boltBREAKING NEWS
  • भीलवाड़ा हलचल के नाम पर किसी को जबरन विज्ञापन नहीं दें और धमकाने पर सीधे पुलिस से संपर्क करें
  •  
  •  

 जेल में सर्च- बैरक की तलाशी में  सरस छाछ की थैली में मिला मोबाइल, मचा हड़कंप

 जेल में सर्च- बैरक की तलाशी में  सरस छाछ की थैली में मिला मोबाइल, मचा हड़कंप

 भीलवाड़ा प्रेमकुमार गढ़वाल। भीलवाड़ा जिला कारागृह से बुधवार को तलाशी के दौरान एक मोबाइल फोन बरामद हुआ हैं। यह मोबाइल दो बंदियों के बिस्तर में सरस छाछ की खाली थैली में लिपटा हुआ था। इन दो बंदियों ने जेल प्रशासन की पूछताछ में जेल की ही एक अन्य बैरक में बंद विचाराधीन बंदी का होने की बात कबूल की है। उधर, जेल में मोबाइल मिलने से जेल स्टॉफ में खलबली मच गई, वहीं बंदियों में भी हड़कंप मचा रहा। फिल्हाल कोतवाली पुलिस ने मोबाइल जब्त कर एफआईआर दर्ज कर ली। 
शहर कोतवाली पुलिस ने हलचल को बताया कि जेल प्रहरी नंदलाल पुत्र छीतरलाल जाट ने एक रिपोर्ट पेश की। इसके अनुसार, बुधवार सुबह 11 से 12.5 बजे तक जेल की बैरक संख्या 6 की अंदर व बाहर की आकस्मिक तलाशी ली गई। यह तलाशी जेल अधीक्षक के नेतृत्व में उपकारापाल अभिषेक ओला, आरएससी, जेल स्टॉफ संतरी की मदद से ली गई। 
इस दौरान बैरक नंबर 6 के विचाराधीन बंदी सोनू उर्फ सूल्तान पुत्र फरीद मोहम्मद व सिकंदर उर्फ लॉटरी पुत्र मोहम्मद आजाद के एक साथ लगे बिस्तर जो कि बांयी और लगे हुये थे। इस दौरान दोनों बंदी खाना खा रहे थे। प्रहरी सेवाराम ने दोनों बंदियों की सघन तलाशी ली गई। इसके बाद इन बंदियों के लगे हुये बिस्तर से प्रहरी सेवाराम को सरस छाछ की खाली थैली में लिपटा हुआ बरामद किया। प्रहरी सेवाराम ने यह मोबाइल जेल अधीक्षक को सुपुर्द किया। सैमसंग कंपनी के इस काले-भूरे रंग मोबाइल टूटी हुई सिम कार्ड व मय बैट्री के था। इसके चलते जेल अधीक्षक ने उक्त दोनों बंदी सोनू उर्फ सूल्तान व सिकंदर उर्फ लॉटरी से बरामद मोबाइल के बारे में कड़ाई से पूछताछ की। इस पर दोनों बंदियों ने उक्त  बरामद मोबाइल बैरक नंबर एक के विचाराधीन बंदी अजयसिंह उर्फ छोटूसिंह पुत्र रमेश सिंह का होना बताया। जेल अधीक्षक ने प्रहरी नंदलाल को मय मोबाइल रिपोर्ट देकर मुकदमा दर्ज कराने कोतवाली भेजा। पुलिस ने इस रिपोर्ट पर एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी।