boltBREAKING NEWS

साइलेंट हार्ट अटैक के ये 3 चेतावनी के संकेत

साइलेंट हार्ट अटैक के ये 3 चेतावनी के संकेत

 फिल्मों में आपने अक्सर देखा होगा कि दिल का दौरा पड़ने पर इंसान काफी ड्रामैटिक हो जाता है, सीने को जकड़कर गिर जाता है। हालांकि, असल ज़िंदगी में दिल का दौरा बिना किसी संकेत के आ सकता है। इसलिए इसे जानलेवा माना जाता है। ज़्यादातर लोग इसके संकेतों को पहचान नहीं पाते या लक्षणों को नज़रअंदाज़ कर देते हैं।

हालांकि, साइलेंट हार्ट अटैक के कुछ संकेत हैं, जो खासतौर पर सुबह के वक्त महसूस हो सकते हैं। इनके बारे में जानना और इन पर नज़र रखकर फौरन इलाज कराना ज़रूरी है। तो आइए जानें इन लक्षणों के बारे में:

रात में सोते समय खूब पसीना आना

अगर आपकी धमनियों में किसी तरह की रुकावट आती है, तो पूरे शरीर में रक्त को पहुंचाने के लिए आपके हृदय पर मेहनत करने का अधिक दबाव पड़ता है। जब ऐसा होता है, तो शरीर को शरीर का तापमान कम रखने के लिए पसीने की मदद लेनी पड़ती है। अगर आप रात में सोते वक्त या फिर सुबह उठने के वक्त पसीने का अनुभव करते हैं, तो आपको डॉक्टर से सलाह ज़रूर करनी चाहिए।

मतली महसूस होना

मतली के साथ ही दिल का दौरा पड़ने से पहले आप पाचन में हल्की दिक्कत और गेस्ट्रो से जुड़ी समस्या का अनुभव कर सकते हैं। ऐसे में ज़रूरी है कि इस तरह के लक्षणों को हल्के में न लिया जाए, और एंटासिड खाने से पहले डॉक्टर से सलाह लें। खासतौर पर उम्रदराज़ लोग जो अक्सर पाचन से जुड़ी दिक्कतों से जूझते हैं, वे सीने में जलन या खाने से संबंधित समस्या समझकर हार्ट अटैक के इन संकेतों को नज़रअंदाज़ कर सकते हैं।

उल्टी आना

मतली के साथ पेट दर्द भी हो सकता है, साथ ही कुछ लोगों को उल्टी भी हो सकती है। जब आप उल्टी करते हैं, तो पेट में मौजूद सभी चीज़ें तेज़ी से भोजन नली के माध्यम से और मुंह से बाहर निकल जाती हैं। उल्टी होना सेहत के लिए सही नहीं है, इसलिए डॉक्टर को ज़रूर दिखाएं। लोग आमतौर पर इन संकेतों को फ्लू समझकर इग्नोर कर सकते हैं। हालांकि, अगर आप शरीर पर ध्यान दें तो आपको समझ आएगा कि यह आम लक्षण नहीं हैं।

 दिल के दौरे के दूसरे आम लक्षण

हार्ट अटैक के सबसे आम लक्षणों में सीने में दर्द या अचानक बेचैनी महसूस होना है, जो ठीक नहीं होती। इसमें आपको सीने में दबाव या कसा हुआ या फिर भारीपन महसूस हो सकता है। कुछ लोग दर्द महसूस कर सकते हैं, जो उल्टे हाथ से सीधे हाथ, गर्दन, जबड़े, पीठ और पेट तक पहुंच सकता है। चक्कर आना या सांस लेने में दिक्कत होना भी दिल के दौरे का संकेत हो सकता है।

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।