boltBREAKING NEWS

चमचमाते एक्सप्रेस-वे, विश्वस्तरीय रेलवे और आधुनिक एयरपोर्ट नए साल में बनाएंगे सफर सुहाना

चमचमाते एक्सप्रेस-वे, विश्वस्तरीय रेलवे और आधुनिक एयरपोर्ट नए साल में बनाएंगे सफर सुहाना

 

आपको घूमने का शौक हो या काम के सिलसिले में सफर करना पड़ता हो 2023 में आपकी यात्रा का अनुभव बेहतर होने वाला है। आपके सफर को बेहतर और सुरक्षित बनाने के लिए सरकार कई मोर्चां पर काम कर रही है। आपको घूमने का शौक हो या काम के सिलसिले में सफर करना पड़ता हो, 2023 में आपकी यात्रा का अनुभव बेहतर होने वाला है। आप ट्रेन से सफर करते हैं तो आपको भारत की पहली सेमी हाई स्पीड ट्रेन वंदे भारत एक्सप्रेस कई रूटों पर चलती दिखेगी। वहीं अगर आपको हवाई सफर पसंद है तो उड़ान स्कीम के तहत चलाई जा रही उड़ानों के जरिए आप अपने घर के करीब तक सफर कर सकेंगे। वहीं ड्राइविंग का शौक है तो आधुनिक सुविधाओं से लैस नए राष्ट्रीय राजमार्ग आपके सफर को और सुरक्षित और मजेदार बनाएंगे।

 

 

हाल ही में केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि भारत को समृद्ध बनाने के लिए वह सुनिश्चित करेंगे कि दिसंबर 2024 से पहले भारत का रोड इंफ्रास्ट्रक्चर बिलकुल अमेरिका जैसा हो। देश की दिन प्रतिदिन बेहतर होती परिवहन व्यवस्था और 2023 की उम्मीदों को लेकर हमने एक्सपर्ट्स - उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल, पूर्व रेलवे के महाप्रबंधक अरुण अरोड़ा, एयर इंडिया के पूर्व सीएमडी रोहित नंदन, पटना इंटरनेशनल एयरपोर्ट के पूर्व एयरपोर्ट डायरेक्टर अरविंद दुबे, सेंटर फॉर एविएशन पॉलिसी सेफ्टी एंड रिसर्च संस्था के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर ऋषिकेश मिश्रा, सेंट्रल रोड रिसर्च इंडस्टीट्यूट के पूर्व निदेशक और आईआईटी रुड़की के प्रोफेसर सतीश चंद्रा, सेंट्रल रोड रिसर्च इंस्टीट्यूट के चीफ साइंटिस्ट एवं टैफिक डिवीजन के हेड एस वेलमुरुगन से बातचीत की।

 

 

रेलवे में सफर होगा विश्व स्तरीय

विशेषज्ञों के मुताबिक 2023 में ट्रेन में सफर का अनुभव काफी बदला हुआ होगा। भारतीय रेलवे वंदे भारत एक्सप्रेस को देश के कई महत्वपूर्ण रूटों पर शुरू कर सकती है। अब तक देश में 7 रूटों पर पहले ही वंदे भारत ट्रेनें चलाई जा चुकी हैं। हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हावड़ा से न्यू जलपाईगुड़ी के बीच वंदेभारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई। खबरों के मुताबिक सरकार 300 से 400 वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनें चलाने को लेकर बजट 2023-24 में ऐलान कर सकती है। सरकार अब तक कुल 75 वंदे भारत ट्रेन को मंजूरी दे चुकी है।

 

 

हाल ही में रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि अगले तीन साल में लगभग 475 वंदे भारत ट्रेन तैयार करने की योजना पर काम कर रही है।

उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल के मुताबिक उत्तर रेलवे ने हाल ही में ऊना (हिमाचल)-नई दिल्ली वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनें शुरू कीं। इससे राज्यों की अर्थव्यवस्था और पर्यटन क्षेत्रों को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी। दिल्ली से पहले ही बनारस और जम्मू के लिए ये ट्रेनें चलाई जा रही हैं। 2023 में अपने रेलवे स्टेशनों को बड़े पैमाने पर रिवैम्प करने का लक्ष्य रखा है। राष्ट्रीय हरित हाइड्रोजन मिशन और नेट जीरो कार्बन एमिशन पर भी तेजी से काम किया जाएगा। भारत सरकार की "वन स्टेशन वन प्रोडक्ट" पहल के तहत, उत्तर रेलवे ने अपने 94 स्टेशनों पर उत्कृष्ट स्थानीय शिल्प, कलाकृतियों और खाद्य पदार्थों को प्रदर्शित करने वाले स्टालों की स्थापना की है। उत्तर रेलवे ने "गति शक्ति कार्गो टर्मिनल" का विकास कार्य भी शुरू किया है। उत्तर रेलवे ने 118 किमी पर ट्रेन टक्कर बचाव प्रणाली - कवच लगाई है।