boltBREAKING NEWS
  •   दिन भर की वीडियो न्यूज़ देखने के लिए भीलवाड़ा हलचल यूट्यूब चैनल लाइक और सब्सक्राइब करें।
  •  भीलवाड़ा हलचल न्यूज़ पोर्टल डाउनलोड करें भीलवाड़ा हलचल न्यूज APP पर विज्ञापन के लिए सम्पर्क करे विजय गढवाल  6377364129 advt. [email protected] समाचार  प्रेम कुमार गढ़वाल  [email protected] व्हाट्सएप 7737741455 मेल [email protected]   8 लाख+ पाठक आज की हर खबर bhilwarahalchal.com  

शरीर के लिए बहुत फायदेमंद है छाछ, नियमित सेवन से मजबूत रहता है पाचन तंत्र

शरीर के लिए बहुत फायदेमंद है छाछ, नियमित सेवन से मजबूत रहता है पाचन तंत्र

Buttermilk is very beneficial for the body, regular consumption keeps the digestive system strong - Health Tips in Hindi

कुछ ही दिनों में बसंत का आगमन होने वाला है। बसंत के आगमन के साथ ही हमें ठंड से छुटकारा मिलने लगता है और तापमान में कुछ गरमाहट का अहसास होता है। गर्मियों की शुरूआत से ही ठंडी छाछ गर्मियों के लिए एक सुखदायक पेय है। इसके असंख्य स्वास्थ्य लाभ भी हैं। पारंपरिक छाछ दूध की मलाई को मथकर मक्खन बनाने के बाद बचा हुआ अवशेष है। इसे दही में पानी मिलाकर पतला करके भी बनाया जा सकता है। इसे आमतौर पर 'छाछ' के नाम से जाना जाता है। व्यावसायिक रूप से उपलब्ध सुसंस्कृत छाछ बिना वसा वाले दूध को लैक्टिक एसिड पैदा करने वाले बैक्टीरिया के साथ किण्वित करके तैयार किया जाता है। यह पारंपरिक छाछ की तुलना में अधिक चिपचिपा होता है।


गर्मियों के मौसम में लोग ठंडी चीज़ें पीना पसंद करते हैं। कई प्रकार के ठन्डे पेय बाजार में उपलब्ध होते हैं, जिन्हें पीने से गर्मियों में राहत तो मिलती है लेकिन सेहत की दृष्टि से यह चीज़ें सही नहीं मानी जाती लेकिन गर्मियों में छाछ पीना सारे विकल्पों से कहीं अधिक बेहतर है। इसे गर्मियों के लिए सबसे बेहतर पेय माना जाता है, इसे पीने से आपको गर्मी से भी राहत मिलेगी और कई सारे फायदे भी मिलेंगे।

छाछ का पोषण मूल्य

100 मिलीलीटर छाछ लगभग 40 कैलोरी ऊर्जा देती है। मक्खन हटाने के कारण इसमें दूध की तुलना में कम वसा और कम कैलोरी होती है। यह प्रोटीन और कैल्शियम का अच्छा स्रोत है, जो इसे छाछ के पोषण का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनाता है। इसमें सोडियम, पोटेशियम, विटामिन और फॉस्फोरस के अंश भी होते हैं।

घर पर बनी छाछ का स्वाद और स्वास्थ्य लाभ बढ़ाने के लिए इसमें जीरा, पुदीना, धनिया, काला नमक, अदरक, काली मिर्च, हरी मिर्च, चाट मसाला आदि मिलाया जाता है। गर्मियों में, आमतौर पर इसके ऊपर बर्फ के टुकड़े डाले जाते हैं या फ्रिज में रखा जाता है।

घर पर छाछ कैसे बनाएं?

1 कप दूध लें और उसमें 1 बड़ा चम्मच सिरका या नीबू का रस मिलाएं। अच्छी तरह हिलाएं और इसे लगभग 5 मिनट तक ऐसे ही रहने दें। आपका छाछ तैयार है।

फिर छाछ के फायदे और स्वाद को बढ़ाने के लिए छाछ में अपने स्वाद के अनुसार थोड़ा सा तेल, कढ़ी पत्ता, हींग, धनिया, जीरा, काला नमक, काली मिर्च, अदरक, हरी मिर्च, पुदीना आदि डालकर तड़का लगाएं। इसके अतिरिक्त, छाछ की तैयारी करना आसान हो सकता है, इसलिए हमने नीचे कुछ सरल व्यंजनों को सूचीबद्ध किया है। हालाँकि हम छाछ से क्या बनाया जाए इसके बारे में कुछ सुझाव दे रहे हैं, लेकिन अपने आप को इन व्यंजनों तक ही सीमित न रखें और खुद भी नई चीज़ें आज़माएँ:

—अपने पके हुए माल जैसे नींबू केक, चॉकलेट केक और क्रीम-पनीर केक में अतिरिक्त स्वाद के लिए छाछ मिलाएं।

—चाउडर बनाते समय छाछ का उपयोग करें (एक प्रकार का समृद्ध सूप जो आमतौर पर समुद्री भोजन तत्वों के साथ परोसा जाता है), इसे सूप के अंतिम चरण में जोड़ें और वैकल्पिक रूप से स्मोक्ड सैल्मन के साथ स्वाद बनाएं।

—छाछ, शहद, खुबानी, अजवाइन, सिरका, पुदीने की पत्तियां और पनीर के साथ एक शानदार सलाद ड्रेसिंग बनाएं। इसका उपयोग कटे हुए चिकन या अपनी पसंद के किसी अन्य सब्जी-आधारित सलाद पर किया जा सकता है।

—फूले हुए, स्वादिष्ट पैनकेक के लिए अपने नियमित पैनकेक बैटर में पानी या दूध के बजाय बेकिंग सोडा और अनसाल्टेड मक्खन के साथ छाछ मिलाएं। आप वैकल्पिक रूप से इसके ऊपर मेपल सिरप या स्ट्रॉबेरी डाल सकते हैं।

—चाहे आप इसे दुकान से खरीदें या घर का बना छाछ आज़माएँ, इसका उपयोग केवल आपकी रचनात्मकता और प्राथमिकताओं तक ही सीमित है। छाछ एक बहुमुखी, स्वास्थ्यवर्धक और स्वादिष्ट सामग्री है इसलिए आज ही इसका उपयोग शुरू करें!

आइये जानते हैं छाछ पीने के फायदे

शरीर के लिए प्राकृतिक शीतलक

छाछ आश्चर्यजनक रूप से ताजगी देने वाली होती है और हमारे शरीर को तुरंत ठंडा कर देती है। जीरा, पुदीना और नमक के साथ मिला हुआ एक गिलास छाछ, अप्रैल से जुलाई तक की गर्मी के महीनों में हमारी प्यास बुझाने और हमारे शरीर को ठंडा करने के लिए उपयुक्त है। इसके ऊपर बर्फ के टुकड़े भी डाले जा सकते हैं और यह बाजार में उपलब्ध केमिकल युक्त कोल्ड ड्रिंक का एक अच्छा विकल्प साबित होता है। एक गिलास छाछ रजोनिवृत्ति के बाद गर्म चमक का अनुभव करने वाली महिलाओं को भी राहत दे सकता है।

निर्जलीकरण को रोकता है

छाछ दही और पानी का उपयोग करके बनाया जाता है। इसमें लगभग 90 प्रतिशत पानी और पोटेशियम जैसे इलेक्ट्रोलाइट होते हैं। इस प्रकार, छाछ शरीर में पानी का संतुलन बनाए रखने में प्रभावी है और निर्जलीकरण को रोकता है।

पाचन तंत्र के लिए अच्छा है

छाछ हमारे पाचन तंत्र के लिए वरदान है। छाछ में स्वस्थ बैक्टीरिया और लैक्टिक एसिड पाचन में मदद करते हैं और हमारे चयापचय में सुधार करते हैं। यह नियमित मल त्याग को बनाए रखने में भी मदद करता है और कब्ज से पीड़ित लोगों की मदद करता है। छाछ इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम (आईबीएस) के इलाज में भी सहायक है। यह पेट के संक्रमण, लैक्टोज असहिष्णुता और पेट के कैंसर को रोकने में भी मदद करता है।

ऊर्जा को बढ़ावा देता है

यह अधिक ऊर्जा प्रदान करता है और आपको पूरे दिन सक्रिय रखता है। छाछ में मौजूद राइबोफ्लेविन एक विटामिन बी है जो आपके शरीर की ऊर्जा उत्पादन प्रणालियों के लिए महत्वपूर्ण है। यह आपके शरीर के अमीनो एसिड को विनियमित करने में भी मदद करता है, जो प्रोटीन बनाते हैं।

हड्डियों और दांतों के लिए अच्छा है

छाछ कैल्शियम का अच्छा स्रोत है। 100 मिलीलीटर छाछ में लगभग 116 मिलीग्राम कैल्शियम होता है। स्वस्थ कंकाल प्रणाली के लिए कैल्शियम आवश्यक है। यह हमारी हड्डियों और दांतों को मजबूत बनाता है। कैल्शियम ऑस्टियोपोरोसिस जैसी अपक्षयी हड्डी रोगों को रोकने में मदद करता है।


एसिडिटी से राहत दिलाता है

तैलीय और मसालेदार भोजन अक्सर एसिड रिफ्लक्स और सीने में जलन का कारण बन सकते हैं। काली मिर्च और धनिये के साथ एक गिलास छाछ पीने से एसिडिटी के लक्षणों से तुरंत राहत मिलती है। छाछ में मौजूद लैक्टिक एसिड पेट में एसिडिटी को सामान्य करता है और सुखदायक प्रभाव देता है।

कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद मिल सकती है

नियमित रूप से छाछ पीने से रक्त में कोलेस्ट्रॉल के स्तर और ट्राइग्लिसराइड्स को कम करने में मदद मिलती है। इस प्रकार यह हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है।

रक्तचाप को कम कर सकता है

छाछ का नियमित सेवन रक्तचाप को प्रभावी ढंग से कम करता है और इस प्रकार उच्च रक्तचाप और हृदय रोगों के रोगियों को मदद करता है। छाछ में मौजूद पोटैशियम भी रक्तचाप को कम करता है।

इम्यूनिटी के लिए अच्छा है

रोजाना छाछ पीने से हमारा इम्यून सिस्टम मजबूत होता है और हम कई तरह के संक्रमणों से बचे रहते हैं।

हमारी त्वचा के लिए अच्छा है

छाछ में मौजूद प्रोबायोटिक्स हमारे पाचन को सही रखते हैं और इस तरह हमारे शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करते हैं। छाछ में मौजूद लैक्टिक एसिड हमारी त्वचा के लिए अच्छा होता है। छाछ हमारी त्वचा को चमकदार बनाए रखता है और एक बेहतरीन त्वचा क्लींजर और टोनर है। यह टैन, मुंहासों के दाग और दाग-धब्बे हटाने में भी मदद करता है। यह हमारी त्वचा को मॉइस्चराइज़ और चमकदार बनाता है, जिससे उम्र बढ़ने में देरी होती है। छाछ के ये सभी फायदे इसे हमारी त्वचा के लिए वरदान बनाते हैं।

विटामिन से भरपूर

छाछ बी कॉम्प्लेक्स विटामिन और विटामिन डी से भरपूर है। विटामिन बहुत महत्वपूर्ण हैं और हमारे शरीर को कई तरह से मदद करते हैं।

वजन घटाने में मदद करता है

छाछ प्रोटीन, विटामिन और कई खनिजों से भरपूर है लेकिन कैलोरी और वसा कम है। छाछ पीने से हम हाइड्रेटेड और ऊर्जावान रहते हैं। यह हमें पेट भरा हुआ महसूस कराता है, जिससे जंक फूड की अनावश्यक खपत कम हो जाती है। यह उन लोगों के लिए एक आदर्श पेय है जो अपना वजन कम करना चाहते हैं।

विषहरण में मदद करता है

छाछ में राइबोफ्लेविन होता है जो भोजन को ऊर्जा में परिवर्तित करने में मदद करता है जिसका उपयोग शरीर द्वारा विभिन्न कार्यों को करने के लिए किया जा सकता है। यह कुछ हार्मोनों के स्राव में भी मदद करता है, लीवर के कार्य में सुधार करता है और शरीर के विषहरण की सुविधा प्रदान करता है।

ऊपर बताए गए फायदों के अतिरिक्त छाछ पीने से हमें यह फायदे भी होते हैं—

1. छाछ नाश्ते के साथ तथा दिन के भोजन ( लंच ) के बाद नियमित रूप से पीनी चाहिए। इससे शरीर में ऊर्जा बनी रहती है।


2. नियमित रूप से छाछ पीने से कब्ज ठीक होती है। छाछ में सेंधा नमक, भुना पिसा जीरा, पिसी काली मिर्च और पोदीना मिलाकर पीने से आंतों की सूजन ठीक हो जाती है।


3. उल्टी आने या जी मचलाने पर छाछ में जायफल घिसकर इसके मिश्रण को पीने से लाभ मिलता है। त्वचा के लिए छाछ बेहद फायदेमंद चीज है, छाछ में आटा मिलाकर बनाए गए लेप को लगाने से त्वचा की झुर्रियां कम होती हैं।


4. छाछ में शहद मिलाकर नित्य पीने से पीलिया में लाभ होता है।


5. गर्मी से शरीर में पानी की कमी हो जाती है इसलिये ऐसे में आपको छाछ का सेवन करना चाहिये। इससे कब्ज की समस्या भी दूर होती है।


6. छाछ का नियमित सेवन ब्लड प्रेशर (रक्तचाप) को कंट्रोल करता है, हृदय रोग में भी नित्य छाछ पीने से लाभ होता है।


7. छाछ का सेवन वजन घटाने में भी उपयोगी है, छांछ में मौजूद गुणों से पेट के अंदर के कीडे़ नष्ट हो जाते हैं जिससे शरीर का वजन घटने लगता है।


8. भोजन करने के बाद छाछ पीने से शरीर की दुर्बलता दूर होती है और वीर्य-वृद्धि भी होती है।

आलेख में दी गई जानकारियों को लेकर हम यह दावा नहीं करते कि यह पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।