boltBREAKING NEWS

संत समागम शुरू, शिव महापुराण कथा का समापन, शुक्रवार को रुद्र महायज्ञ की पूर्णाहुति

संत समागम शुरू,  शिव महापुराण कथा का समापन,  शुक्रवार को रुद्र महायज्ञ की पूर्णाहुति

 पुर BHN.

उपनगर पुर श्री कानुडा बालाजी महाराज पुर के प्रांगण में श्री श्री 1008 खुशाल भारती जी महाराज के चातुर्मास के दौरान 51 दिवसीय रुद्र महायज्ञ श्री शिव महापुराण कथा का आयोजन किया जा रहा है गुरुवार 22 सितंबर को संत समागम रखा गया है जिसमें देश विदेश से हजारों संत कानुडा पंचमुखी बालाजी पुर पहुंचे ।

 खुशाल भारती जी महाराज के सानिध्य में चल रही शिव महापुराण कथा के मध्य वृंदावन धाम से पधारे अंतरराष्ट्रीय युवा संत आचार्य श्री सुशील महाराज ने शिव चरित्र पर प्रकाश डालते हुए कहा कि भगवान शिव से बड़ा अवंदर  दानी कोई और नहीं जीवन में आने वाले सभी कष्टों को मिटाने की क्षमता भगवान रुद्र में है "भाविहु मैट सकही त्रिपुरारी"

आज कथा में द्वादश ज्योतिर्लिंग एवं कौन सी राशि को किस ज्योतिर्लिंग का दर्शन करना चाहिए बताया गया। शिव जी के दर्शन मात्र से जीव का कल्याण है  

इस आयोजन में हजारों की संख्या ने भक्तगण पहुंचे।

23 सितंबर 2022 को महा संतो के दर्शन एवं 51 दिवसीय रूद्र महायज्ञ की पूर्णाहुति एवं विशाल भंडारे का आयोजन होगा। गुरुवार रात्रि को एक विशाल कंपटीशन भजन संध्या का आयोजन रखा गया। आने वाले संतों में भक्तजनों की सेवा कार्य चतुर्मास सेवा समिति व महाकाल सेना तथा अन्य सेवा भावी भक्तों ने अपनी सेवाएं दी।