड़ा के नए विधायक के नाम की घोषणा होगी।
गौरतलब है कि सहाड़ा विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस से दिवंगत विधायक कैलाश त्रिवेदी की पत्नी गायत्री देवी, भाजपा से डॉ. रतनलाल जाट और आरएलपी (राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी) प्रत्याशी बद्रीलाल जाट सहित कुल आठ प्रत्याशियों की किस्मत दांव पर है। इसका पटाक्षेप रविवार को चुनाव परिणाम घोषित होने के साथ ही हो जाएगा।
1965 के बाद से उपचुनाव में अब तक सहानुभूति कार्ड वाला प्रत्याशी नहीं जीता
राजस्थान में 1965 के बाद हुए उपचुनावों में अब तक किसी भी पार्टी का सहानुभूति कार्ड लेकर चुनाव लडऩे वाला प्रत्याशी नहीं जीता है। अब देखना है कि सहाड़ा विधानसभा उपचुनाव में यह मिथक टूटता है या नहीं। उल्लेखनीय है कि दिवंगत विधायक कैलाश त्रिवेदी का कोरोना से निधन होने के बाद कांग्रेस ने सहानुभूति कार्ड खेलते हुए उनकी पत्नी गायत्री देवी को टिकट दिया।
कांग्रेस, भाजपा व आरएलपी ने की थी ताबड़तोड़ सभाएं, प्रत्याशियों के समर्थन में करवाए थे दिग्गजों के दौरे
सहाड़ा उपचुनाव में कांग्रेस व भाजपा ने प्रत्याशियों के समर्थन में अपने-अपने दलों के दिग्गजों के दौरे करवाए थे। कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थन में खुद सीएम अशोक गहलोत, पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंदसिंह डोटासरा व राजस्थान प्रभारी अजय माकन ने चुनावी सभाओं को संबोधित किया था। इसके अलावा चिकित्सा मंत्री व भीलवाड़ा के प्रभारी मंत्री डॉ. रघु शर्मा भी करीब डेढ़ माह तक यही डेरा डाले रहे। भाजपा ने भी पूरा जोर लगाया और पार्टी के राष्ट्रीय सचिव अरूण सिंह, प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया व पूर्व चिकित्सा मंत्री राजेंद्र सिंह राठौड़ सहित मध्यप्रदेश के सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया आदि के दौरे करवाए। इसके अलावा आरएलपी सुप्रीमो हनुमान बेनीवाल ने भी अपने प्रत्याशी के समर्थन में चुनावी सभाओं को संबोधित किया था।