boltBREAKING NEWS

संभाग स्तरीय गांधी दर्शन प्रशिक्षण शिविर के लिए कल रवाना होंगे प्रशिक्षणार्थी

संभाग स्तरीय गांधी दर्शन प्रशिक्षण शिविर के लिए कल रवाना होंगे प्रशिक्षणार्थी

भीलवाड़ा BHN
शांति एवं अहिंसा निदेशालय जयपुर के माध्यम से महात्मा गांधी दर्शन प्रशिक्षण शिविर संभाग स्तर पर 25 जून से 27 जून 2022 तक शिविर स्थल महर्षि दयानन्द सरस्वती विश्वविद्यालय, अजमेर में आयोजित किया जायेगा।
जिला कलक्टर आशीष मोदी के निर्देशानुसार भीलवाड़ा जिले से भी इस शिविर में भाग लेने के लिए प्रत्येक उपखण्ड से 7-7 गैर सरकारी सदस्य/प्रशिक्षणार्थी भाग लेंगे जिनका चयन किया जा चुका है। अजमेर संभाग के समस्त उपखण्डों से प्रशिक्षणार्थी 24 जून को प्रशिक्षण स्थल पर पहुंचेंगे।
महात्मा गांधी जीवन दर्शन समिति के जिला संयोजक अक्षय त्रिपाठी ने बताया कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के जीवन दर्शन, सिद्धान्तों एवं विचारों तथा राजस्थान सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने के उद्देश्य से महात्मा गांधी प्रशिक्षण शिविर अजमेर संभाग मुख्यालय पर आयोजित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि गांधी दर्शन को जीवनदर्शन बनाने के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम को जन कार्यक्रम बनाए जाने की आवश्यकता है।
अजमेर संभाग में 25 से 27 जून तक महात्मा गांधी दर्शन प्रशिक्षण शिविर आयोजन करने हेतु महर्षि दयानन्द सरस्वती विश्वविद्यालय अजमेर का चयन किया गया है। जहां पर बसों के माध्यम से प्रशिक्षणार्थियों को लाया तथा ले जाया जायेगा। मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद डॉ शिल्पा सिंह द्वारा प्रशिक्षणार्थियों के शिविर स्थल पर लाने लेे जाने के लिए परिवहन व्यवस्था की गई है। आवास एवं ठहरने की व्यवस्था के लिए विश्वविद्यालय परिसर के रविन्द्र नाथ टैगोर हॉस्टल एवं सीबीएसएम हॉस्टल एवं प्रशिक्षण स्थल के रूप में स्वराज हॉल/कक्ष का चयन किया गया है। प्रशिक्षण शिविर आयोजित करने हेतु सभी व्यवस्थाएं यथा पानी, बिजली, साफ-सफाई, भोजन, आवास, परिवहन आदि की जा चुकी है।
26 जून को शाम 6.30 से 7 बजे तक मदार गेट अजमेर पर सर्वधर्म सद्भावना प्रार्थना सभा का आयोजन किया जाएगा। इसमें गैर सरकारी संगठनों, शिक्षा संस्थानों, एनएसएस, एनसीसी एवं स्काउट गाइड की सहभागिता ली जाएगी। इससे युवाओं में गांधी दर्शन के प्रति समझ विकसित होगी तथा राज्य सरकार द्वारा संचालित गांधी दर्शन आधारित योजनाओं पर प्रशिक्षण के दौरान विशेष जोर दिया जायेगा। प्रशिक्षण के दौरान अलग-अलग थीम पर आधारित गतिविधियां होंगी।