boltBREAKING NEWS
  •   दिन भर की वीडियो न्यूज़ देखने के लिए भीलवाड़ा हलचल यूट्यूब चैनल लाइक और सब्सक्राइब करें।
  •  भीलवाड़ा हलचल न्यूज़ पोर्टल डाउनलोड करें भीलवाड़ा हलचल न्यूज APP पर विज्ञापन के लिए सम्पर्क करे विजय गढवाल  6377364129 advt. [email protected] समाचार  प्रेम कुमार गढ़वाल  [email protected] व्हाट्सएप 7737741455 मेल [email protected]   8 लाख+ पाठक आज की हर खबर bhilwarahalchal.com  

क्षमता से ज्यादा सामान और यात्री करते हैं सफर, तो कार को होगा बड़ा नुकसान, जानें डिटेल

क्षमता से ज्यादा सामान और यात्री करते हैं सफर, तो कार को होगा बड़ा नुकसान, जानें डिटेल

अगर आप भी अपनी कार में क्षमता से ज्यादा सामान या यात्री लेकर सफर करते हैं। तो कार को बड़ा नुकसान होता है। किस तरह के नुकसान होते हैं। आइए जानते हैं। कार में हमेशा ज्यादा सामान या यात्रियों के साथ सफर करना मुश्किल तो होता ही है। साथ ही इससे आपकी कार की उम्र भी कम होने लगती है। हम इस खबर में आपको बता रहे हैं कि कार में क्षमता से ज्यादा सामान या यात्रियों के कारण क्या नुकसान होते हैं।

कार के लिए होता है खराब
कभी भी कार में सफर करते हुए क्षमता से ज्यादा सामान या यात्रियों के साथ सफर नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से न सिर्फ आपके सफर में मुश्किल होती है। बल्कि इससे कार को भी बड़ा नुकसान होता है। कंपनियों की ओर से कार को एक निश्चित वजन उठाने के लिए बनाया जाता है। लेकिन इससे ज्यादा वजन होने के कारण कार में कई नुकसान होते हैं। इसके साथ ही नियमों का उल्लंघन करने के कारण पुलिस की ओर से भी चालान काटा जा सकता है।

यह भी पढ़ें - Car Care Tips: रात में कार को है चलाना, तो रखें इन बातों का ध्यान, नहीं होगी परेशानी, जानें डिटेल

बॉडी पर असर
क्षमता से ज्यादा सामान या यात्रियों के साथ सफर करने के कारण कार की बॉडी पर काफी ज्यादा असर होता है। किसी भी कार की बॉडी और चेसिस एक निश्चित क्षमता तक का ही वजन उठा सकती है। लेकिन उससे ज्यादा वजन होने के कारण बॉडी और चेसिस के फ्रेम में दरार आने का खतरा बढ़ जाता है। एक बार ऐसा हो जाता है तो सफर पूरा करना तो मुश्किल होता ही है साथ ही उसे ठीक करवाने में समय और पैसे दोनों खर्च होते हैं।

 इंजन को नुकसान
क्षमता से ज्यादा वजन के साथ सफर करने के कारण सिर्फ बॉडी और चेसिस को ही नुकसान नहीं होता। बल्कि ऐसा करने से कार के इंजन पर भी बुरा असर होता है। जब क्षमता से ज्यादा वजन के साथ सफर किया जाता है। तो कार के इंजन को भी अपनी क्षमता से ज्यादा काम करना पड़ता है। ऐसा होने के कारण इंजन के अंदरूनी पार्ट्स जल्दी घिसने लगते हैं और लंबे समय तक ऐसा होने के कारण इंजन खराब भी हो जाता है।

 सस्पेंशन में खराबी
कार के सस्पेंशन को भी एक निश्चित वजन सहने के लिए बनाया जाता है। लेकिन जब कार में जरुरत से ज्यादा सामान या यात्रियों को बिठाकर सफर किया जाता है। तो हर तरह की सड़क पर चलने के कारण कार कार सस्पेंशन भी खराब हो जाता है। जिससे सफर करने में ज्यादा परेशानी होती है।