boltBREAKING NEWS

युवक को खुदकुशी के लिए मजबूर करने की आरोपित पत्नी, सास व ससुर गिरफ्तार

युवक को खुदकुशी के लिए मजबूर करने की आरोपित पत्नी, सास व ससुर गिरफ्तार

 भीलवाड़ा बीएचएन। दस लाख रुपये की मांग, एक्सीडेंट में मरवाने, दहेज के मुकदमे में उलझाने जैसी धमकियां देकर युवक को खुदकुशी के लिए मजबूर करने के मामले में पुर थाना पुलिस ने मृतक की पत्नी व सास-ससुर को गिरफ्तार किया है।  
पुर थाना प्रभारी शिवराज गुर्जर ने बीएचएन को बताया कि तिलकनगर, दादाबाड़ी निवासी रतन लाल 27 पुत्र ज्ञानमल खटीक 16 नवंबर को पुर ओवरब्रिज के यहां पड़ा मिला था। उसने जहरीली वस्तु का सेवन कर रखा था। रतन को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। जहां बाद में  उसने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। थाना प्रभारी ने बताया कि रतन को खुदकुशी के लिए मजबूर करने के आरोप में उसकी पत्नी ज्योति, सास घीसी व ससुर मदन लाल को तफ्तीश के बाद गिरफ्तार कर लिया गया। 

रतन ने ये बयान दिये थे मृत्यु से पहले
थाना प्रभारी का कहना है कि रतन लाल को जिला अस्पताल में भर्ती करवाने के बाद सूचना पर पुर थाने से दीवान भंवरलाल (बेल्ट नंबर 420) जिला अस्पताल पहुंचे और रतन लाल के बयान दर्ज किये। रतन ने पुलिस को दियेे बयान में आरोप लगाया कि उसकी शादी  2020 में ज्योति पुत्री मदन लाल सोलंकी के साथ हूई थी। पत्नी ज्योति के बच्चा होने वाला था। पत्नी को उसके मां -बाप ने बुला कर बिना पूछे अबोर्सन करा दिया। उसके बाद मेरे घर पर पत्नी को नही भेजा। युवक ने आरोप लगाया कि उसके मां -बाप व एक वकील ,पीडि़त रतन लाल को धमकियां देने लगे कि तुझे झुठें दहेज के मुकदमें में उलझा देंगे। हमारी उपर तक बड़ी पंहुच है। तु हमारा कुछ नही बिगाड़ सकता है।  वे, 10 लाख रुपये की मांग कर रहे है। धमकी दे रहे हैं कि रुपये नही दिये तो एक्सीडेंट में मरवा देंगे।  ना ही तेरा दुसरी जगह रिश्ता होने देंगे।  यही धमकियां बार -बार मिल रही थी। रतन लाल ने बयान दिये कि इसी के चलते उसने  परेशान होकर  सेल्फोस की गोली खा ली। रतन ने कहा कि उसकी मृत्यु हो जाती है तो मौत के जिम्मेदार उसकी पत्नी ज्योति, उसकी मां घीसी, उसका पिता मदनलाल एवं इसका वकील होंगे। रतन ने बयान में यह भी कहा कि इनकी वजह से ही उसने आत्म हत्या करने की कोशिश की थी।