boltBREAKING NEWS

वजन कम करने से लेकर डायबिटीज कंट्रोल तक, ठंड में चने के साग खाने के ये 6 फायदे

वजन कम करने से लेकर डायबिटीज कंट्रोल तक, ठंड में चने के साग खाने के ये 6 फायदे

 चना साग सर्दी के मौसम में बाजारों में नजर आता है। इसे अगर सही तरीके से बनाकर खाया जाए तो स्वाद के साथ-साथ सेहत के लिए भी कई तरह के फायदे पहुंचाता है। इसमें विटामिन ए, सी और के , कैल्शियम, आयरन और पोटेशियम पाया जाता है। इसके अलावा फाइबर का भी यह अच्छा सोर्स है। इम्युन सिस्टम को मजबूत करने से लेकर इसके कई फायदे हैं । तो चलिए बताते हैं चने के साग खाने से क्या-क्या बेनिफिट्स मिलते हैं।

पाचन हेल्थ को करता है मजबूत

हरे चने के साग में मौजूद आहार फाइबर नियमित मल त्याग को बढ़ावा देकर और कब्ज को रोककर बेहतर पाचन स्वास्थ्य में योगदान कर सकता है। फाइबर स्वस्थ आंत माइक्रोबायोम को भी हेल्दी रखता है।

एंटीऑक्सीडेंट गुण से भरपूर

साग एंटीऑक्सीडेंट गुण से भरपूर होता है। जो शरीर में ऑक्सीडेटिव तनाव और सूजन से निपटने में मदद करते हैं। एंटीऑक्सिडेंट कोशिकाओं को फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसान से बचाने में मदद करता है।

डायबिटीज को करता है कंट्रोल

कुछ स्टडी में पता चला है कि हरे चने के साग खान से ब्लड शुगर को कंट्रोल किया जा सकता है। फाइबर बेहतर ब्लड कंट्रोल करने में योगदान दे सकती है। डायबिटीज पेशेंट को चना साग खाना चाहिए, लेकिन मात्रा कम होनी चाहिए। 

वेट लॉस में करता है मदद

हरे चने के साग में मौजूद फाइबर तृप्ति की भावना प्रदान कर सकता है। जिसकी वजह से पेट भरा महसूस होता है। कम खाने की लालसा से वेट लॉस में मदद मिलती है।

हार्ट हेल्थ का रखता है ख्याल

हरे चने के साग में पोटेशियम और अन्य हृदय-स्वस्थ पोषक तत्वों की उपस्थिति ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है। हार्ट डिजिज के जोखिम को कम करने में मदद करता है।

सूझन रोधी गुण

हरे चने के साग में सूजन-रोधी गुण होते हैं, जो शरीर में सूजन से संबंधित स्थितियों के लिए फायदेमंद हो सकते हैं। इसके सेवन से पुरानी बीमारियों का जोखिम कम होता है। पुराने दर्द में राहत मिलती है।